कहीं दूध समझ जहर तो नहीं पी रहे आप!

Una Updated Fri, 14 Dec 2012 05:30 AM IST
ऊना। यदि प्रकृति का असर भी किसी खाद्य वस्तु पर बेअसर हो जाए तो हैरानी लाजिमी है। एक सीमित अवधि तक रखने के बाद रोटी पर फ फूंद लगना, दाल सब्जी का सड़ जाना और दूध से दही बनना प्राकृतिक नियम का अहम हिस्सा है। वहीं, एक नामी कंपनी के दूध से दही न बनने से लोग खौफजदा हैं। कई लोग इसे बेहतर उत्पाद भी मान रहे हैं और यह उनकी पहली पसंद बन गया है, लेकिन इसके खतरों से वे अनजान हैं। इस दूध में बड़े पैमाने पर मिलावट का अंदेशा जताया जा रहा है। ऊना के अमित शर्मा, यशपाल सेठी, कमल देव शर्मा, लोकेश वर्मा, अनीता ठाकुर, कुसुमलता और वीना शर्मा ने बताया कि उक्त कंपनी का दूध कई दिन तक रखने के बाद भी दही में परिवर्तित नहीं हो रहा है। इससे वे हैरान हैं। उन्होंने कहा कि उत्पाद में कुछ खामी हो सकती है। अंब के नरेश कुमार, राजीव शर्मा, कल्पना और विजय लक्ष्मी का कहना है कि ऊना जैसे गर्म जिले में दूसरी कई कंपनियों का दूध जल्दी खराब हो जाता है, लेकिन इस कंपनी का दूध काफी दिनों तक इस्तेमाल में लाया जा सकता है। इससे लोगों को फायदा भी है। ऊना शहर से कारोबारी रणजीत सिंह, कन्फेक्शनरी की दुकान चलाने वाली सिमरन, आशुतोष शर्मा, विनय आदि कहते हैं कि दुकान में यह दूध काफी दिन टिकता है और इसकी मांग भी अधिक है।

बाक्स
दूध में हो सकती है खामी : मनजीत
कांगड़ा जिले से स्वास्थ्य महकमे के जिला खाद्य सुरक्षा अधिकारी मनजीत सिंह का कहना है कि दूध एक सीमित अवधि के बाद जम जाना चाहिए। यदि दूध खराब नहीं हो रहा है तो दूध में केमिकल्स की अधिक मिलावट हो सकती है और दूध में किसी अन्य खामी से भी इंकार नहीं किया जा सकता है।

इनसेट...
दूध के सैंपल लिए जाएंगे : कौशल
ऊना के जिला स्वास्थ्य अधिकारी जीआर कौशल कौशल का कहना है कि यदि दूध में इस तरह के लक्षण पाए जा रहे हैं तो लोगों को चाहिए कि वे इस दूध से परहेज करें। कौशल ने कहा कि उक्त दूध के सैंपल भरने के निर्देश दिए जाएंगे।

इनसेट...
बेहतर पाश्चरीकरण भी वजह : डा गुप्ता
टांडा मेडिकल कालेज से स्त्री रोग विशेषज्ञ डा. अमित गुप्ता का कहना है कि दूध का बेहतर तरीके से पाश्चरीकरण भी दूध के न जमने की वजह हो सकता है। यदि दूध में कोई अन्य खामी है तो यह दूध नवजात बच्चों और अन्यों के लिए घातक हो सकता है।

Spotlight

Most Read

Delhi NCR

फुल ड्रेस रिहर्सल आज, यातायात में होगी दिक्कत, कई जगह मिल सकता है जाम

सुबह 10:30 से दोपहर 12 बजे तक ट्रेनों का संचालन नहीं किया जाएगा। कई ट्रेनें मार्ग में रोककर चलाई जाएंगी तो कई आंशिक रूप से निरस्त रहेंगी।

23 जनवरी 2018

Related Videos

सुषमा स्वराज जी सुनिए, ये रोता हुआ नौजवान आपसे कुछ कह रहा है

सऊदी अरब के दम्माम में फंसे युवक सुनील राणा ने वीडियो बनाकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद की गुहार लगाई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper