संस्कारों के बिना अधूरी है शिक्षा : स्वामी धर्मदेव

Rohtak Updated Fri, 14 Dec 2012 05:30 AM IST
रेवाड़ी। शिक्षा और संस्कार एक दूसरे के पूरक हैं। आज के युग में शैक्षणिक माहौल में संस्कार हासिये पर हैं, जो एक चिंतनीय विषय है। यह बात हरि मंदिर आश्रम पटौदी के संचालक महामंडलेश्वर स्वामी धर्मदेव महाराज ने कही। वह बोड़ियाकमालपुर स्थित राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में शहीद भगत सिंह की प्रतिमा के अनवारण के बाद लोगों को संबोधित कर रहे थे। यह कार्यक्रम शहीद भगत सिंह सदन और देशभक्त युवा संगठन के संयुक्त तत्वाधान में आयोजित किया गया था।
इस अवसर पर शहीदे आजम भगतसिंह के वंशज यादविंदर सिंह मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित थे। खंड शिक्षा अधिकारी सुभाष चंद्र की अध्यक्षता में आयोजित इस कार्यक्रम में श्रीमद्भगवत आश्रम दड़ौली के संचालक स्वामी शरणानंद महाराज ने मुख्य वक्ता और युवक कांग्रेस के जिला प्रधान मनोज कोसलिया ने विशिष्ट अतिथि के तौर पर शिरकत की।
स्वामी शरणानंद महाराज ने कहा कि आज पाश्चात्य प्रभाव ने हमारी प्राचीन संस्कृत को लील लिया है। हमें प्राचीन मूल्यों की रक्षा करनी होगी। इस मौके पर देशभक्त युवासंगठन के महासचिव डा. विनोद यादव, प्रो. अनिरूद्ध यादव, सरपंच पवन सिंह यादव, स्कूल प्रबंधन समिति के अध्यक्ष अनिल यादव ने भी अपने विचार रखे।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

अब इस हरियाणवी गायिका की हत्या, पुलिस पर लगे गंभीर आरोप

हरियाणा के रोहतक जिले में एक खेत से महिला की लाश बरामद होने से सनसनी फैल गई। महिला की पहचान हरियाणवी गायिका ममता शर्मा के रूप में हुई। इस संबंध में ममता शर्मा के बेटे ने पुलिस को शिकायत भी दर्ज कराई थी।

19 जनवरी 2018