1200 रुपए मानदेय पंस सदस्यों के साथ अन्याय

Kullu Updated Thu, 10 May 2012 12:00 PM IST
कुल्लू। पंचायत समिति कुल्लू के सदस्यों की बैठक में सदस्यों के मानदेय का मुद्दा छाया रहा। सदस्यों का कहना था कि उनका मानदेय प्रधानों से भी कम तय कर रखा है। यह जायज नहीं। प्रधान एक पंचायत का प्रतिनिधित्व करता है जबकि पंचायत समिति सदस्य एकसाथ दो से तीन पंचायतों का प्रतिनिधित्व करते हैं। लिहाजा पंस सदस्यों का मानदेय अधिक होना चाहिए। सदस्यों ने साफ किया कि यदि मानदेय में बढ़ोतरी नहीं की गई तो आंदोलन छेड़ दिया जाएगा।
कुल्लू में आयोजित इस बैठक में मानदेय की राशि को लेकर पंचायत समिति सदस्यों ने सरकार के प्रति तल्खी जाहिर की है। समिति सदस्यों ने संयुक्त रूप से बैठक में प्रस्ताव पारित कर मानदेय कम से कम पांच हजार रुपए करने की मांग की है। बैठक की अध्यक्षता पंस अध्यक्ष मेघ सिंह ठाकुर ने की।
मेघ सिंह ठाकुर ने कहा कि उनका मानदेय न के बराबर है। वर्तमान में बीडीसी सदस्यों को महज 1200 रुपये मानदेय दिया जा रहा है। वहीं पंचायत प्रधानों का मानदेय 1500 रुपए है। बीडीसी अध्यक्ष ने कहा कि यदि सरकार ने उनकी मांग एक सप्ताह के भीतर नहीं मानी तो सभी जन प्रतिनिधियों को साथ लेकर आंदोलन छेड़ दिया जाएगा। बैठक में बीडीसी उपाध्यक्ष गोविंद सिंह ठाकुर, सदस्य जीवन लाल, जगरनाथ, शीला देवी, रमेश ठाकुर, घनश्याम ठाकुर, संतोषी देवी, कल्पना ठाकुर, रोशनी देवी, अनीता देवी और भूमि राम आदि उपस्थित रहे।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

बर्फ से ढकी हिमाचल की सड़कों पर पहली बार चली ये खास मशीन

हिमाचल प्रदेश ऊंचे इलाकों में बर्फबारी लगातार हो रही है। इस कारण रास्ते जाम हो गए हैं। इस हालात से निपटने के लिए पहली बार स्नो कटर का इस्तेमाल हो रहा है यहां के जलोड़ी दर्रा नेशनल हाईवे पर।

17 दिसंबर 2017