लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

विज्ञापन
Hindi News ›   India News ›   26/11 Mumbai Attacks: President Draupadi Murmu PM Modi Jaishankar and Political Leaders Pay Tribute to Victims

Mumbai Terror Attacks: राष्ट्रपति मुर्मू ने 26/11 के शहीदों को किया याद, पढ़ें जयशंकर समेत किसने क्या कहा

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली Published by: अभिषेक दीक्षित Updated Sat, 26 Nov 2022 02:09 PM IST
सार

विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने हमले में जान गंवाने वाले लोगों को याद किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि जिन लोगों ने इस हमले की योजना बनाई उन्हें न्याय के कठघरे में लाया जाना चाहिए।

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू
राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू - फोटो : ANI

विस्तार

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में 26 नवंबर 2008 को हुए आतंकी हमले की शनिवार को 14वीं बरसी है। इस आतंकी हमले में आतंकियों ने 160 से ज्यादा लोगों की जान ले ली थी। इस बीच राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने मुंबई हमलों के पीड़ितों को याद किया। उन्होंने कहा कि 26/11 की बरसी पर देश उन सभी को कृतज्ञता के साथ याद कर रहा है, जिन्हें हमने खोया। हम उनके प्रियजनों और परिवारों के दर्द को साझा करते हैं। राष्ट्र उन सुरक्षाकर्मियों को श्रद्धांजलि देता है, जिन्होंने कर्तव्य के पालन में बहादुरी से लड़ाई लड़ी और सर्वोच्च बलिदान दिया।



प्रधानमंत्री मोदी ने भी दी श्रद्धांजलि
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी 26/11 मुंबई हमले में जान गंवाने वालों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा, आज मुंबई आतंकी हमले की बरसी है। 14 साल पहले जब भारत अपने संविधान और नागरिकों के अधिकारों का जश्न मना रहा था, मानवता के दुश्मनों ने भारत पर सबसे बड़ा आतंकी हमला किया। मैं उन लोगों को श्रद्धांजलि देता हूं जिन्होंने इस हमले में अपनी जान गंवाई।



विदेश मंत्री जयशंकर ने किया याद
विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने भी हमले में जान गंवाने वाले लोगों को याद किया और उन्हें श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि आतंकवाद से मानवता को खतरा है। भारत समेत पूरी दुनिया 26/11 हमलों में जान गंवाने वाले लोगों को श्रद्धांजलि दे रही है। पूरी दुनिया पीड़ितों के परिवार के साथ खड़ी है। जिन लोगों ने इस हमले की योजना बनाई उन्हें न्याय के कठघरे में लाया जाना चाहिए। हम दुनिया भर में आतंकवाद के हर पीड़ित के प्रति संवेदनाएं हैं।

 



महाराष्ट्र: राज्यपाल, सीएम-डिप्टी सीएम ने दी श्रद्धांजलि

महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, सीएम एकनाथ शिंदे और डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने पुलिस मेमोरियल पर पुष्पांजलि अर्पित की। उन्होंने हमले के दौरान जान गंवाने वाले लोगों को श्रद्धांजलि दी।

असम के मुख्यमंत्री ने भी किया ट्वीट
असम के मुख्यमंत्री हिमंता विश्व सरमा ने ट्वीट किया, आज ही के दिन 14 साल पहले मुंबई में हुए कायराना आतंकी हमले में कई मासूमों की जान चली गई थी। नृशंस आतंकी हमले में जान गंवाने वाले हमारे सुरक्षा बलों के वीरतापूर्ण शौर्य को सलाम। राष्ट्र उनके बलिदान का ऋणी रहेगा।

विज्ञापन

हमले में शहीद की बेटी ने कही यह बात
मुंबई 26/11 आतंकी हमले में वीर गति को प्राप्त विजय सालस्कर की बेटी दिव्या सालस्कर ने कहा कि मैं इसको याद नहीं करना चाहती, लेकिन यह हर जगह है इसलिए ऐसा नहीं हो पाता। शहर के लोगों ने करुणा दिखाई है जिसकी वजह से मेरी मां और मुझ को जीने की शक्ति मिली। 

26/11 आतंकी हमले में वीरगति को प्राप्त जयवंत पाटिल की भतीजी अदिति वारखाडे ने कहा कि उस समय मैं बहुत छोटी थी लेकिन मेरे मां-पापा पूरी रात जागे थे। इतने साल हो गए लेकिन फिर भी वह(याद) भुलाई नहीं जाती। उस समय उनके बेटे-बेटी भी बहुत छोटे थे। हमारी सरकार ने इतनी बातें याद रखी जो अच्छी बात है।

शहीद की मां ने कही यह बात
मुंबई 26/11 आतंकी हमले में वीर गति को प्राप्त विजय खांडेकर की मां निर्मला खांडेकर ने कहा कि अब इस बात को 14 साल हो गए हैं। अब भी आप लोग उन्हें याद रख रहे हैं, उनके लिए यहां आ रहे हैं, सरकार उन्हें याद रख रही है, यह हमारे लिए बड़ी बात है। इससे ज़्यादा मैं क्या कहूं।

गृहमंत्री शाह ने दी श्रद्धांजलि
गृहमंत्री अमित शाह ने 26/11 के मुंबई हमलों में अपनी जान गंवाने वालों को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने कहा, मैं अपने  बहादुर सुरक्षा कर्मियों को याद करता हूं और उन्हें सलाम करता हूं, जिन्होंने आतंकवादियों से लड़ते हुए सर्वोच्च बलिदान दिया। आज का दिन पूरी दुनिया को आतंकवाद के खिलाफ एकजुट होकर लड़ने का संदेश देता है।

इस्राइल भारत के साथ खड़ा- इस्राइली राजदूत
भारत में इस्राइली राजदूत नाओर गिलोन ने कहा, मुंबई में हुए आतंकी हमले के 14 वर्ष पूरे हो गए हैं। इस्राइल भारत के साथ खड़ा है। दोनों ही देश आतंक का शिकार हैं और हम इसके खिलाफ एकजुट हैं। उन्होंने कहा, आतंकवाद के वित्तपोषद के खिलाफ आयोजित दो अंतरराष्ट्रीय सम्मेलनों की हम सराहना करते हैं। इस बीच इस्राइली महावाणिज्यदूत कोब्बी शोशानी ने भी नरीमन हाउस और लियोपोल्ड कैफे में श्रद्धांजलि दी।

जेनेवा में दी गई श्रद्धांजलि 
जेनेवा में प्रसिद्ध ब्रोकन चेयर पर एक पोस्टर के माध्यम से 26/11 मुंबई आतंकी हमले में मारे गए लोगों को श्रद्धांजलि दी गई। इस पोस्टर में पाकिस्तान और आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा (एलईटी) को भी जिम्मेदार ठहराया गया। 

राहुल गांधी बोले- भारत हिंसा के खिलाफ निडर होकर खड़ा रहेगा 
कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को 26/11 मुंबई आतंकी हमले में जान गंवाने वालों को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा कि भारत निडर होकर हिंसा के खिलाफ खड़ा रहेगा। राहुल गांधी ने हिंदी में एक ट्वीट में कहा कि भारत की रक्षा के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले सैनिक देश का गौरव हैं। मुंबई 26/11 के आतंकी हमले में शहीद हुए वीर जवानों और आम नागरिकों को मेरी विनम्र श्रद्धांजलि। हिंदुस्तान हमेशा डर और हिंसा के खिलाफ निडर खड़ा रहा है, और आगे भी रहेगा।

174 ने गंवाई थी जान 
2008 में 26/11 के मुंबई आतंकवादी हमलों में 20 सुरक्षा बल कर्मियों और 26 विदेशी नागरिकों सहित करीब 174 लोग मारे गए और 300 से अधिक लोग घायल हुए। 10 लश्कर-ए-तैयबा के आतंकवादी पाकिस्तान से समुद्री मार्ग से मुंबई आए और 26 नवंबर, 2011 को शहर भर में समन्वित शूटिंग और बमबारी हमलों की एक शृंखला को अंजाम दिया।

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News apps, iOS Hindi News apps और Amarujala Hindi News apps अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00