30 दिन में नया पंप देने के निर्देश

Mandi Updated Tue, 18 Sep 2012 12:00 PM IST
मंडी। खराब पंप बेचने को निर्माता और विक्रेता की सेवाओं में कमी करार देते हुए जिला उपभोक्ता फोरम ने उपभोक्ता के पक्ष में 30 दिन में नया पंप देने के आदेश दिए। ऐसा न करने पर उपभोक्ता के पक्ष में पंप की कीमत 18907 रुपये की राशि नौ प्रतिशत ब्याज सहित लौटानी होगी। वहीं पर निर्माता और विक्रेता की सेवाओं में कमी के कारण उपभोक्ता को हुई परेशानी के बदले 200 रुपये हर्जाना और 1500 रुपये शिकायत भी अदा करने का आदेश दिया। जिला उपभोक्ता फोरम के अध्यक्ष राजीव भारद्वाज और सदस्यों रमा वर्मा एवं लाल सिंह ने करसोग तहसील के कलाशन मरोठी गांव निवासी रजनी रावत पत्नी वीएस रावत की शिकायत को उचित मानते हुए निर्माता कैरेना हरियाणा स्थित ओसवाल पंप्स, मनीमाजरा चंडीगढ़ स्थित अराइज मार्केटिंग और करसोग स्थित विक्रेता को उक्त आदेश जारी किए। अधिवक्ता आकाश शर्मा के माध्यम से फोरम में दायर शिकायत के अनुसार उपभोक्ता ने विक्रेता से सात हार्स पावर का एक सबमर्सीबल पंप खरीदा था, लेकिन पंप में खराबी के कारण इसे ठीक करवाने के लिए विक्रेता के पास ले जाया गया। इस पर निर्माता की ओर से भेजे गए मैकेनिक ने पंप की जांच की, जिस पर पंप को बदल कर उपभोक्ता को नया पंप दे दिया गया, लेकिन उपभोक्ता को उस समय फिर से परेशानी का सामना करना पड़ा, जब इस बदले हुए पंप ने भी काम करना बंद कर दिया। इस पर उन्होंने फोरम में शिकायत दर्ज करवाई। फोरम ने दोनों पक्षों की सुनवाई के बाद अपने फैसले में कहा कि वारंटी अवधि में खराब हुए पंप को नहीं बदलना निर्माता और विक्रेता की सेवाओं में कमी को दर्शाता है। ऐसे में फोरम ने उपभोक्ता के पक्ष में 30 दिनों के भीतर नया पंप देने या ऐसा न होने पर पंप की कीमत ब्याज सहित अदा करने के आदेश दिए। वहीं पर निर्माता और विक्रेता की सेवाओं में कमी के कारण उपभोक्ता को पहुंची परेशानी के बदले हर्जाना और शिकायत व्यय भी अदा करने के आदेश दिए।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हिमाचल में भारी बर्फबारी, कड़ी मशक्कत के बाद निकाले जा रहे हैं वाहन

जम्मू कश्मीर और हिमाचल के कई इलाकों में जमकर बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी की वजह से दोनों ही राज्यों में पारा काफी ज्यादा गिर गया है और जगह जगह रास्ते बंद हो गए हैं।

14 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls