पड़ियोला के हैंडपंप उगल रहे लाल पानी

Una Updated Fri, 04 May 2012 12:00 PM IST
लठियाणी (ऊना)। ग्राम पंचायत ढियुगली के गांव पड़ियोला के लोगों को आईपीएच विभाग की ओर से दूषित पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। क्षेत्र में लगे आईपीएच विभाग के दो हैंडपंप दूषित लाल पानी उगल रहे हैं। महज पांच सौ मीटर की दूरी के भीतर लगे दोनों हैंडपंपों में दूषित पानी से स्कूली बच्चों, ग्रामीणों और राहगीरों को भारी परेशानी झेलनी पड़ रही है। लोग जंगयुक्त लाल पानी पीने को विवश हैं। लोगों का कहना है कि इस लाल पानी से ही उन्हें घरों में खाना भी बनाना पड़ रहा है। आईपीएच विभाग को इस समस्या के बारे में सूचित किया गया, लेकिन समस्या जस की तस बनी हुई है। हैरानी वाली बात तो यह है कि गांव पड़ियोला में बाबा श्रीचंद के गेट के आगे लगे एक हैंडपंप से सुबह शाम राजकीय प्राथमिक पाठशाला पड़ियोला के बच्चे भी पानी पीते हैं। ग्राम पंचायत ढियुगली के उपप्रधान रवि वैस, विशन दास, सीता राम, केवल सिंह, राज कुमार, रोशन लाल, बालक राम, परस राम, कांता देवी, रक्षा देवी व सुषमा कुमारी का कहना है कि यदि विभाग समय रहते इन हैंडपंपों का पानी चैक नहीं करवाता है तो किसी भी समय कोई घातक बीमारी फैल सकती है। इसके लिए आईपीएच विभाग जिम्मेवार होगा।
उधर, जब इस संबंध में आईपीएच विभाग लठियाणी के कनिष्ठ अभियंता प्रेम कुमार दतियाल से बात की तो उन्हाेंने कहा कि इस क्षेत्र की जमीन में आयरन की अधिक मात्रा होने के कारण पानी का रंग लाल होता है। कई बार हैंडपंप के लगातार इस्तेमाल के बाद धीरे-धीरे आयरन की मात्रा कम होने की संभावना रहती है और पानी का रंग भी बदलने लगता है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

सुषमा स्वराज जी सुनिए, ये रोता हुआ नौजवान आपसे कुछ कह रहा है

सऊदी अरब के दम्माम में फंसे युवक सुनील राणा ने वीडियो बनाकर विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से मदद की गुहार लगाई है।

2 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls