केलांग में फंसे 12 पोस्टल बैलेट

Kullu Updated Tue, 18 Dec 2012 05:30 AM IST
केलांग (लाहौल-स्पीति)। मौसम ने प्रत्याशियों और प्रशासन की दिक्कत बढ़ा दी है। विधानसभा चुनाव की मतगणना नजदीक है। ऐसे में रोहतांग दर्रा बंद होने से लाहौल के 12 पोस्टल बैलेट केलांग मुख्यालय में ही फंसे हुए हैं। कांटे की इस टक्कर में यह वोट काफी अहमियत रखते हैं। देखना यह है कि अगर मौसम साफ रहता है तो क्या प्रशासन हेलीकाप्टर का प्रबंध करता है या फिर कुछ और।
केलांग डाकघर में अभी एक दर्जन पोस्टल बैलेट फंसे हुए हैं। पोस्टल विभाग से मिली जानकारी के मुताबिकलगभग 12 पोस्टल बैलेट अभी केलांग डाकघर में ही फंसे हैं। बर्फबारी के कारण रोहतांग दर्रा बंद हो चुका है। दो दिन बाद कुल्लू के भुंतर में लाहौल स्पीति विधानसभा क्षेत्र के वोटों की गिनती होनी है। मंडी में तैनात डाक विभाग नॉर्थ जोन सीनियर सुपरिंटेंडेंट भवानी प्रसाद ने केलांग में करीब एक दर्जन पोस्टल बैलेेट फंसे होने की पुष्टि की है।
उधर, लाहौल विधानसभा के कुछ और पोस्टल बैलेट कुल्लू-मनाली के डाक घरों में भी फंसे होने की आशंका जाहिर की जा रही है। भवानी प्रसाद की मानें तो सरहदों में तैनात सैनिकों को अपना पोस्टल बैलेट जिला निर्वाचन अधिकारी लाहौल स्पीति के पते पर भेजे हैं। भाजपा प्रत्याशी डा. रामलाल मारकंडेय और कांग्रेस के रवि ठाकुर का कहना है कि चुनाव जीतने के लिए एक-एक वोट महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं। ऐसे में बर्फ के बीच फंसे पोस्टल बैलेट की गिनती हर हाल में होनी चाहिए। जिला निर्वाचन अधिकारी एवं उपायुक्त लाहौल स्पीति एसएस गुलेरिया का कहना है कि घाटी में फंसे पोस्टल बैलेट को कुल्लू पहुंचाने की जिम्मेदारी डाक विभाग की है। अगर बैलेट पेपर किसी कारणवश भुंतर नहीं पहुंच पाए तो मुख्य चुनाव आयोग को पत्र लिखा है कि एसडीएम केलांग को मतों की गिनती का अधिकार दिया जाए।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बर्फ से ढकी हिमाचल की सड़कों पर पहली बार चली ये खास मशीन

हिमाचल प्रदेश ऊंचे इलाकों में बर्फबारी लगातार हो रही है। इस कारण रास्ते जाम हो गए हैं। इस हालात से निपटने के लिए पहली बार स्नो कटर का इस्तेमाल हो रहा है यहां के जलोड़ी दर्रा नेशनल हाईवे पर।

17 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls