लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Yamuna Nagar News ›   Radhakrishna Colony: You get relief after hearing the name, you get peace as soon as you leave

राधाकृष्ण कॉलोनी : नाम सुनकर मिले सुकून, जाते ही छिन जाए चैन

Amar Ujala Bureau अमर उजाला ब्यूरो
Updated Fri, 25 Nov 2022 06:30 AM IST
विज्ञापन
वार्ड नंबर-3 की राधा कृष्णा कॉलोनी का नाम सुनते ही लोगों को बेहद सुखद अनुभव होता है, लेकिन जब कॉलोनी जाना पड़ जाए तो लोगों को आफत नजर आती है। कारण यह कालौनी कई समस्याओं से घिरी हुई है। कॉलोनी का नाम भले रही राधा कृष्ण हो, लेकिन यहां पर हर तरफ गंदगी और अव्यवस्था का माहौल है। कॉलोनी में गंदगी के ढेर लगे हुए हैं।

नालियां जाम रहती हैं, जिससे पानी गलियों में बहता है। सफाई कर्मचारी आते नहीं हैं और जिससे कचरा फैला रहता है। यदा कदा कर्मचारी आएं तो औपचारिकताएं कर लौट जाते हैं। मामूली बारिश में गलियों में पानी भर जाता है। गंदा पानी घरों में मार करता है। इन समस्याओं के चलते लोग हमेशा परेशान रहते हैं। कॉलोनी वासी इसकी शिकायत करते हैं, लेकिन अधिकारी इस ओर ध्यान नहीं देते हैं। जिससे कॉलोनी वासियों में भारी रोष है।

इसे लेकर बुधवार को लोगों ने नगर निगम अधिकारियों के खिलाफ नाराजगी जताई। लोगों ने कहा कि कॉलोनी में गंदगी व अव्यवस्थाओं के कारण उनका रहना मुहाल हो गया है। घरों में मक्खी मच्छरों के साथ जहरीले कीटों की भरमार हो गई है। लोगों ने प्रशासन से समस्या से निजात दिलवाने की मांग की है। लोगों ने कहा कि यदि प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं देगा, तो उन्हें सड़क पर उतरना पड़ेगा।
मोहिनी कौर ने बताया कि कॉलोनी की नालियां जाम रहती हैं। सफाई कर्मचारी आते नहीं है। जाम नालियों से पानी गलियों में बहता है। गंदगी और बदबू के कारण घरों में रहना मुश्किल हो गया है। घरों में मक्खी मच्छरों की भरमार हो गई है। जिससे लोग बीमार पड़ रहे हैं। कई बार शिकायत कर चुके हैं, लेकिन कोई इस ओर ध्यान नहीं देता है।
आशु ने बताया कि कॉलोनी का नाम राधाकृष्ण है, लेकिन दर्शन इसके विपरीत हैं। गंदगी और बदबू के कारण बाहर के लोग इस कॉलोनी में आने से कतराते हैं। कॉलोनी के हर घर के बाहर कचरे का ढेर लगा हुआ है। जिससे घरों में रहना मुश्किल हो गया है। बारिश में गलियां पानी से भर जाती है। पानी घरों में मार करता है।
पंकज वर्मा ने बताया कि कॉलोनी के सीवरेज काफी दिनों से ब्लॉक पड़े हैं। जाम होने के सीवर घरों में बैक मार रहे हैं। घरों में गंदगी फैल रही है और बदबू से बैठना तक मुश्किल हो गया है। मक्खी मच्छरों के कारण आए दिन बीमार हो रहे हैं। कॉलोनी में पांच बच्चे मच्छर जनित रोगों से पीड़ित हैं। शिकायत के बावजूद इस ओर ध्यान नहीं दिया जा रहा है।
विज्ञापन
विजय कुमार मेहता ने कहा कि कॉलोनी की गलियां कच्ची है। कच्ची गलियों के कारण लोगों का चलना मुश्किल हो गया है। सबसे ज्यादा परेशानी बच्चों और बुजुर्गों को आती है। कई बार कॉलोनी के बुजुर्ग गिरकर चोटिल हो थचुके हैं। कॉलोनी में लोग आने से कतराते हैं और उनके बच्चों के रिश्ते नहीं हो पा रहे हैं। प्रशासन इस ओर ध्यान दे।
कॉलोनी की स्थिति के बारे उन्हें जानकारी नहीं है। सफाई को लेकर नगर निगम गंभीरता से कार्य कर रहा है। यह उनके संज्ञान में नहीं हैं। इसके लिए वे अधिकारियों को निर्देश देंगे। कॉलोनी का मुआयना करके स्थिति का पता किया जाएगा। जो भी समस्या है एक सप्ताह में उसका समाधान कर दिया जाएगा।
मदन चौहान, मेयर।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00