कुम्हारका स्कूल में स्टाफ का टोटा

Chamba Updated Tue, 08 May 2012 12:00 PM IST
चंबा। राजकीय उच्च पाठशाला कुम्हारका में अध्यापकों के पद खाली चल रहे हैं। इसको लेकर स्कूल प्रबंधन समिति ने बैठक का आयोजन भी किया, जिसकी अध्यक्षता समिति के अध्यक्ष धर्मेंद्र कुमार ने की। इस अवसर पर चिंता जाहिर की गई कि अध्यापकों के खाली पद चलने से बच्चाें की पढ़ाई भी प्रभावित हो रही है। स्कूल में मुख्याध्यापक, पीईटी अध्यापक के पद खाली हैं। साथ ही लंबे समय से क्लर्क का पद भी नहीं भरा गया है। उन्होंने कहा कि इन पदों को भरने के लिए पहले भी कई बार प्रस्ताव प्रबंधक समिति द्वारा भेजे गए हैं। अभी तक स्थिति जैसी की तैसी बनी हुई है। प्रबंधक समिति ने इन खाली पदों को भरने के लिए प्रस्ताव पारित किया और प्रदेश सरकार से मांग की गई कि खाली पदों को शीघ्र भरा जाए। उन्होंने कहा कि अध्यापकों के पद खाली होने से बच्चे अभी तक अपनी पढ़ाई शुरू भी नहीं कर पाए हैं। इस अवसर पर स्कूल प्रबंधन कमेटी के सदस्य निर्मला देवी, मंजू, कंचन, केहर सिंह व रमेश कुमार भी मौजूद थे। इसके अलावा एसएमसी ने प्रस्ताव पारित करके स्कूल में चौकीदार की स्थायी नियुक्ति करने की भी मांग की है।
इसमें लिखा गया है कि स्कूल जंगल में स्थित है और यहां चोरी की कई घटनाएं हो चुकी हैं। यहां पार्टटाइम व होल टाइमर महिलाओं के पद हैं, मगर इनसे रात्रि सेवा नहीं ली जा सकती।
बाक्स-
स्कूल का दर्जा बढ़ाने का भी प्रस्ताव
चंबा। कुम्हारका स्कूल प्रबंधन कमेटी ने अपनी बैठक में स्कूल का दर्जा बढ़ाकर जमा दो करने का भी प्रस्ताव पारित किया है। कमेटी अध्यक्ष ने कहा कि इस संबंध में कई बार मांग की गई है, मगर अभी तक इसकी अधिसूचना नहीं जारी की गई है। उन्होंने कहा कि स्कूल में नौ कमरे हैं और चार अतिरिक्त कमरों का निर्माण जारी है। लिहाजा स्कूल का दर्जा बढ़ाने के लिए यहां पर्याप्त संसाधन हैं। उन्होंने इसकी प्रति मुख्यमंत्री प्रो. प्रेम कुमार धूमल, शिक्षा मंत्री आईडी धीमान, स्थानीय विधायक बीके चौहान, उच्च शिक्षा निदेशक को भेजी है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल प्रदेश की जनता ने तोड़े पुराने रिकॉर्ड, हुआ 74.45% मतदान

हिमाचल प्रदेश विधानसभा की 68 सीटों के लिए हुए मतदान में कुल 74% मतदाताओं ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया। मतगणना 18 दिसंबर को होगी। रिपोर्ट में देखिए हिमाचल प्रदेश में हुए मतदान की सारी जानकारी।

10 नवंबर 2017