हकाइन-टापरा पेयजल संकट

Sirmour Updated Tue, 18 Sep 2012 12:00 PM IST
रोनहाट (सिरमौर)। गिरिपार क्षेत्र की द्राबिल पंचायत के हकाइना और टापरा गांव में 15 दिनों से पेयजल आपूर्ति बाधित है। जिसके कारण यहां के 30 परिवारों को बरसात के मौसम में भी पानी की बूंद-बूंद के लिए तरसना पड़ रहा है। लोगों ने इस समस्या के लिए सिंचाई एवं जनस्वास्थ्य विभाग को दोषी ठहराया है।
ग्रामीण इंद्र सिंह, दीप राम, चमेल सिंह, हीरा सिंह, गुलाब सिंह, खतरी राम, लायक राम, किरपा राम और चंदन सिंह ने बताया कि गांव में 15 दिनों से पानी की बूंद तक नहीं आई है। जिसके चलते उन्हें दूर मीलों का सफर तय कर पानी ढोकर लाना पड़ रहा है। आईपीएच विभाग के द्वारा स्वलल धारा के तहत फेगुड़ा लाइन से उन्हें पानी की सप्लाई की जाती है, लेकिन क्षेत्र में हो रही भारी बरसात के चलते पाइप लाइन में मिट्टी व पत्थर के फंसने से सप्लाई पूरी तरह से बाधित है। विभाग के कर्मचारी को अवगत कराने के बाद भी न तो विभाग को कोई कर्मचारी आया और न ही पेयजल आपूर्ति को सुचारु रूप से चालू किया गया।
वहीं इस संबंध में आईपीएच उप मंडल शिलाई के कनिष्ठ अभियंता कुंदन सिंह शर्मा ने बताया कि उन्हें इस बारे में ग्रामीणों की कोई शिकायत नहीं मिली है। यदि ऐसा है तो जल्द समस्या हल की जाएगी।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

नतीजों से पहले ही हिमाचल में बीजेपी प्रत्याशी के जीत का जश्न

हिमाचल विधानसभा चुनाव के नतीजे आने में अभी एक दिन बाकी है, लेकिन बीजेपी प्रत्यांशी की जीत के हो‌र्डिंग पहले ही लगा दिए गए।

17 दिसंबर 2017