विज्ञापन
विज्ञापन

10 करोड़ की लागत से पश्चिमी यमुना नहर पर बना बुड़िया पुल चढ़ा ओवरलोड की भेंट, एक सिरा धंसने से खुला जोड़

Rohtak Bureauरोहतक ब्यूरो Updated Sun, 16 Jun 2019 12:37 AM IST
ख़बर सुनें

विज्ञापन
विज्ञापन
बीकेडी (बुड़िया-खदरी-देवधर) मार्ग पर बुड़िया के पास पश्चिमी यमुना नहर पर 10 करोड़ रुपये की लागत से बना पुल ओवरलोड वाहनों की भेंट चढ़ गया। एक सिरा नीचे धंस जाने से पुल का जोड़ खुल गया है। जोड़ खुल जाने से पुल और सड़क के बीच करीब आधा फुट की दरार हो गई है। इससे क्षेत्र के लोगों को हरदम पुल ढहने का भय सता रहा है। पुल से क्षेत्र के 35 गांवों के करीब 45 हजार लोग गुजरते हैं। इस पुल से रोजाना खनन जोन से आने वाले दो हजार ट्रक खनन सामग्री लेकर गुजरते हैं। अधिकतर वाहन ओवरलोड भरे हुए होते है।

35 गांवों की लाइफ लाइन है पुल
35 गांवों की लाइफ लाइन कहे जाने वाले बीकेड़ी रोड कुछ साल पहले ही 10 करोड़ रुपये की लागत से पश्चिमी यमुना नहर का पुल बनाया गया था। एक साल पहले भी इस पुल का एक सिरा धंस गया था। जिसके बाद पीडब्ल्यूडी विभाग की तरफ से इसकी मरम्मत कराई गई। अब फिर से वहीं हालात बन गए है। पुल का दायीं तरफ का सिरा नीचे धंसने से इसका जोड़ खुल गया। कुछ लोगों ने यहां पर गटके का ढेर लगा दिए। पुल के धंसने के बावजूद भी ओवरलोडेड वाहन का निकलना लगातार जारी है। प्रशासन की ओर से इस पर रोक नहीं लगाई गई। शायद प्रशासन को पुल ढहने का इंतजार है।

ओवरलोड वाहनों से कई जगह सड़क भी धंसी
पूर्व पश्चिमी यमुना नहर पर बने पुल की सड़क पहले भी धंस गई थी। नई सड़क बनने तथा पुल शुरू होते ही भारी वाहनों की आवाजाही बढ़ने से फिर से सड़क धंस गई। इस रास्ते से एक दो नहीं, बल्कि 35 से अधिक गांवों के हजारों लोग गुजरते हैं। ऐसे में ग्रामीणों को परेशानी का सामना पड़ रहा है। हाल ही में सड़क का करीब 15 करोड़ रुपये की लागत से निर्माण किया गया, लेकिन ओवरलोड वाहनों के चलते यह सड़क कई स्थानों से धंस गई है तो कई स्थानों पर गड्ढ़े हो चुके है।
ये गांव हैं प्रभावित :
पुल से होकर शहजादपुर, डैंकडियांवाला, फतेहगढ़, खदरी, कनालसी, भोगपुर, मेहर माजरा, टपरी, मंडोली, दादूपुर, नंदगढ़, हल्दरी गुजरान, नत्थनपुर, देवधर, मनभरवाला, ईस्माइलपुर, लोहरीवाला, छोटा दमोपुरा, बड़ा दमोपुरा, जयरामपुर, मंडोली गागट, समेत 35 से अधिक गांवों के लोग रोजाना इस पुल से निकलते हैं।
बॉक्स
नया टूटा, पुराना पुल आज भी ठीक :
लोगों ने बताया कि नहर पर ब्रिटिश काल में बनाया गया पुल आज भी ठीक स्थिति में है, जबकि नया पुल दो वर्ष में ही खस्ताहाल नजर आने लगा है। पुराने पुल पर बैठ कर लोग मछली का शिकार करते हैं। कुछ दोपहिया वाहन चालक इस रास्ते से होकर गुजरना पसंद करते हैं। लोगों का कहना है कि पुल निर्माण में कंपनी द्वारा लापरवाही बरती गई। वहीं प्रशासन ओवरलोड वाहनों को रोक नहीं पा रहा है। जिससे पुल व सड़क टूट चुकी है।
वर्जन
बुड़िया पुल के धंसने की जानकारी नहीं है। यदि ऐसा कुछ है तो कर्मचारियों को भेजकर जांच करवाई जाएगी। जांच में जो कमी मिलेगी उसे ठीक कर दिया जाएगा।
- रिषी सचदेवा, एक्सईएन, पीडब्ल्यूडी एवं बीएंडआर।
फोटो : 12 व 13

Recommended

फैशन की दुनिया को नया आयाम देता ये खास फैशन शो
Invertis university

फैशन की दुनिया को नया आयाम देता ये खास फैशन शो

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 29/ जुलाई/2019
Astrology

लंबी आयु और अच्छी सेहत के लिए इस सावन महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग में कराएं रुद्राभिषेक - 29/ जुलाई/2019

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

Yamuna Nagar

30 हजार रुपये के नकली नोटों के साथ दो गिरफ्तार

30 हजार रुपये के नकली नोटों के साथ दो गिरफ्तार

22 जुलाई 2019

विज्ञापन

ISRO ने अपने दूसरे मून मिशन 'चंद्रयान-2' का सफल प्रक्षेपण किया, जानिए चांद से जुड़ी रोचक बड़ी बातें

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी ISRO ने अपने दूसरे मून मिशन 'चंद्रयान-2' का सफल प्रक्षेपण किया है। दुनियाभर के वैज्ञानिकों ने चांद के बारे में कई बातें पता की हैं। आइए जानते है चांद के बारे में कुछ रोचक जानकारियां।

22 जुलाई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree