पुरुष भी हैं महिलाओं से प्रताड़ित

Mandi Updated Tue, 28 Aug 2012 12:00 PM IST
मंडी। प्रदेश महिला आयोग की अध्यक्ष धनेश्वरी ठाकुर ने कहा कि पारिवारिक अंतर्कलह से उपजे छोटे-छोटे पति-पत्नी के बीच तकरार का कारण बनते जा रहे हैं। नौबत परिवार के टूटने और पति-पत्नी के बीच तलाक तक की आ जाती है। ऐसे मामलों को घर द्वार पर आपसी समझ से सुलझा कर बिखारते परिवारों बचाया जा सकता है।
सोमवार को मंडी में महिला आयोग की अदालत का आयोजन किया गया। इसमें इस तरह के 28 मामले प्रस्तुत हुए। इनमें से 26 मामले मंडी जिला, एक बैजनाथ तथा एक कुल्लू जिला से संबंधित था। इन मामलों में से 5 का समझौता कर दिया गया। बाकि मामलों को सुलझाने का प्रयास अगली सुनवाई में किया जाएगा। प्रदेश में गत वर्ष लगभग 600 मामले आयोग के समक्ष आए हैं। इनमें से 417 मामले लंबित है। इनमें 60 प्रतिशत महिलाओं तथा 40 प्रतिशत पुरुषों की ओर से दायर किए गएहैं । पति-पत्नी के बीच बढ़ते तनाव एवं कलह का मुख्य कारण पाश्चात्य सभ्यता का प्रभाव भी है।
एक-दूसरे के प्रति आदर सम्मान तथा संयम में रहने की प्रवृति कम होती जा रही है। अब तो आयोग के पास अधिकतर मामले ऐसे भी आ रहे हैं, जिनमें महिलाओं द्वारा पुरुषों को प्रताड़ित करने की शिकायत है। आयोग ऐसे मामलों को सहानुभूति पूर्वक निपटारा करने का प्रयास करता है। इस अवसर पर महिला आयोग की सदस्य पुष्पा ठाकुर एवं शीला देवी भी मौजूद थीं।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हिमाचल में भारी बर्फबारी, कड़ी मशक्कत के बाद निकाले जा रहे हैं वाहन

जम्मू कश्मीर और हिमाचल के कई इलाकों में जमकर बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी की वजह से दोनों ही राज्यों में पारा काफी ज्यादा गिर गया है और जगह जगह रास्ते बंद हो गए हैं।

14 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls