नायब सूबेदार बाबू राम को अंतिम विदाई

Solan Updated Mon, 01 Oct 2012 12:00 PM IST
सुबाथू (सोलन)। सुबाथू क्षेत्र की शड़ियाणा पंचायत के ओलगी गांव के नायब सूबेदार स्वर्गीय बाबू राम का बीते 25 सितंबर को हृदय गति रुकने से देहांत हो गया। वह नाइन ड़ोगरा रेजिमेंट में सूबेदार पद पर तैनात थे। वह बीस दिनों की छुट्टियां काटकर अपनी पोस्ट में वापस जा रहे थे। इस दौरान मणिपुर के गुवाहटी में हृदय गति रुकने से उनका देहांत हो गया।
रविवार कोे सुबह ग्यारह बजे गुग्गा माड़ी मंदिर के सामने सेना मैदान में सैकड़ों लोगों व सैनिक जवानों ने नायब सूबेदार बाबू राम का पार्थिव शरीर सेना मैदान में लाया गया। वहां श्रद्धांजलि देने के बाद उनके पैतृक गांव ओलगी के श्मशान घाट में उनका अंतिम संस्कार किया गया। इस दौरान सेना के जवानों ने हवाई फायर करके उन्हें सलामी दी।
उनकी धर्मपत्नी और पुत्र सहित सैकड़ों लोगों ने पुष्प माला अर्पित करते हुए उनकी आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की। इस अवसर पर जीटीसी के कर्नल दुष्यंत कुमार सहित सेना के अन्य अधिकारियों नेे सेना बैंड धुन के साथ सलामी दी।
स्वर्गीय बाबू राम के पिता नत्थूराम ने बताया कि बाबू राम बीस दिनों की छुट्टियों में अपने घर आए हुए थे। वह छुट्टियां काटकर 24 सितंबर को अपनी प्रमोशन की खबर मिलने के बाद पलटन के लिए रवाना हुए। 25 सितंबर को उन्हें उनके बेटे बाबू राम के देहांत की खबर मिल चुकी थी।
उनकी इस अंतिम बेला में स्थानीय विधायक डा. राजीव सहजल, कांग्रेस प्रदेश महासचिव विनोद सुल्तान पूरी, जिला भाजपा उपाध्यक्ष सुशील गर्ग, जिला व्यापार प्रकोष्ठ संयोजक मनीष गुप्ता, शड़ियाणा पंचायत प्रधान आशा धीमान, उपप्रधान कर्ण ठाकुर सहित आसपास क्षेत्र के सैकड़ों ग्रामीण मौजूद रहे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बीजेपी के इस दांव से खतरे में पड़ी कांग्रेस की सुरक्षित सीट सोलन

हिमाचल प्रदेश में विधानसभा चुनाव महज कुछ ही दिनों की बात रह गई है। ऐसे में 68 सीटों पर प्रत्याशी अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। अमर उजाला टीवी की टीम हिमाचल प्रदेश में जनता का मूड जानने के लिए पहुंची। देखिए इस महासंग्राम की GROUND REPORT

7 नवंबर 2017