बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

परेशान प्रॉपर्टी डीलर ने दी जान......7,8

Updated Sun, 04 Jun 2017 11:48 PM IST
विज्ञापन

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

ख़बर सुनें
दिया कर्ज वापस न मिलने और धमकी से परेशान प्रॉपर्टी डीलर ने दी जान
विज्ञापन

अमर उजाला ब्यूरो
रेवाड़ी।
परिचितों को लाखों रुपये का दिया कर्ज वापस न मिलने और रुपये मांगने पर धमकी मिलने से परेशान प्रॉपर्टी डीलर ने जहर खाकर जान दे दी। मॉडल टाउन निवासी 40 वर्षीय आजाद ने शनिवार को नारनौल रोड स्थित एक होटल में कमरा बुक कराया था। बताया जाता है कि यहीं पर एक व्यक्ति से लेनदेन के मामले में आजाद की कहासुनी हुई और रात में प्रॉपर्टी डीलर ने यह कदम उठाया। मौके पर पहुंची पुलिस को मृतक के पास से सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। पुलिस ने मामले में महिला वकील सहित पांच लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने का मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
जहर खाकर दोस्त को किया फोन
मूल रूप से कुमरौधा और हाल मॉडल टाउन निवासी आजाद पत्नी और बच्चों के साथ रहता था। पिछले दो दिनों से आजाद ने होटल में कमरा बुक करवा रखा था। शनिवार देर रात आजाद ने दोस्त को फोन किया और जहर खा लेने की बात कही। आनन-फानन में दोस्त परिजनों को लेकर होटल पहुंचा और उसे नाजुक हालत में अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

सुसाइट नोट में लाखों के लेनदेन का किया जिक्र
पुलिस के मुताबिक उन्हें मामले की जानकारी सुबह मिली, मृतक के पास से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है। सुसाइड नोट में लाखों रुपये के लेन-देन का जिक्र है। इसके अलावा सुसाइड नोट में वे लोग जिनसे उसे 10-10 लाख रुपये से ज्यादा रकम लेनी है, उनकी ओर से कई बार धमकी देने का भी जिक्र है। पुलिस ने मामले में मुख्य रूप से पांच लोगों को आरोपी बनाया है जिनमें महिपाल, नवीन, बिल्लू गूर्जर, सोमवीर सांगवान और एक महिला वकील का नाम शामिल है।
कॉल डिटेल, रिकॉर्डिंग भी चेक करने की लगाई गुहार
प्रॉपर्टी डीलर आजाद ने मरने से पहले लिखे सुसाइड नोट में नामजद मुख्य आरोपियों के अलावा अन्य को भी उसके आत्महत्या करने के लिए जिम्मेदार बताया है। लिखे नोट में उसने जिक्र किया है कि पुलिस मामले में उसकी कॉल डिटेल और फोन की कॉल रिकॉर्डिंग भी चेक करे। इसमें कई लोग उसे धमकी दे रहे हैं, इन्हीं से परेशान होकर वह जान दे रहा है। पुलिस फोन को कब्जे में लेकर रिकॉर्डिंग खंगाल रही है।
रात में ही परिचित व्यक्ति से हुई थी कहासुनी
मृतक ने जहर खाने के बाद दोस्त को फोन कर बुलाया था। बताया जाता है कि रात को आत्महत्या के लिए दुष्प्रेरित करने के मुख्य आरोपियों में से एक होटल में आया था। यहां उसकी आजाद से काफी देर तक कहासुनी हुई थी। बताया जाता है कि जो शख्स होटल में आया था, उससे भी आजाद को पेमेंट लेनी थी और लंबे समय से वह पेमेंट नहीं दे रहा था।

मामले में पांच लोगों के खिलाफ आत्महत्या के लिए प्रेरित करने की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। इसके अलावा मृतक के मोबाइल फोन की रिकॉर्डिंग और कॉल डिटेल भी खंगाली जा रही है। - नरेंद्र सिंह, एसएचओ, रामपुरा थाना

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय हिंदी न्यूज़ वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
Election
  • Downloads

Follow Us