12.12.12 को मंडी में डेढ़ दर्जन नवजात जन्मे

Mandi Updated Thu, 13 Dec 2012 05:30 AM IST
मंडी। 12.12.12 के शुभ दिन पर मंडी में डेढ़ दर्जन से ऊपर बच्चों ने जन्म लिया। अकेले क्षेत्रीय अस्पताल मंडी में आधा दर्जन नवजात शिशुओं ने बुधवार को धरती पर अपना कदम रखा। इसमें से एक नवजात के लिए 12 की यह दुर्लभ तिकड़ी शुभ नहीं रही। क्षेत्रीय अस्पताल मंडी में जन्में एक नवजात की जन्म के कुछ ही समय बाद मौत हो गई। बाकी सभी डिलिवरी जिला के सरकारी तथा निजी अस्पतालों में सफल तरीके से हुई। 12 तारीख, 12वां महीना, 12वां साल के दुर्लभ पल को शुभ माना जा रहा है। 12 की तिकड़ी के दिन जन्मे बच्चों को ज्योतिषाचार्य में भाग्यशाली बताया गया है। 12.12.12 को मंडी जिला के सरकारी तथा प्राइवेट अस्पतालों में डेढ़ दर्जन से ऊपर बच्चाें की पहली किलकारियां गूंजी। इनमें कोई भी डिलीवरी अभिभावकों के इच्छा एवं दबाव वश नहीं बताई जा रही है। सिजेरियन डिलीवरी पोस्ट डेटिड आधार पर एक हुई है। बुधवार को क्षेत्रीय अस्पताल मंडी में 6 बच्चाें की नार्मल डिलीवरी हुई। इनमें से एक बच्चे की मौत हो गई। इसके अलावा शहर के प्राइवेट संजीवन अस्पताल में 2, आस्था अस्पताल नेरचौक में 1, जागृति हास्पिटल मंडी में एक पोस्ट डेट होने पर सिजेरियन एवं एक नार्मल डिलीवरी, नागरिक अस्पताल सुंदरनगर में 3 जबकि सरकाघाट सरकारी अस्पताल में 1 नवजात ने अपनी मां के कोख से जन्म लिया।
इधर, क्षेत्रीय अस्पताल मंडी से चिकित्सा अधीक्षक चेतराम वर्मा ने बताया कि 12.12.12 को अस्पताल में 6 बच्चों ने जन्म लिया। इनमें से एक बच्चे की मौत हो गई। अन्य सभी नवजात शिशु स्वस्थ हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हिमाचल में भारी बर्फबारी, कड़ी मशक्कत के बाद निकाले जा रहे हैं वाहन

जम्मू कश्मीर और हिमाचल के कई इलाकों में जमकर बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी की वजह से दोनों ही राज्यों में पारा काफी ज्यादा गिर गया है और जगह जगह रास्ते बंद हो गए हैं।

14 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls