विज्ञापन

नब्बे फीसदी तक सूखीं धर्मपुर की 17 स्कीमें

Mandi Updated Thu, 21 Jun 2012 12:00 PM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
धर्मपुर (मंडी)। क्षेत्र में जैसे-जैसे गर्मी भीषण रूप धारण कर रही है पानी की समस्या प्रतिदिन गहरा रही है। बारिश न होने से प्राकृतिक जल स्रोत एवं नाले, खड्डे सूख चुकी हैं। इससे यहां की लगभग सभी पेयजल योजनाएं बंद होने की कगार पर हैं। वहीं, स्थानीय लोगों, स्कूली बच्चों को पानी की समस्या से जूझना पड़ रहा है। जबकि मवेशियों की हालत भी खराब है। आईपीएच विभाग भी इस भीषण गर्मी से निपटने में मजबूर दिख रहा है। क्योंकि अब पूरे क्षेत्र में पानी के लिए हाहाकार मचना शुरू हो गया है। क्षेत्र की एलडब्ल्यूएसएस स्कीम हयूण पैहड़, नैनी खेड़ी, कमलाह, डरवाड़, छतरैण गरली, शेरपुर, भूर, खनौड़, बरोटी, बनेहरडी, कुम्हारडा, लगेंहड़, दरयोगली, भड़यार, हयूण गयूण द्रुमण, लुधियाना, रियुर डिडणु हवाणी की स्कीमें ठप होने की कगार पर हैं। इन योजनाओं का पानी 90 प्रतिशत तक सूख चुका है। कांढापतन से ध्वाली, पड़ोह का गलू स्कीम भी 70 प्रतिशत तक प्रभावित हुई है। अब जल्द बारिश नहीं हुई तो विभाग की सिरदर्दी बढ़ जाएगी। क्षेत्र की डरवाड़ पंचायत एवं कमलाह पंचायत में तो काफी पहले से ही पेयजल की समस्या है जो अब विकट रूप धारण कर चुकी है। लोगों ने प्रदेश सरकार, प्रशासन व विभाग से इस समस्या से निपटने के लिए उचित कदम उठाने की अपील की है। उधर, अधिशाषी अभियंता बीएस राणा ने बताया कि विभाग सबको पानी उपलब्ध कराने की कोशिश कर रहा है। जहां टैंकरों से पानी दिया जाना है उसके लिए प्रशासन को अवगत करवा दिया है।
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us