जिंदगी-मौत से जूझ रहे 166 लोगों को बचाया

Bilaspur Updated Wed, 12 Dec 2012 05:30 AM IST
बिलासपुर। राज्य में शुरू हुई 108 अटल एंबुलेंस सेवा आपातकाल में वरदान साबित हुई है। जनपद बिलासपुर में अक्तूबर महीने तक इस सेवा के तहत जिंदगी और मौत से जूझ रहे 166 लोगों को नया जीवन मिला है। उपायुक्त रितेश चौहान ने यहां जारी बयान में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि 31 अक्तूबर तक जिला में आपातकालीन चिकित्सा से संबंधित 17940 मामले आए हैं, जिसमें 108 एंबुलेंस सेवा ने अपनी सेवाएं प्रदान कर लोगों को लाभान्वित किया है।
उन्होंने कहा कि अब तक 2961 गर्भवती महिलाओं से संबंधित मामले, 1053 दुर्घटनाओं से संबंधित मामले, 834 दिल के रोगों से संबंधित मामले, 1094 सांस के रोगों से संबंधित मामलों में आपातकालीन सेवाएं प्रदान की गई। जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहे 166 लोगों को त्वरित सेवा प्रदान कर उन्हें नवजीवन प्रदान करने में भी इन वाहनों के चालकों तथा तकनीकी स्टाफ की अहम भूमिका रही है। इसी प्रकार 70 गर्भवती महिलाओं की प्रसूति के मामलों में भी अब तक जिला बिलासपुर में आपातकालीन सेवाएं प्रदान कर रहे 108 के इमरजेंसी वाहन कारगर साबित हुए हैं। जिला बिलासपुर में अटल स्वास्थ्य सेवा के अंतर्गत जीवीके ईएमआरआई सोलन द्वारा उपलब्ध करवाए गए छह 108 एंबुलेंस शहर से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों तक लोगों को सुविधा प्रदान कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत 108 नंबर पर सूचना देने के बाद शहरी क्षेत्रों में तुरंत तथा ग्रामीण क्षेत्रों में 30 से 35 मिनट के भीतर यह सेवा दी जाती है। इन आपातकालीन सेवाओं से अब तक 1137 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र के अंतर्गत 382056 की जनसंख्या को कवर किया गया हैै।
जिला में वर्तमान में 108 एंबुलेंस वाहनों के माध्यम से प्रति दिन एक लाख की जनसंख्या पर लगभग आठ प्रतिशत आपातकालीन मामलों में सेवाएं प्रदान की जा रही हैं। जिला बिलासपुर में औसतन 194.5 वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में 63676 तक की जनसंख्या को कवर कर रहे हैं। माह अक्तूबर में 109 विभिन्न प्रकार के आपातकालीन मामलों में यह सेवा प्रदान की गई। इतना ही नहीं जिला में आपातकालीन सेवाएं प्रदान कर रहे 108 वाहनों के माध्यम से 657 पुलिस से संबंधित मामलों तथा 142 आगजनी की घटनाओं से संबंधित मामलों में भी सहयोग किया गया।

Spotlight

Most Read

Champawat

एसएसबी, पुलिस, वन कर्मियों ने सीमा पर कांबिंग की

ठुलीगाड़ (पूर्णागिरि) में तैनात एसएसबी की पंचम वाहिनी की सी कंपनी के दल ने पुलिस एवं वन विभाग के साथ भारत-नेपाल सीमा पर सघन कांबिंग कर सुरक्षा का जायजा लिया।

21 जनवरी 2018

Related Videos

ये वीडियो देखकर आपकी आंखे फटी रह जाएंगी

हिमाचल प्रदेश में एक बड़ा हादसा होते-होते बच गया। यहां एक स्टीमर को पानी में उतारने के लिए लाई गई मशीन ही पानी में गिर गई। देखिए जरा ये तस्वीर।

17 दिसंबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper