बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

एक इंच मोटे गिरे ओले, गाड़ियों के शीशे टूटे, फसल तबाह

मंडी Updated Sat, 20 May 2017 07:08 PM IST
विज्ञापन
मंडी की चौहारघाटी में भारी बारिश और ओलावृष्टि से बर्बाद हुई गोभी की फसल।
मंडी की चौहारघाटी में भारी बारिश और ओलावृष्टि से बर्बाद हुई गोभी की फसल। - फोटो : अमर उजाला

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
मंडी। जिलाभर में शुक्रवार रात को ओलावृष्टि और तूफान ने नगदी फसलों पर खासा कहर बरपाया है। जिले के ऊपरी क्षेत्रों करसोग, जंजैहली और चौहारघाटी के बागवानों और किसानों के लिए बारिश आफत बनकर बरसी है। चौहराघाटी में तो एक इंच तक मोटे ओले गिरे हैं। जिससे यहां पर कई गाड़ियों के शीशे तक टूट गए हैं। यहां पर कई गांवों में स्लेटपोश मकानों की स्लेट भी ओलावृष्टि से टूट गए हैं। जिले के मैदानी क्षेत्रों में आम की फसल ओलावृष्टि की भेंट चढ़ गई है। सुंदरनगर, बल्ह, सरकाघाट, धर्मपुर उपमंडलों में भी आम की फसल प्रभावित हुई है।
विज्ञापन


   जिले में ओलावृष्टि ने सबसे अधिक कहर चौहारघाटी में बरपाया है। यहां पर तीन पंचायतों थल्टू खोड़, तरसबाण, लटरान के 35 गांवों में गत रात एक इंच मोटे ओले गिरने से किसानों-बागवानों की गंदम, आलू, जौ, लहुसन, मटर, गोभी, सेब, खुमानी, आडू  की सभी फसलों को नुकसान पहुंचा है। तीन पंचायतों के प्रतिनिधियों प्रधान रोशन लाल, प्रधान सुमित्रा, प्रधान सुरेंद्रा देवी, उपप्रधान नरेश, बुद्धि सिंह, जय सिंह तथा किसान बागवानों रामदेव, जय सिंह, अमर सिंह, कमल, दीवान चंद, प्रेमचंद, चमन लाल, किशोर ने कहा कि रात को एक इंच मोटी ओलावृष्टि से फसलों के साथ फलदार पौधों को नुकसान पहुंचा है। कई गांवों में ओलावृष्टि से स्लेटपोश मकानों की स्लेट भी टूट गई है।


उन्होंने कहा कि इस बारे में पटवारी हलका और टिकन उप तहसील के नायब तहसीलदार को भी रिपोर्ट सौंप दी गई है। उधर, उपतहसील टिकन के नायब तहसीलदार कृष्ण चंद ने कहा कि हलका पटवारियों को नुकसान की रिपोर्ट सौंपने के निर्देश जारी किए हैं। उधर, जंजैहली, करसोग मेें भी सेब, आलू, गंदम, मटर, सहित नकदी फसलें ओलावृष्टि से तबाह हो गई है। यहां पर संबंधित एसडीएम ने नुकसान की रिपोर्ट राजस्व अधिकारियों से मांगी है।

सरकारी आवास पर गिरा पेड़, बच्ची को लगी चोटें
सुंदरनगर (मंडी)। नगर परिषद के नया बाजार स्थित आर्य समाज मंदिर के सामने शनिवार सुबह पीपल का पेड़ विद्युत बोर्ड के सरकारी आवास पर जा गिरा। इससे आवास की छत बुरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गई। पेड़ गिरने के दौरान अंदर मौजूद विद्युत बोर्ड के कर्मियों के परिवार के सदस्य बाल-बाल बच गए। हालांकि हादसे में एक बच्ची को चोटें लगी हैं। जिसका सुंदरनगर के नागरिक अस्पताल में उपचार करवाया गया है। सूचना मिलने पर बीबीएमबी के टाउनशिप विभाग के कर्मियों ने बिजली और पानी की आपूर्ति बंद कर कांट छांट कर जेसीबी से पेड़ को हटाया है। बीबीएमबी के टाउनशिप के अधिशासी अभियंता ई. एसपी शर्मा ने कहा कि पेड़ गिरने से क्षतिग्रस्त आवास से परिवार को सुरक्षित निकाल लिया है। प्रशासन ने बीएसएल कालोनी की सुरक्षा की दृष्टि से ऐसे पुराने चार दर्जन पेड़ काटने की मंजूरी दी है। जिनको काटने का काम काम चल रहा है। इधर, एचपीएसईबीएल के अधिशासी अभियंता ई. जीसी शांडिल ने कहा कि कर्मी का परिवार सुरक्षित है और इन्हें अन्य आवास में शिफ्ट करने के निर्देश कर दिए हैं।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us