विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति
Astrology Services

घर बैठे इस पितृ पक्ष गया में पूरे विधि-विधान एवं संकल्प के साथ कराएं श्राद्ध पूजा, मिलेगी पितृ दोषों से मुक्ति

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

From nearby cities

हिमाचल में 4775 करोड़ निवेश के लिए 93 एमओयू साइन, सीएम जयराम ने दी जानकारी

एक दिन में ही हिमाचल में निवेशकों ने 4775 करोड़ रुपये के निवेश के लिए 93 एमओयू साइन किए हैं।

17 सितंबर 2019

विज्ञापन
विज्ञापन

सिरमौर

बुधवार, 18 सितंबर 2019

1100 नंबर पर करें शिकायत, आपकी समस्या का समाधान करेगी हिमाचल सरकार

हिमाचल में बहुप्रतीक्षित मुख्यमंत्री हेल्पलाइन का सेवा संकल्प नाम से सोमवार को लोकार्पण किया गया। इसका लोकार्पण छह मंत्रियों की उपस्थिति में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने टूटीकंडी बाईपास स्थित कार्यालय में किया।

सीएम ने अपील की कि लोग 1100 नंबर पर शिकायत करें। उनकी समस्या का हरसंभव समाधान होगा। शिकायत को अधिकारी हल्के में नहीं ले पाएंगे। उनकी जवाबदेही तय होगी।

लापरवाही पर कार्रवाई होगी। सॉफ्टवेयर से 56 विभागों के 6500 अधिकारी जोड़े गए हैं। उन्होंने मंत्रियों और प्रमुख अधिकारियों को निर्देश दिए कि टोल फ्री नंबर 1100 प्रदेश के हर घर पर हो। 

कहा कि अब तक सबसे अच्छी हेल्पलाइन मध्यप्रदेश की है। अब हिमाचल की हेल्पलाइन सबसे बेहतर होगी। बाहरी प्रदेशों के लोग भी यहां आकर सीखेंगे। हमारी जिम्मेदारी है कि इस काम को ठीक से करें। अधिकारियों की जिम्मेवारी बढ़ गई है। अब शिकायतें लंबित रहने की गुंजाइश नहीं होगी।
... और पढ़ें

पांवटा में ट्रैक्टर की टक्कर से आईटीआई छात्र की दर्दनाक मौत

 पांवटा के टोका गांव में तेजरफ्तार ट्रैक्टर ने बाइक सवार युवक को टक्कर मार दी। हादसे में युवक गंभीर रूप से घायल हो गया। ग्रामीणों ने घायल को सिविल अस्पताल पांवटा पहुंचाया। इसके बाद हालत गंभीर होने पर परिजन उसे देहरादून लेकर जा रहे थे लेकिन युवक ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। हादसे के बाद आरोपी ट्रैक्टर चालक मौके से फरार हो गया।

माजरा थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर चालक की तलाश शुरू कर दी है। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक माजरा नया गांव निवासी विशाल कुमार (19) पुत्र केहर सिंह गुलाबगढ़ मार्ग से टोका अपने रिश्तेदार के पास बाइक पर जा रहा था। रविवार देर रात को टोका में एक तेजरफ्तार ट्रैक्टर ने उसे जोरदार टक्कर मार दी। इसके बाद आरोपी चालक ट्रैक्टर समेत मौके से फरार हो गया।

स्थानीय ग्रामीणों ने घायल युवक के परिजनों को सूचित कर दिया। घायल को सिविल अस्पताल पांवटा पहुंचाया गया लेकिन, उसकी हालत गंभीर होने के कारण चिकित्सकों ने उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया। इसके बाद परिजन उसे देहरादून के निजी अस्पताल ले जा रहे थे लेकिन, घायल ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया।

सोमवार को पोस्टमार्टम के बाद माजरा पुलिस ने शव परिजनों को सौंप दिया है। हादसे के बाद मौके से फरार आरोपी ट्रैक्टर चालक की तलाश की जा रही है। एसएचओ माजरा सेवा सिंह ने मामले की पुष्टि की है। एसएचओ ने कहा कि मामला दर्ज कर पुलिस टीम तफ्तीश कर रही है। ट्रैक्टर चालक के खिलाफ लापरवाही से वाहन चलाने का मामला दर्ज कर लिया गया है।
... और पढ़ें

इस कॉलेज के विद्यार्थियों ने दो घंटे तक किया चक्का जाम, जानिए वजह

जिला सिरमौर के राजकीय महाविद्यालय भरली के विद्यार्थियों के सब्र का बांध सोमवार को टूट गया। छात्र-छात्राओं ने नघेता में दोसड़का के समीप धरना-प्रदर्शन और चक्का जाम कर दिया। इस दौरान विद्यार्थियों ने प्रदेश सरकार और विभाग के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। आक्रोशित विद्यार्थियों का कहना था कि पिछले चार वर्षों से कॉलेज की कक्षाएं नघेता स्कूल भवन में चल रही हैं।

निर्माणाधीन भवन के लिए बजट का प्रावधान नहीं किया जा रहा है, जिससे कॉलेज भवन कार्य अधर में लटक गया है। धरना-प्रदर्शन में शामिल भरली कॉलेज के विद्यार्थियों ने उग्र आंदोलन की भी चेतावनी दी है। छात्र नेताओं शुभम चौहान, ज्योति चौहान, रोहित चौहान, अंकित और राकेश चौहान समेत अन्य विद्यार्थियों ने कहा कि प्रदेश सरकार गंभीर नजर नहीं आ रही है।

2015 में इस भवन की नींव रखी गई थी तब दो वर्ष के भीतर भवन निर्माण कार्य पूरा करने की बात कही गई थी लेकिन, इसके लिए बजट का प्रावधान नहीं किया गया। इसके चलते कार्य अधर में लटक गया है। सोमवार को कॉलेज परिसर से लेकर नघेता-बनौर मोड़ तक रोष रैली निकाली गई। समस्त छात्र संगठनों की मांग है कि जल्द कॉलेज भवन बनाया जाए। रावमापा नघेता स्कूल और अन्य किराए के हॉल में चार वर्षों से कक्षाएं चल रही हैं। कॉलेज भवन तैयार कर कक्षाएं अपने भवन में स्थानांतरित की जाएं।

आक्रोशित छात्र-छात्राओं ने कहा कि समस्या के बारे में प्रदेश के शिक्षा मंत्री के नघेता प्रवास के दौरान प्रतिनिधिमंडल उनसे मिला था। समस्या के बारे में विस्तृत रूप से बताया भी गया। मौके पर हालात का जायजा लेने का भी आग्रह किया गया लेकिन, केवल आश्वासन दिया जाता रहा है। छात्र-छात्राओं ने कहा कि यदि सरकार ने मांगों को गंभीरता से नहीं लिया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा। भूख हड़ताल करने से भी पीछे नहीं हटेंगे। 
... और पढ़ें

मोदी के जन्मदिन पर तैयार किए दो तालाब

नाहन (सिरमौर)। नाहन विस के अंतर्गत सैनवाला गांव के ग्रामीणों ने जलशक्ति अभियान के तहत श्रमदान से दो तालाब तैयार करके प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस को यादगार बनाया है। पंचायत प्रधान संदीपक तोमर की अगुवाई में मंगलवार को ग्रामीणों ने नवनिर्मित तालाब के निकट प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस पर पौधे भी रोपे।
भूमिगत जलस्तर कायम रखने के मकसद से भारत सरकार का जल शक्ति मंत्रालय देशभर में विभिन्न विभागों के माध्यम से पंचायतों को राशि जारी करके जोहड़, कुओं और तालाबों का निर्माण करवा रहा है। नाहन विस क्षेत्र की आमवाला-सैनवाला ग्राम पंचायत के लोगों ने पंचायत प्रधान संदीपक तोमर की अगुवाई में सरकारी पैसा लेने की बजाय श्रमदान कर यहां दो तालाब तैयार किए हैं। ग्रामीण लंबे समय से इस कार्य में जुटे हुए थे। उनका सपना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस तक यह तालाब तैयार करना था। ग्रामीणों ने 15 सितंबर तक पूरा किया। पंचायत प्रधान संदीपक तोमर की अगुवाई में ग्रामीणों ने सैनवाला स्कूल के पीछे 60 फीट चौड़ा, 60 फीट लंबा और 7 से 8 फीट गहरा और सैनवाला खाला के समीप 60 फीट लंबा, 40 फीट चौड़ा और 8 फीट गहरा तालाब बनाकर जलशक्ति अभियान को गति दी है। साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन को भी यादगार बनाया है। यह दोनों ही तालाब श्रमदान से तैयार किए गए।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस पर मंगलवार को क्षेत्र के लोग पंचायत प्रधान संदीपक तोमर की अगुवाई में 15 सितंबर को तैयार किए गए दूसरे तालाब के निकट पहुंचे और प्रधानमंत्री की याद में पौधे रोपे। इस अवसर पर पंचायत प्रधान संदीपक तोमर, धर्मचंद बिंदल, सतीश कुमार सैनी, हितेश बिंदल, रोशन लाल, सुनील कुमार, ज्ञान सिंह, सुभाष कुमार, लतीफ मोहम्मद, संजीव कुमार, कर्ण सिंह तोमर एवं कनिका सिंह आदि मौजूद रहे। पंचायत प्रधान संदीपक तोमर ने कहा कि ग्रामीणों के सहयोग से और भी तालाब तैयार किए जाएंगे। साथ ही पर्यावरण संरक्षण को लेकर पंचायत जल्द ही एक अनूठी मुहिम चलाएंगे। इससे रोपे गए अधिकतर पौधे, वृक्ष का रूप लेंगे।
... और पढ़ें
सैनवाला में नवनिर्मित तालाब के निकट प्रधानमंत्री के जन्मदिवस पर पौधरोपण करते ग्रामीण। सैनवाला में नवनिर्मित तालाब के निकट प्रधानमंत्री के जन्मदिवस पर पौधरोपण करते ग्रामीण।

एक दर्जन भवनों में तोड़फोड़, हटाए अवैध कब्जे

नाहन (सिरमौर)। ऐतिहासिक नाहन शहर में अवैध कब्जों पर नगर परिषद की कार्रवाई मंगलवार को दूसरे दिन भी जारी रही। कुछेक स्थानों पर लोगों के साथ नोंकझोंक भी हुई। दूसरे दिन करीब एक दर्जन अवैध कब्जाधारियों पर शिकंजा कसा गया। सुबह करीब साढ़े दस बजे से शुरू हुई अवैध कब्जों को तोड़ने की कार्रवाई देर शाम तक जारी रही।
हालांकि, मकानों पर जेसीबी चलाने से पहले नप कर्मियों ने भीतर रखा तमाम सामान सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया। उधर, अपने आशियानों को लोग बेबस होकर टूटता हुआ देखते रह गए। कईयों की आंखें भी टूटते आशियानों को देखकर छलक उठीं।
नगर परिषद ने शहर में हुए अवैध कब्जों को तोड़ने के लिए अभियान छेड़ दिया है। सोमवार को शहर के विभिन्न इलाकों में पहुंचकर नगर परिषद ने करीब 10 कब्जे हटाए थे। जबकि मंगलवार को 11 कब्जों पर जेसीबी चलाई गई। सुबह सबसे पहले गोविंदगढ़ मोहल्ला में नगर परिषद कॉलोनी के समीप से अवैध कब्जे हटाने शुरू किए गए। इसके बाद कांशी वाला, हाउसिंग बोर्ड कॉलोनी आदि इलाकों में अवैध कब्जे तोड़े गए। कड़ी सुरक्षा के बीच छेड़े गए इस अभियान के दौरान कई स्थानों पर अधिकारियों को लोगों के आक्रोश का भी सामना करना पड़ा। इस अभियान को चलाने के लिए नगर परिषद ने टास्क फोर्स का गठन किया है।
गौरतलब है कि नगर परिषद ने कुल 34 कब्जे चिह्नित किए हैं। इनमें से 20 सरकारी भूमि पर हुए हैं, जबकि 14 नगर परिषद की भूमि पर हैं। इसके अलावा 142 अवैध निर्माण भी नगर परिषद ने चिह्नित किए हैं। इनमें से करीब 70 लोगों ने अपने नक्शे पुन: नगर परिषद को सौंपे हैं। तकनीकी कमेटी इसकी जांच कर रही है। नगर परिषद के कार्यकारी अधिकारी अजमेर सिंह ठाकुर ने बताया कि नगर परिषद का अभियान जारी है। मंगलवार को दूसरे दिन 11 स्थानों पर अवैध कब्जे हटाए गए।
नगर परिषद की कब्जा हटाओ मुहिम के तहत गोविंदगढ़ के समीप अवैध कब्जा हटाने को लगाई जेसीबी।
नगर परिषद की कब्जा हटाओ मुहिम के तहत गोविंदगढ़ के समीप अवैध कब्जा हटाने को लगाई जेसीबी।- फोटो : NAHAN
... और पढ़ें

नहर में गिरी कार, छह घंटे चला सर्च अभियान, नहीं लगा सुराग

उत्तराखंड हिमाचल सीमा से लगती कुल्हाल शक्ति नहर में एक कार डूब गई। करीब छह घंटे के सर्च अभियान के बावजूद कार का कोई पता नहीं चल सका है। न ही कार में डूबे लोगों की संख्या की जानकारी अब तक मिल पाई है। उत्तराखंड पुलिस व स्थानीय गोताखोरों ने सवा एक से शाम छह बजे तक सर्च अभियान चलाया। लेकिन, गाड़ी का कोई सुराग नहीं लग पाया। अब बुधवार को सर्च अभियान चलेगा। 

मिली जानकारी अनुसार मंगलवार दोपहर करीब एक बजे उत्तराखंड की नहर में एक अनियंत्रित कार को लोगों ने गिरते देखा। आसपास के लोगों ने तुरंत कुल्हाल बैरियर व विकासनगर पुलिस टीम को सूचित कर दिया। इसके बाद पुलिस, करीब एक दर्जन स्थानीय गोताखोर व आपदा प्रबंधन टीम मौके पर पहुंची। गोताखोर टीम ने एक घंटे तक पहले कई फीट गहरी नहर में गाड़ी की तलाश की।

लेकिन कोई पता नहीं चल सका। टीम ने लंबे रस्से से नहर का करीब 400 मीटर क्षेत्र खंगाला। सवा एक बजे दोपहर से शाम छह बजे तक सर्च अभियान में भारी संख्या में जवान शामिल हुए। स्थानीय गोताखोर भी अभियान में जुटे रहे। लेकिन, देर शाम तक गाड़ी का कोई पता नहीं चल पाया है। अंधेरा होने के कारण शाम करीब छह बजे अभियान को रोक दिया गया।

अब बुधवार को सर्च अभियान फिर शुरू होगा। उधर, डीएसपी विकासनगर भूपेंद्र सिंह धोनी ने बताया कि सूचना मिलने के बाद नहर में डूबी कार व लोगों को खोजने को सर्च अभियान चलाया गया। लेकिन, देर शाम तक कोई पता नहीं चल सका है। अब बुधवार सुबह फिर से सर्च अभियान चलेगा। गाड़ी में कितने लोग सवार थे, इसका भी पता नहीं चल सका है।
... और पढ़ें

हिमाचल में जेओए भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित, ऐसे करें चेक

हिमाचल प्रदेश कर्मचारी चयन आयोग हमीरपुर ने पोस्ट कोड 556 के तहत जूनियर ऑफिस असिस्टेंट भर्ती परीक्षा का परिणाम घोषित कर दिया है। इस बार भर्ती परीक्षा की मेरिट के आधार पर 625 अभ्यर्थियों की सूची जारी की गई है, जबकि इससे पूर्व फरवरी 2019 में आयोग ने 596 अभ्यर्थियों की सूची जारी की थी। कुछ अभ्यर्थियों ने अपनी योग्यता को लेकर चयन आयोग के पास अपील की थी।

इसके बाद 29 अतिरिक्त अभ्यर्थियों का चयन हुआ है। आयोग ने वर्ष 2016 में पोस्ट कोड 556 के तहत जूनियर ऑफिस असिस्टेंट के 1156 पदों के लिए आवेदन मांगे थे। आवेदन आने के बाद आयोग ने लिखित परीक्षा, स्किल टेस्ट और पंद्रह अंकों की मूल्यांकन परीक्षा का आयोजन किया था। इसी बीच कुछ अभ्यर्थियों ने प्रदेश प्रशासनिक ट्रिब्यूनल में अपील कर दी।
... और पढ़ें

ऑनलाइन शॉपिंग करने वालों को निशाना बना रहे ठग, पुलिस ने किया सचेत, इन बातों का रखें ध्यान

बड़ी ऑनलाइन शॉपिंग साइटों पर खरीदारी करने वाले लोगों को ठग अपना निशाना बना रहे हैं। केंद्रीय गृह मंत्रालय की ओर से जारी गाइडलाइन के बाद हिमाचल साइबर क्राइम विंग ने इस संबंध में लोगों को सतर्क रहने के लिए कहा है।

साइबर क्राइम विंग के अनुसार शॉपिंग करते समय इस बात का ध्यान रखें कि साइट पर या तो कैश ऑन डिलीवरी का ऑप्शन आएगा या फिर ऑनलाइन ही पैसा जमा करना होगा।

इसके अलावा अगर कोई व्यक्ति फोन कॉल, एसएमएस या ईमेल के जरिये संपर्क कर सामान मंगवाने की जानकारी देकर ग्राहक से बैंक अकाउंट, मोबाइल नंबर जैसी जानकारी मांगे तो उससे साझा न करें।

सीआईडी के अधिकारियों का कहना है कि संभव है कि ऑनलाइन शॉपिंग साइटों से ग्राहक का डाटा लीक हो रहा है और उसी लीक डाटा की मदद से ठग उपभोक्ता को निशाना बना रहे हैं। 
... और पढ़ें

बंदर तो दूर, अब चूहे-गिलहरी भी बरबाद नहीं कर पाएंगे फसल, पढ़ें पूरा मामला

मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना के तहत कृषि विभाग किसानों को जल्द ही न्यू लुक में सोलर फेंसिंग का तोहफा देने जा रहा है। इस सोलर फेंसिंग की खासियत यह है कि बंदर, लावारिस पशु तो दूर, चूहे और गिलहरी भी खेतों में घुसकर फसल को बरबाद नहीं कर पाएंगे।

योजना के तहत किसानों को 80 प्रतिशत सब्सिडी पर जाली और सोलर फेंसिंग मिलेगी। इस योजना के फार्म हर ब्लॉक स्तर पर भेजे जा रहे हैं और जल्द ही आवेदन भी मांगे जाएंगे।

किसानों को इसके लिए विभाग के पास आवेदन के साथ दस्तावेज जमा करवाने होंगे। इसके अलावा जहां सोलर फेंसिंग करवानी है, उन खेतों की किसानों को जांच करवानी होगी।

कृषि विभाग की मानें तो इस योजना के लिए अभी विभाग के पास कोई बजट नहीं आया है, लेकिन योजना की रूपरेखा तैयार हो चुकी है। जिला कृषि अधिकारी मोहेंद्र सिंह भवानी ने बताया कि सोलर फेंसिंग के लिए जैसे ही बजट मंजूर होगा, किसानों से इस सुविधा के लिए आवेदन मांग लिए जाएंगे।
... और पढ़ें

पुलिस भर्ती: 1063 पदों के लिए इस दिन से शुरू होगी साक्षात्कार की प्रक्रिया

इन दो कक्षाओं की वार्षिक परीक्षाओं में पास होने के लिए 28 अंक लेना जरूरी

हिमाचल में इस शैक्षणिक सत्र से शिक्षा का अधिकार अधिनियम संशोधन 2019 लागू होते ही 5वीं और 8वीं कक्षा की वार्षिक लिखित परीक्षा में पास होने के लिए अंक नंबर लेना जरूरी रहेगा। लिखित परीक्षा 85 अंकों की होगी। 15 नंबर आंतरिक आकलन आधार पर दिए जाएंगे।

प्रारंभिक शिक्षा निदेशालय ने इस संदर्भ में निर्देश जारी कर दिए हैं। प्रदेश के स्कूलों में पढ़ने वाले करीब सवा लाख बच्चे इस शैक्षणिक साल में पांचवीं और आठवीं कक्षा की परीक्षा में भाग लेंगे।

सूबे के शीतकालीन स्कूलों की दिसंबर और ग्रीष्मकालीन स्कूलों के विद्यार्थियों की वार्षिक परीक्षाएं मार्च में होंगी। पांचवीं में करीब 63 हजार और आठवीं में करीब 65 हजार बच्चे पढ़ रहे हैं।

अगस्त में हुई राज्य मंत्रिमंडल की बैठक में इस शैक्षणिक सत्र से ही पांचवीं और आठवीं कक्षा के विद्यार्थियों को अगली कक्षा में जाने के लिए परीक्षा पास करने की व्यवस्था को मंजूरी दी गई है।
... और पढ़ें
अपने शहर की सभी खबर पढ़ने के लिए amarujala.com पर जाएं

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree