लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Sirsa ›   Health department team caught two women in fetal sex test case in Sirsa

Sirsa: अल्ट्रासाउंड देख लड़का होने की दे दी बधाई, अस्पताल हेल्पर सहित दो काबू, देर रात तक चलती रही कार्रवाई

संवाद न्यूज एजेंसी, सिरसा (हरियाणा) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Tue, 09 Aug 2022 02:48 AM IST
सार

देर रात तक मामला दर्ज कराने की कार्रवाई चलती रही। मामले में 35 हजार में सौदा हुआ था। टीम द्वारा काबू की गई एक महिला घरों में सफाई करने का काम करती है, जबकि दूसरी महिला शहर के डबवाली रोड स्थित एक अस्पताल में हेल्पर थी।

सांकेतिक तस्वीर
सांकेतिक तस्वीर - फोटो : Pixabay
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हरियाणा के सिरसा में भ्रूण लिंग जांच मामले में स्वास्थ्य विभाग की पीएनडीटी टीम ने 35 हजार की राशि सहित दो महिलाओं को रंगे हाथ पकड़ा है। आरोपियों ने अल्ट्रासाउंड की रिपोर्ट देखकर डिकोय को लड़का होने की बधाई तक दे डाली। टीम द्वारा काबू की गई एक महिला घरों में सफाई करने का काम करती है, जबकि दूसरी महिला शहर के डबवाली रोड स्थित एक अस्पताल में हेल्पर थी। वहीं देर रात साढ़े नौ बजे तक टीम की ओर से मामला दर्ज करवाने की कार्रवाई जारी रही। 



टीम में पीएनडीटी के इंचार्ज डॉ. दीपक कंबोज और पीएचसी जमाल के एमओ डॉ. अंकित कुमार उपस्थित रहे। भ्रूण लिंग जांच करवाने की शिकायत मिलने के बाद टीम की ओर से एक डिकोय को तैयार किया गया। डिकोय ने एमसी कॉलोनी निवासी पूजा से संपर्क किया और भ्रूण जांच करवाने की बात कही।


भ्रूण लिंग जांच करवाने के लिए 35 हजार रुपये में सौदा तय किया गया। इसके बाद पूजा ने पूरी राशि ले ली और उनका संपर्क निजी अस्पताल की हेल्पर उमा से संपर्क किया। ऐसे में उमा ने सामान्य पर्ची कटवा महिला की जांच करवा दी।  इसके बाद डॉक्टर की ओर से अल्ट्रासाउंड करवाने के लिए उसे शिव डायग्नोजिस्ट सेंटर में भेज दिया। यहां पर भी उक्त महिला का नार्मल अल्ट्रासाउंड करवाया गया।

इसके बाद रिपोर्ट लेकर उमा ने उसे लड़का होने की बात कह बधाई दी । ऐसे में टीम ने मौका मिलते ही उक्त दोनों महिलाओं को काबू कर लिया। वहीं पूजा से टीम ने 33 हजार रुपये की नकदी बरामद कर ली, जबकि अल्ट्रासाउंड करने में खर्च हुए दो हजार रुपये भी बरामद कर लिए। टीम ने मामले की सूचना सिविल लाइन थाना पुलिस को दी। हालांकि रात साढ़े नौ बजे तक मामला दर्ज करने को लेकर प्रक्रिया जारी रही। 

अल्ट्रासाउंड रिपोर्ट देखकर लड़का बताने वाले गिरोह की दो महिलाओं को काबू किया है। दोनों महिलाओं ने मिलकर 35 हजार रुपये में भ्रूण लिंग जांच करवाने का सौदा तय किया था। रंगे हाथ दोनों महिलाओं को काबू किया गया है। मामला दर्ज करने की प्रक्रिया जारी है। - डॉ. दीपक कंबोज, इंचार्ज, पीएनडीटी, सिरसा

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
एप में पढ़ें

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00