भाजपा सुशासन रैली कर रही है तो पहले क्या कुशासन था : तंवर

ब्यूरो/अमर उजाला, रोहतक Updated Mon, 26 Dec 2016 03:06 AM IST
तंवर ने लगाया आरोप, एसवाईएल पर राष्ट्रपति ने मुलाकात का समय दिया, प्रधानमंत्री ने नहीं मिले
तंवर ने लगाया आरोप, एसवाईएल पर राष्ट्रपति ने मुलाकात का समय दिया, प्रधानमंत्री ने नहीं मिले - फोटो : amar ujala
विज्ञापन
ख़बर सुनें
कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर ने कहा कि भाजपा सुशासन रैली कर रही है तो पहले क्या कुशासन था। प्रदेश का भाईचारा बिगाड़ने वाली सरकार अब ‘हरियाणा एक हरियाणवी एक’ बताने का प्रयास कर रही है। वे रविवार सुबह शांत मई चौक स्थित एक होटल में प्रेसवार्ता कर रहे थे।
विज्ञापन


कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष ने प्रदेश सरकार पर आरोप लगाया कि चुनावी घोषणाओं में से महज 10 फीसदी पर ही काम हो रहा है। कई घोषणाओं को इनके अधिकारी ही लागू नहीं होने दे रहे हैं। भाजपा ने विकास कराया नहीं और कर्ज को डबल कर दिया। नोट बंदी, भ्रष्टाचार समाप्त करने की बात कहने वाले कैशलेस से लेसकैश पर आ गए हैं। जल्द ही राहुल गांधी संसद में नोटबंदी में हुए भ्रष्टाचार को उजागर करेंगे। तंवर ने कहा कि राज्यमंत्री मनीष ग्रोवर कह रहे हैं कि 31 दिसंबर के बाद नोटबंदी की परेशानी शत प्रतिशत दूर हो जाएगी। जनता को ऐसे नेेताओं से बाद में सवाल करना चाहिए। इस मुद्दे पर सभी प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रेसिडेंट 31 दिसंबर के बाद आक्रामक तरीके से सरकार के सामने सवाल उठाएंगे। वहीं उन्होंने कहा, शीला दीक्षित पर लगे आरोपों का उन्हें जवाब देना चाहिए। एसवाईएल मुद्दे पर तंवर ने कहा कि उनकी राष्ट्रपति से मुलाकात हुई, लेकिन प्रधानमंत्री ने मुलाकात का समय नहीं दिया। भाजपा काम के बजाय विज्ञापन पर ज्यादा ध्यान देती है। भाजपा, इनेलो और अकालीदल ने हरियाणा के हितों पर प्रहार किया है। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद नगर निगम चुनाव पार्टी के चुनाव चिह्नों पर होने चाहिए।


‘दंगल’ हो टैक्स फ्री

तंवर ने कहा कि हरियाणा खिलाड़ियों की धरती है। फिल्म दंगल को टैक्स फ्री करने के साथ दो शो भी फ्री करना चाहिए। भाजपा को नागपुर से आरएसएस चला रही है। पंजाब, उत्तर प्रदेश, गोवा और गुजरात के चुनाव में कांग्रेस के लिए अच्छे संकेत हैं, इससे सभी परेशान हैं। साल 2017 से भाजपा के उतार के दिन शुरू हो जाएंगे। नौकरियों में पारदर्शिता लाने की बात कहने वाली भाजपा से युवाओं को सतर्क  रहने की जरूरत है। सरकार ने पंजाब के समान वेतनमान की जगह महज 300 से 400 रुपये ही बढ़ाया है।

सीएम ने हालचाल लिए, जांच नहीं कराई

भाजपा का जोर विनाश की ओर का आरोप लगाते हुए तंवर ने कहा कि जल्द ही प्रदेश की जनता इसे समझ जाएगी। तंवर ने कहा कि उन पर हमला हुआ। सीएम उनका हालचाल जानने अस्पताल भी गए, लेकिन जांच नहीं कराई। उनकी पार्टी ने भीतरी जांच के लिए कमेटी का गठन तो किया है। शिंदे की रिपोर्ट भी सबमिट हो गई है। घटना में 14-15 लोग घायल हुए। घटना के दो माह दस दिन हो गया कोई कार्रवाई नहीं की गई। आज भी उन्हें दवाओं का सेवन करना पड़ रहा है। वे इस संबंध में ऑडियो और विडियो सौंप चुके हैं। इस मौके पर पूर्व मंत्री सुभाष बतरा भी मौजूद थे।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00