विज्ञापन
विज्ञापन

कांग्रेस कुलदीप शर्मा को बना सकती है करनाल से उम्मीदवार

Rohtak Bureauरोहतक ब्यूरो Updated Sun, 21 Apr 2019 12:58 AM IST
ख़बर सुनें
पानीपत। करनाल लोकसभा सीट से भाजपा ने 2014 व 2019 में पंजाबी उम्मीदवार मैदान में उतारा है। 2014 में मोदी लहर में भाजपा के अश्विनी चोपड़ा ने कांग्रेस के अरविंद शर्मा को मात दी थी। इस बार भी भाजपा ने इस सीट से पंजाबी दांव खेला है। क्योंकि पानीपत में पंजाबी 80 हजार वोट है, जबकि पूरे लोकसभा में 2 लाख 8 हजार वोट हैं। इनके अलावा भाजपा सिख समाज के 82900 वोट पर निशाना साध रही है। खुद सीएम मनोहर लाल भी पंजाबी जाति से संबंध रखते हैं और करनाल में उनका प्रभाव है। इसलिए भाजपा ने पंजाबी पर दांव खेला है। वहीं दूसरी ओर कांग्रेस यहां से ब्राह्मण उम्मीदवार मैदान में उतारने का मन बना चुकी है। कांग्रेस सूत्रों के अनुसार पूर्व स्पीकर कुलदीप शर्मा का नाम लगभग फाइनल हो चुका है। रविवार को उनके नाम का ऐलान हो सकता है। कांग्रेस ब्राह्मण व दलित वोट बैंक से सीट को जीतने का प्रयास करेगी। लेकिन कांग्रेस की मुश्किलें आप-जजपा बढ़ाने की तैयारी कर चुकी है। करनाल से दोनों पार्टियां आप के प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद को उतारने का मन बना चुकी है। इसलिए नवीन जयहिंद लगातार पानीपत व करनाल में बैठक कर चुके हैं। नवीन जयहिंद भी ब्राह्मण समाज से हैं। इसलिए ब्राह्मण वोट बैंक में ध्रुवीकरण हो सकता है। यहां मराठा वोट बैंक भी 1 लाख 78 हजार है, इसके साथ साथ दलित वोट बैंक सबसे अधिक 2 लाख 58 हजार हैं। इन्हीं को साधने के लिए बसपा व लोसुपा ने यहां से मराठा समाज के प्रदीप चौधरी को टिकट दी है। यहां से 1 लाख 69 हजार वोट वाले जाट समुदाय को साधने के लिए इनेलो ने जाट उम्मीदवार मैदान में उतारा है। इनेलो से बलबीर पाढा चुनाव लड़ रहे हैं।
विज्ञापन
विज्ञापन
1952 से 2014 तक 18 बार लोकसभा चुनाव हुए है। इन चुनाव में 14 बार ब्राह्मण उम्मीदवारों को जीत मिली है। इसलिए करनाल लोकसभा को ब्राह्मण सीट भी कहा जाता है। ब्राह्मण समाज से पंडित चिरंजी लाल लगातार यहां से सर्वाधिक लगातार तीन बार सांसद बने हैं। जबकि अरविंद शर्मा, एमराम शर्मा व आईडी स्वामी दो-दो बार यहां से सांसद बने हैं। जाट उम्मीदवार के रूप में मात्र मोहिंद्र लाठर को 1979 में जीत मिली थी। इस बार इस सीट पर जातिगत आधार पर चुनाव होने की आसार बने हुए हैं, लेकिन इतिहास इस बात का गवाह है कि यहां की जनता पार्टी की लहर के साथ चलती है।

Recommended

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें
Uttarakhand Board

Uttarakhand Board 2019 के परीक्षा परिणाम जल्द होंगे घोषित, देखने के लिए क्लिक करें

शनि जयंती के अवसर पर शनि दोष निवारण पूजा (03 जून 2019, सोमवार)
ज्योतिष समाधान

शनि जयंती के अवसर पर शनि दोष निवारण पूजा (03 जून 2019, सोमवार)

विज्ञापन
विज्ञापन
अमर उजाला की खबरों को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें
विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Most Read

City and States Archives

हरा सोना (तेंदू पत्ता) की चोरी रोकने पहुंचे वनकर्मियों को खदेड़ा

स्टेशन के कमरे व थाने परिसर में पहुंचकर बचाई जान

19 मई 2019

विज्ञापन

मध्य प्रदेश: खतरे में कांग्रेस, क्या गिर जाएगी कमलनाथ सरकार

मध्य प्रदेश में खतरे में कांग्रेस। क्या गिर जाएगी कमलनाथ सरकार ? देखिए क्या है पूरा मामला?

20 मई 2019

आज का मुद्दा
View more polls

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election