आयुर्वेदिक डाक्टरों ने सीएम के समक्ष रखी मांगें

Chamba Updated Thu, 09 Aug 2012 12:00 PM IST
पुखरी (चंबा)। आयुर्वेदिक अस्पतालों में सेवाएं दे रहे आरकेएस के तहत नियुक्त चिकित्सकों का एक प्रतिनिधिमंडल चिकित्सक दीक्षा शर्मा की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल से मिला और समस्या बारे अवगत करवाया।
इस मौके पर डा. सुमन शर्मा, डा. बीके गुप्ता, डा. सचिव धवन, डा. गुरुबख्श ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि सेवाएं दे रहे आरकेएस चिकित्सकों के लिए तबादला नीति बनाई जाए। लंबे समय चिकित्सक दुर्गम इलाकों में सेवाएं दे रहे हैं। इस कारण उन्हें सेवाएं देने में दिक्कत भी पेश आ रही है। तबादला नीति बनती है तो चिकित्सकों को ओर जगहों में भी सेवाएं देने का मौका मिलेगा। चिकित्सकों को रहने के लिए उचित सुविधाएं मुहैया करवाई जाएं। सेवाएं दे रहे चिकित्सक किराये के भवनों में रह रहे हैं। साथ ही आरकेएस चिकित्सकों का मानदेय कम है।
उन्हाेंने मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल से मांग की कि जल्द ही उनकी मांगों को मांगने के अलावा मानदेय में भी इजाफा किया जाए।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल प्रदेश की जनता ने तोड़े पुराने रिकॉर्ड, हुआ 74.45% मतदान

हिमाचल प्रदेश विधानसभा की 68 सीटों के लिए हुए मतदान में कुल 74% मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मतगणना 18 दिसंबर को होगी। रिपोर्ट में देखिए हिमाचल प्रदेश में हुए मतदान की सारी जानकारी।

10 नवंबर 2017