बाहंग में डंगा लगा मनाली-लेह मार्ग बहाल

Kullu Updated Mon, 06 Aug 2012 12:00 PM IST
मनाली। रोहतांग टनल के साउथ पोर्टल से होकर बहने वाले सेरी नाला में बादल फटने से मची तबाही के बाद अब जनजीवन पटरी पर लौटने लगा है। बाहंग में सड़क का बड़ा हिस्सा नदी के बहाव में बहने के कारण लगभग 24 घंटों तक यातायात ठप रहा। रविवार सुबह बीआरओ ने कड़ी मशक्कत के बाद यातायात बहाल कर दिया है। हालांकि, मरम्मत कार्य को देखते हुए फिलहाल सैलानियों को रोहतांग और सोलंगनाला जाने की इजाजत नहीं दी जा रही।
सोमवार को भी दिन भर प्रशासन का पूरा अमला राहत कार्यों में जुटा रहा। सेब सीजन सिर पर है। समय पर सड़कें बहाल नहीं हुईं तो लोगों को दिक्कतों का सामना करना पडे़गा। ऐसे में ऊझी घाटी के लोगों को अपना उत्पादन सड़क पर पहुंचाने में दिक्कतें पेश आ सकती हैं। सोलंग गांव को जोड़ने वाले पुल के स्थान पर ग्रामीणों ने स्वयं ही रास्ते का निर्माण कर दिया है। बाहंग में बीआरओ ने डंगा लगाकर सड़क बहाल कर दी है। हालांकि, ट्रैफिक जाम की समस्या अभी भी बनी हुई है। सड़क बहाल होते ही लाहौल घाटी में फंसे मटर से लदे ट्रक और सैलानी मनाली पहुंच गए हैं। एसडीएम मनाली बलवीर सिंह ने बताया कि बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है। बीआरओ ने सड़क मार्ग बहाल कर वाहनों की आवाजाही शुरू कर दी है। लाहौल में फंसे वाहनों और सैलानियों को पहले भेजा जा रहा है। जबकि सैलानियों को फिलहाल जाने की इजाजत नहीं दी जा रही। बीआरओ के कमांडर कर्नल योगेया नायर ने कहा कि सड़क मार्ग बहाल हो गया है।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बर्फ से ढकी हिमाचल की सड़कों पर पहली बार चली ये खास मशीन

हिमाचल प्रदेश ऊंचे इलाकों में बर्फबारी लगातार हो रही है। इस कारण रास्ते जाम हो गए हैं। इस हालात से निपटने के लिए पहली बार स्नो कटर का इस्तेमाल हो रहा है यहां के जलोड़ी दर्रा नेशनल हाईवे पर।

17 दिसंबर 2017