मंडी बस अड्डे को लेकर सियासी घमासान

Mandi Updated Wed, 09 May 2012 12:00 PM IST
मंडी। मंडी के मुख्य बस अड्डे को लेकर कांग्रेस और भाजपा के बीच सियासी घमासान थमता नजर नहीं आ रहा है। यह बस अड्डा वर्ष 1993 से सुर्खियों में है। जब बतौर केंद्रीय मंत्री पंडित सुखराम ने बिना बजट के ही बस अडडे का शिलान्यास कर दिया था, मगर प्रदेश की तत्कालीन कांग्रेस सरकार के मुखिया वीरभद्र सिंह से उनके रिश्तों में आई दरार के चलते इस बस अड्डे का निर्माण ठंडे बस्ते में पड़ा रहा। हालांकि, 1998 में भी हिविंका-भाजपा गठबंधन सरकार के दौरान मंडी बस अड्डा सियासी घोषणाओं के बीच चर्चा में रहा। भाजपा सरकार के शासनकाल में परिवहन मंत्री महेंद्र सिंह के प्रयासों से पं. सुखराम का यह सपना साकार होने लगा। इसका भूमि पूजन मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल ने किया और बस अड्डे का निर्माण कार्य शुरू हो गया। इस दौरान भी कभी बसों की संख्या को लेकर तो कभी भूमि अधिग्रहण को लेकर मंडी का बस अड्डा सुर्खियों में रहा। यहां तक कि मुख्यमंत्री को भी विस में मंडी बस अड्डे के बारे में जवाब देना पड़ा। स्थानीय विधायक और भाजपा के बीच मंडी बस अड्डे को लेकर घमासान जारी है। एक ओर जहां स्थानीय विधायक बस अड्डे के नाम पर परिवहन मंत्री पर सरकार और लोगों को गुमराह करने का आरोप लगा रहे हैं, वहीं सदर भाजपा स्थानीय विधायक को विकास विरोधी करार दे रही है। अनिल शर्मा का आरोप है कि परिवहन मंत्री बस अड्डे में 58 बसें खड़ी होने की बात कर लोगों को गुमराह करते रहे हैं। बस अड्डे को शापिंग कांप्लैक्स बनाकर रख दिया है। यहां बसें खड़ी करने को जगह कम और दुकानें अधिक बना दी हैं। सदर मंडल भाजपा के अध्यक्ष श्याम लाल ने विधायक अनिल शर्मा को विकास विरोधी करार देते हुए कहा कि बेरोजगार युवाओं को रोजगार देने के लिए दुकानें जरूरी हैं। वर्तमान सरकार के समय में ही बस अड्डे का निर्माण पूरा हो रहा है। इसमें विधायक अड़ंगा अड़ा रहे हैं।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हिमाचल में भारी बर्फबारी, कड़ी मशक्कत के बाद निकाले जा रहे हैं वाहन

जम्मू कश्मीर और हिमाचल के कई इलाकों में जमकर बर्फबारी हो रही है। बर्फबारी की वजह से दोनों ही राज्यों में पारा काफी ज्यादा गिर गया है और जगह जगह रास्ते बंद हो गए हैं।

14 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls