पंचायत सचिव को एक साल कठोर कारावास

Una Updated Fri, 29 Jun 2012 12:00 PM IST
धर्मशाला/ऊना। राज्य सतर्कता एवं भ्रष्टाचार रोधी ब्यूरो उत्तरी खंड धर्मशाला की ओर से वर्ष 2009 में ऊना में रिश्वत लेते रंगे हाथों धरे गए एक पंचायत सचिव को ऊना की अदालत ने एक वर्ष के कठोर कारावास की सजा सुनाई है। धर्मशाला स्थित विजिलेंस के एसपी प्रीतम ठाकुर ने मामले की पुष्टि की।
उन्होंने बताया कि आरोपी पंचायत सचिव पृथ्वी राज पुत्र सीता राम गांव बठेड़ा, तहसील हरोली जिला ऊना विकास खंड ऊना की ग्राम पंचायत खानपुर में कार्यरत था। आरोपी पंचायत सचिव को 30 जुलाई 2009 को खानपुर निवासी शिव रत्न की शिकायत पर विजिलेंस ने अभियोग संख्या 3/09 के तहत 500 रुपए की रिश्वत राशि सहित रंगे हाथों गिरफ्तार किया था। यह अभियोग विशेष न्यायाधीश जिला ऊना के न्यायालय में 29 मई 2010 से विचाराधीन चला हुआ था। एसपी ने बताया कि पृथ्वी राज को भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की 1988 की धारा सात के अंतर्गत 1 वर्ष का कठोर कारावास व 2 हजार रुपए जुर्माना व 13/02 के अंतर्गत एक वर्ष का कठोर कारावास व तीन हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई। जुर्माना अदा न करने पर तीन माह का अतिरिक्त दंड भुगतना होगा। एसपी ने बताया कि अभियुक्त की सजा युक्ति में जिला ऊना में कार्यरत सतकता ब्यूरो के उप न्यायवादी रामदेव चौधरी ने अपने कार्य को बड़ी मेहनत और निष्ठापूर्ण तरीके से निभाया।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सुषमा स्वराज जी सुनिए, ये रोता हुआ नौजवान आपसे कुछ कह रहा है

सऊदी अरब के दम्माम में फंसे युवक सुनील राणा ने वीडियो बनाकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद की गुहार लगाई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls