विज्ञापन

महिलाएं संकट में शक्ति ऐप का करें इस्तेमाल, तुरंत मिलेगी मदद

Shimla	 Bureauशिमला ब्यूरो Updated Tue, 04 Dec 2018 10:48 PM IST
अमर उजाला
अमर उजाला - फोटो : amarujala
ख़बर सुनें
कंडाघाट (सोलन)। राष्ट्रीय राजमार्ग कालका-शिमला के अहम पड़ाव कंडाघाट में मंगलवार को अमर उजाला के अपराजिता-100 मिलियन स्माइल कार्यक्रम आयोजित हुआ। कार्यक्रम में महिलाओं का जबरदस्त उत्साह देखने को मिला। इसके आगे खंड विकास कार्यालय का सभागार छोटा पड़ गया। करीब 150 महिलाएं इस कार्यक्रम का हिस्सा बनीं। जब सीटें भर गईं तो करीब ढाई घंटे तक कुछ महिलाओं ने जमीन पर बैठकर अधिकारियों का संबोधन सुना और बेहद सजगता के साथ सवाल-जवाब किए।
विज्ञापन
विज्ञापन
अधिकारियों ने आह्वान किया कि महिलाएं स्वयं सहायता समूहों का गठन कर जीवनयापन के लिए स्वरोजगार अपना सकती हैं। कंडाघाट की महिलाएं वाकनाघाट या अन्य ऐसी जगह जहां शैक्षणिक संस्थान चल रहे हैं वहां साझा रसोई योजना के तहत टिफन सर्विस शुरू कर सकती हैं। इसके अलावा बैंक महिला मंडलों को तीन लाख रुपये का ऋण बिना गारंटी मुहैया करवाता है। इसका इस्तेमाल भी स्वरोजगार चलाने में किया जा सकता है। महिलाओं को कानून व अधिकारों समेत स्वास्थ्य संबंधित जानकारी मुहैया करवाई गई। कार्यक्रम में एसडीएम कंडाघाट संजीव धीमान बतौर मुख्यातिथि शामिल हुए। उन्होंने महिलाओं को अधिकारों के प्रति सजग रहने व अपने पांव पर खड़ा होने की सलाह दी। खंड विकास अधिकारी रमनवीर चौहान ने कहा कि महिलाओं को स्वरोजगार से जोड़ने के लिए आजीविका मिशन कार्यक्रम कंडाघाट ब्लॉक में चलाया जा रहा है। थाना प्रभारी डीएस गुलेरिया ने कहा कि महिलाएं किसी भी तरह की हिंसा की शिकार हो रही हैं तो वे सीधे पुलिस से संपर्क कर सकती हैं। खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. एलएल वर्मा ने कहा कि गर्भवती महिलाओं की डिलीवरी अस्पताल में हो यह सुनिश्चित करना बेहद जरूरी है।
एसडीएम कंडाघाट संजीव धीमान ने कहा कि मौजूदा दौर में मोबाइल सबकी जरूरत बन गया है। लेकिन यह अपराध की असली वजह भी है। मोबाइल और सोशल मीडिया पर चल रही ऐप का इस्तेमाल बेहद सोच-समझकर करने की जरूरत है। आपराधिक मानसिकता के लोग महिलाओं को झांसे में लेने के लिए इनका गलत इस्तेमाल करते हैं। उन्होंने कहा कि परिवार से चाहे लड़का हो या लड़की जब घर से बाहर जाता है या आता है तो उससे कारण जरूर पूछना चाहिए। उन्होंने कहा कि यदि आपके किसी मामले की सुनवाई नहीं हो रही है तो अधिकारियों से संपर्क करें।
खंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. एलएल वर्मा ने बताया कि सभी अस्पतालों में डॉक्टरों को बाहर की दवाई लिखने पर मनाही है। यदि कोई डॉक्टर अस्पताल से बाहर की दवा लिखता है तो उसके खिलाफ शिकायत की जा सकती है। उसकी लिखी गई पर्ची खंड चिकित्सा अधिकारी या मुख्य चिकित्सा अधिकारी को भेज सकते हैं। उन्होंने कहा कि अस्पताल में दवाएं मुफ्त उपलब्ध करवाने का प्रावधान है। उन्होंने महिलाओं को बताया कि अब तपेदिक (टीबी) का परीक्षण घरद्वार पर हो रहा है। आशा वर्कर इसके लिए काम कर रही हैं।
खंड चिकित्सा अधिकारी रमनवीर चौहान ने कहा कि महिलाओं की ग्रामसभा में भागीदारी कम रहती है। इसकी वजह से कई बार उनसे संबंधित योजनाओं पर चर्चा नहीं हो पाती है। उन्होंने कहा कि सरकार ने पंचायतीराज में 50 प्रतिशत सीटें महिलाओं के लिए आरक्षित की हैं। जबकि 60 प्रतिशत महिलाएं विभिन्न पदों पर जीत कर आती हैं।
थाना प्रभारी कंडाघाट डीएस गुलेरिया ने बताया कि महिलाएं किसी संकट में हैं तो वे शक्ति ऐप का इस्तेमाल कर पुलिस की मदद ले सकती हैं। इस ऐप में लाल बटन दबाने पर पुलिस व सगे संबंधियों को संदेश पहुंच जाता है। इससे तत्काल महिला को मदद मिल जाती है। उन्होंने कहा कि इसके अलावा यदि महिलाओं ने शक्ति ऐप डाउनलोड नहीं की है तो वे मोबाइल नंबर 9418000100 पर संदेश भेजकर अपनी शिकायत दर्ज करवा सकती हैं। इस मोबाइल नंबर पर संदेश भेजते ही पुलिस मदद के लिए पहुंच जाएगी।

Recommended

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन

Most Read

Solan

जीएसटी नंबर अंकित करने को दी 30 दिन की मोहलत

जीएसटी नंबर अंकित करने को दी 30 दिन की मोहलत

14 दिसंबर 2018

विज्ञापन

देखिए बर्फबारी ने कैसे बढ़ाई ठंड, कहीं खुशी तो कहीं हुई मुसीबत

जम्मू-कश्मीर से लेकर हिमाचल प्रदेश में शुरू हुई बर्फबारी ने ठंड बढ़ा दी है। हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला में सीजन का पहला स्नो फॉल शुरू हो गया है लेकिन पीर पंजाल में चल रही भारी बर्फबारी ने मुसीबत खड़ी कर दी है।

12 दिसंबर 2018

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree