लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Himachal Pradesh ›   Solan News ›   Work on connecting Kalka-Shimla National Highway with tunnel started

Solan: कालका-शिमला नेशनल हाईवे को टनल के साथ जोड़ने का काम शुरू

संवाद न्यूज एजेंसी, सोलन Published by: शिमला ब्यूरो Updated Thu, 17 Nov 2022 04:14 PM IST
सार

 फोरलेन निर्माता कंपनी ने इस कार्य को पूरा करने के लिए कंपनी नेे तीन माह का लक्ष्य रखा है। टनल से जुड़ी सड़क का निर्माण भी नए तरीके से किया जाएगा। 

कालका-शिमला हाईवे।
कालका-शिमला हाईवे। - फोटो : संवाद
विज्ञापन

विस्तार

कालका-शिमला नेशनल हाईवे-5 पर बनी फोरलेन की सड़क को टनल के साथ जोड़ने का कार्य शुरू हो गया है। इस टनल से फरवरी में फिर से वाहनों की आवाजाही शुरू हो सकेगी। फोरलेन निर्माता कंपनी ने इस कार्य को पूरा करने के लिए कंपनी नेे तीन माह का लक्ष्य रखा है। टनल से जुड़ी सड़क का निर्माण भी नए तरीके से किया जाएगा। इसके लिए नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया (एनएचएआई) ने ड्रांइग में भी थोड़ा बदलाव किया है। नई ड्राइंग के अनुसार सड़क का निर्माण करने के लिए ग्राउंड से ही डंगा लगाया जाएगा। इससे पहले इसमें मिट्टी की परत बिछाने के बाद सड़क बनाई गई थी। सड़क निर्माण के लिए कलप्लेट टेस्ट भी किया गया है। कलप्लेट टेस्ट के मुताबिक ही सड़क निर्माण के लिए ग्राउंड से डंगा लगाने का निर्णय लिया है।



इसी के साथ पानी की निकासी के लिए वायाडक्ट का निर्माण भी किया जाएगा ताकि पानी की रुकावट भी सड़क पर न हो। वहीं वर्तमान में शमलेच में डंगा लगाने के लिए खुदाई का कार्य चला है।11 अगस्त को शमलेच के समीप बड़ोग टनल को जा रही सड़क बारिश के बाद पूरी तरह से धंस गई थी। इसके बाद सड़क को बंद कर दिया गया था। इसके बाद से टनल वाहनों की आवाजाही के लिए बंद पड़ी है। सड़क के धंसने के बाद एनएचएआई के प्रोजेक्ट डायरेक्टर समेत अन्य टीमें कई बार मौके का मुआयना कर चुकी हैं। इसके बाद कंपनी को नया डिजाइन भी एनएचएआई कार्यालय में फोरलेन निर्माता कंपनी ने भेजा था। इसके बाद सड़क निर्माण में सभी चीजों को जांचा गया। सड़क की मजबूती के लिए मिट्टी के सैंपल भी लिए गए। सैंपल रिपोर्ट आने के बाद ही सड़क का निर्माण करने का निर्णय लिया। इस दौरान सड़क निर्माण करने के लिए कई चीजें बदली गईं।


फोरलेन निर्माण कंपनी पर कई बार उठ चुके सवाल
फोरलेन निर्माण कर लिए ग्रिल कंपनी के कार्यों पर कई बार सवाल खड़े हो चुके हैं लेकिन एनएचएआई ने अभी तक कंपनी पर कोई कार्रवाई नहीं की है। सड़क के ढहने से पहले सोलन पुलिस लाइन के पास एक साइड लेन धंसी थी। इसके बाद धर्मपुर के दोसड़का के पास भी सड़क धंसना शुरू हुई। हालांकि इन जगहों में वर्तमान में सड़क ठीक कर दी गई है।

रोजाना हो रहीं दुर्घटनाएं
बड़ोग बाईपास में शमलेच से कुमारहट्टी तक सड़क की एक लेन बंद होने के कारण कई बार हादसे हो चुके हैं। एक लेन पर दोनों ओर की आवाजाही से लोगों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। हालांकि कंपनी ने निर्माण कार्य शुरू कर दिया है लेकिन आगामी दिनों में फिर बारिश और बर्फबारी में कार्य प्रभावित हो सकता है।

20 मीटर नीचे तक थी कच्ची मिट्टी
कालका-शिमला नेशनल हाईवे पर टनल की ओर जाने वाली सड़क में 20 मीटर नीचे तक कच्ची मिट्टी मिली। इसका खुलासा तब हुआ जब शमलेच में एनएचएआई की टीम ने सड़क निर्माण के लिए पहाड़ की मिट्टी जांची।

टनल के बाद फिर कम हो जाएगी दूरी
सड़क के ठीक होने के बाद लोगों को सोलन से चंडीगढ़ जाने के लिए दूरी कम हो जाएगी। टनल के बंद होने से वर्तमान में वाहन बड़ोग होकर जा रहे हैं। इस सड़क के ठीक होने से करीब पांच किलोमीटर कम हो जाएगी।
विज्ञापन
तेजी से किया जा रहा टनल बनाने का काम

टनल का कार्य जल्द पूरा कर लिया जाएगा। इसके लिए तेजी से कार्य शुरू कर दिया गया है। फोरलेन निर्माता कंपनी ने कार्य पूरा करने के लिए तीन माह का लक्ष्य रखा है। इसके बाद ही टनल से आवाजाही शुरू हो सकेगी।
-बलविंद्र सिंह, प्रोजेक्ट मैनेजर, फोरलेन निर्माता कंपनी

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00