आयरन की जगह दी नींद की गोली

Panipat Updated Sun, 21 Oct 2012 12:00 PM IST
पानीपत। जिले के गांव शेरा स्थित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में एक वरिष्ठ छात्र ने चार जूनियर छात्रों को खून बढ़ाने के नाम पर नींद की गोली दे दी। नींद की गोली खाने से छठी और आठवीं कक्षा के चार छात्र बेहोश हो गए। उनकी हालत देखकर एकबारगी स्कूल में हड़कंप मच गया। स्कूल प्रमुख और परिजनों ने चारों को सिविल अस्पताल में भरती कराया, जहां पर उनकी हालत स्थिर है। स्कूल प्रमुख की सूचना पाते ही जिला शिक्षा अधिकारी भी सिविल अस्पताल पहुंची और उनका हालचाल जाना।
बताया जाता है कि राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय, शेरा में शनिवार करीब 10 बजे 11वीं कक्षा के छात्र मीनू ने छठी और आठवीं कक्षा के कुछ विद्यार्थियों को खून बढ़ाने के नाम पर कुछ गोली दे दी। पीरियड खाली होते ही आठवीं कक्षा के शमशेर, छठी कक्षा के सूरज, हर्ष और आकाश ने हैंडपंप पर जाकर आधी-आधी गोली खा ली। कुछ ही देर में चारों विद्यार्थियाें में बेहोशी छाने लगी और कुछ दूरी पर चलते ही गिर गए। उनकी हालत से स्कूल स्टाफ सकते में आ गया। बाद में चारों विद्यार्थियों को सिविल अस्पताल में भरती कराया और शिक्षा अधिकारियों को इसकी सूचना दी।
प्रिंसिपल सतपाल गर्ग की सूचना मिलते ही जिला शिक्षा अधिकारी आशा मुंजाल और प्रिंसिपल चंदौली रमेश शर्मा सिविल अस्पताल पहुंचे। वहां पर उन्होंने बच्चों और उनके परिजनों से बात की। जिला शिक्षा अधिकारी ने पीड़ित बच्चों के परिजनों को हर संभव मदद करने का भरोसा दिलाया। इसके बाद वे इमरजेंसी में तैनात डाक्टर से मिली और उनकी स्थिति का पता लगाया।
स्टाफ और परिजनों के हाथ पांव फूले
राजकीय स्कूल शेरा में शनिवार को सामान्य चल रही पढ़ाई के बीच अफरा तफरी मच गई। बच्चों से अधिक स्टाफ के हाथ पांव फूल गए। स्टाफ ने विद्यार्थियों की मदद से चारों बच्चों को एक जगह इकट्ठा किया और गांव के एक डाक्टर के बुलाया। डाक्टर के कहने पर वे उनको पीएचसी ले गए। जहां से उनको सिविल अस्पताल में रेफर कर दिया। सुबह करीब 10 बजे हुए घटना के बाद स्कूल में पूरा दिन पढ़ाई प्रभावित रही।
शरारत या गलतफहमी, इनके चाहिए जवाब
11वीं कक्षा के विद्यार्थी मीनू द्वारा चार जूनियर विद्यार्थियों को नींद की गोली खून बढ़ाने के नाम पर देना गले से नहीं उतर रही?
सीनियर द्वारा जूनियर छात्रों को नींद की गोली देना कोई रेगिंग का मामला तो नहीं?
आखिर उसके पास नींद की गोली कहां से पहुंची?
मीनू ने उनको नींद की गोली शरारत के चलते तो नहीं दी?
पीड़ित छात्रों के परिजन चुप्पी क्यों साधे हुए हैं?

रात को ही चढ़ गया स्कूल पर मंडरा गए थे संकट के बादल
राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय शेरा पर शुक्रवार देर रात से ही संकट छा गया था। चोरों ने स्कूल की कंप्यूटर लैब में चोरी करने का प्रयास किया, लेकिन चोर चौकीदार की सजगता के चलते चोरी की घटना को अंजाम नहीं दे पाए। प्रिंसिपल सतपाल गर्ग ने बताया कि कंप्यूटर लैब में यूपीएस और एलसीडी रखे हैं। उन्होंने इसकी शिकायत पुलिस को दी है। वे चोरी के प्रयास के अगले दिन इस वारदात से काफी चिंतित हैं।
गोली खाने से गहरी नींद
सिविल अस्पताल के चिकित्सक डा. तरुण नारंग ने बताया कि चारों बच्चों ने नींद की गोली खाई हैं। जिसकी मात्रा आधी-आधी थी। यह एक सिंडेटिव ड्रग्स है। इसकी अधिक मात्रा लेने पर हालात बिगड़ सकती है। इस दवा में लोरो जी पाम का साल्ट होता है। चारों विद्यार्थी इसकी अधिक मात्रा लेते तो नींद को तोड़ने में काफी समय लगता।
वर्जन
स्कूल में शनिवार को सामान्य दिनों की तरह पढ़ाई चल रही थी। स्कूल के एक छात्र ने चार छात्राओं को नींद की गोली खिला दी। छात्र ने ये गोली खून बढ़ाने का नाम देकर दी थी। चारों को सिविल अस्पताल में भरती कराया गया है। गोली देने वाले छात्र से इसकी पूछताछ की जाएगी। परिजनों से राय लेकर कार्रवाई की जाएगी।
सतपाल गर्ग, प्रिंसिपल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय शेरा
वर्जन
मतलौडा खंड के गांव शेरा स्थित सीनियर सेकेंडरी स्कूल में नींद की दवा खाने से चार बच्चे अचेत हो गए हैं। वह सूचना मिलते ही अस्पताल पहुंच गई। परिजनों व बच्चों से बात की। फिलहाल वे खतरे से बाहर हैं। परिजनों को उचित कार्रवाई का भरोसा दिलाया है। गोली देने वाले छात्र से इस विषय में बात की जाएगी।
आशा मुंजाल, जिला शिक्षा अधिकारी, पानीपत

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

पानीपत में मेयर के भाई का अपहरण! एक किडनैपर दबोचा गया

पानीपत में मेयर सुरेश वर्मा के छोटे भाई नरेश को अगवा कर लिया गया। किडनैपर्स ने नरेश को यूपी में ले जाने की कोशिश की पर नाकेबंदी की वजह से नरेश को बबैल रोड पर ही छोड़कर भाग निकले।

10 दिसंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper