पवित्र स्नान कर धन्य हुए आठ लाख श्रद्धालु

Yamuna Nagar Updated Wed, 28 Nov 2012 12:00 PM IST
यमुनानगर। कार्तिक पूर्णिमा पर तीर्थराज कपालमोचन के पवित्र सरोवरों में करीब आठ लाख श्रद्धालुओं ने आस्था की डुबकी लगाई। इसके बाद सरोवरों के किनारे दीपदान और मंदिरों में पूजा अर्चना की गई। रात के घुप अंधेरे में उमडे़ श्रद्धा के सैलाब को देखकर एक अद्भुत रोमांच की अनुभूति हुई। पूरे भक्ति भाव से इस तीर्थ स्थल को नमन करने के बाद श्रद्धालुओं ने वापसी की राह पकड़ ली।
मंगलवार रात 12 बजे जैसे ही घड़ी की सुइयां एक सीध में आईं, श्रद्धालुओं ने अपने-अपने टेंट और धर्मशालाओं से निकलकर सरोवरों की ओर बढ़ना शुरू कर दिया। आधे घंटे पहले तक जो सरोवर सूने पड़े थे, उनमें स्नान आरंभ होते ही हर तरफ श्रद्धालु ही श्रद्धालु नजर आए। नंगे बदन, अपने ईष्ट देव का नाम बुदबुदाते श्रद्धालुओं की आस्था के आगे सर्द रात बौनी नजर आई। लाखों की भीड़ में बिछुड़ने के डर से महिला श्रद्धालु एक-दूसरे का हाथ पकड़े सरोवरों की ओर बढ़ती रहीं। बावजूद कई युवा और बुजुर्ग श्रद्धालु अपने साथियों से बिछुड़ गए। सूचना एवं जन संपर्क विभाग की ओर से बनाए गए सेंटर में तैनात कर्मचारियों ने इन्हें अपनों से मिलवाया। सरोवरों में स्नान के बाद श्रद्धालुओं ने दीपदान किया।
गाय बच्छा घाट के मंदिरों में पूजा के लिए श्रद्धालुओं का भारी जमावड़ा लगा रहा। यह तीर्थ सांप्रदायिक सद्भाव के लिए जाना जाता है। एक तरफ सिख श्रद्धालु पूरे भक्ति भाव से मंदिरों में पूजा करते नजर आए वहीं हिंदू श्रद्धालुओं ने कपालमोचन गुरुद्वारे में सिर ढककर श्री गुरु ग्रंथ साहिब के आगे शीश नवाया। श्रद्धालुओं द्वारा पूरे मेला क्षेत्र में सौ से अधिक स्थानों पर लंगर और भंडारे लगाए थे जिनमें पांच दिन तक लोग प्रसाद ग्रहण करते रहे। कार्तिक पूर्णिमा का स्नान आरंभ होने के बाद करीब डेढ़ घंटे तक तीनों पवित्र सरोवरों में पैर रखने की जगह नहीं मिली। डीसी अशोक सांगवान और अन्य अधिकारी कई घंटों तक मेला क्षेत्र में घूमकर स्थिति का जायजा लेते रहे। श्रद्धालु भी इस बार प्रशासन द्वारा किए गए इंतजाम से खुश नजर आए।

मेले में सुविधाओं के साथ दिक्कतें भी हुईं
मोटर खराब होेने से पेयजल संकट
सूरजकुंड सरोवर के पास मंगलवार दोपहर को ट्यूबवेल की मोटर खराब होने से पेयजल सप्लाई ठप हो गई जिससे श्रद्धालुओं को पीने के पानी की भारी किल्लत हो गई।
सरोवरों में पानी कम
कपालमोचन, ऋण मोचन और सूरजकुंड सरोवरों में इस बार पानी कम होने से श्रद्धालुओं को स्नान में दिक्कतों का सामना करना पड़ा। पवित्र सरोवरों में डुबकी लगाने के लिए आए श्रद्धालुओं को इससे मायूस होना पड़ा।
हार्ट अटैक से श्रद्धालु की मौत
मेले में लंगर सेवा के लिए आए नवयुवक श्रद्धालु की सोमवार रात को हार्ट अटैक होने से मौत हो गई। श्रद्धालु मंगलवार सुबह अपने स्थान पर मृत मिला। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
ट्रांसफार्मर में लगी आग
कपालमोचन मेले में भवानीपुर मोड़ पर पार्किंग के पास लगे ट्रांसफार्मर में मंगलवार दोपहर अचानक आग लग गई। बिजली निगम के कर्मियों ने पीछे से मुख्य सप्लाई बंद करवाई तब जाकर आग को बुझाया गया।
एसपी ने किया औचक निरीक्षण
मंगलवार को एसपी मितेश जैन ने कपालमोचन मेले का औचक निरीक्षण किया। उन्होंने कमांडो के साथ मिलकर सड़क पर अवैध रूप से सामान रख कर बैठे लोगों को वहां से उठवाया। उन्होंने पुलिसकर्मियों को अपनी ड्यूटी ईमानदारी से करने की सलाह दी। क्योंकि मंगलवार रात को कार्तिक पूर्णिमा के अवसर पर मेले का सबसे बड़ा स्नान होना था। इसलिए मंगलवार को एसपी मितेश जैन ने पूरे मेले का औचक निरीक्षण कमांडों के साथ किया।

Spotlight

Most Read

Jammu

पाकिस्तान की फायरिंग पोजिशन, बीएसएफ ने दिया मुंहतोड़ जवाब, 15 पाक रेंजर ढ़ेर

सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने पाकिस्तानी गोलाबारी का मुंहतोड़ जवाब दिया है। पाकिस्तान की कई फायरिंग पोजिशन, आयुध भंडार और फ्यूल डिपो को बीएसएफ ने उड़ा दिया है

22 जनवरी 2018

Related Videos

छेड़छाड़ रोकने गए पुलिस कर्मियों की इन लोगों ने फाड़ दी वर्दी

लोग कानून के रखवालो पर भी हमला करने से नही चूकते। ताज़ा मामला हरियाणा के नन्दा कॉलोनी का है जहां लड़की के साथ छेड़छाड़ के मामले की सूचना मिलने पर पहुंचे पीसीआर के पुलिसकर्मियों पर लोगों ने हमला बोल दिया। यही नहीं उनकी वर्दी तक फाड़ डाली।  

17 अक्टूबर 2017

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper