लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Chandigarh ›   Panchkula News ›   VVIP numbers will be available through e-auction or online

Panchkula News: ई-नीलामी, ऑनलाइन मिलेंगे वीवीआईपी नंबर, ०००१ का आरक्षित मूल्य पांच लाख रुपये

Panchkula Bureau पंचकुला ब्‍यूरो
Updated Fri, 25 Nov 2022 07:30 AM IST
VVIP numbers will be available through e-auction or online
विज्ञापन
चंडीगढ़। हरियाणा में निजी वाहनों के लिए अब सभी वीवीआईपी नंबर ई-नीलामी पोर्टल के जरिये या ऑनलाइन मिलेंगे। परिवहन विभाग ने पसंदीदा नंबरों का आरक्षित मूल्य तय कर दिया है। 0001 नंबर का आरक्षित मूल्य पांच लाख रुपये रखा है। इससे कम में यह नंबर नहीं मिलेगा। वीवीआईपी नंबरों का आवंटन पहले आओ, पहले पाओ या कम्प्यूटर से भी किया जा सकता है।

प्रदेश सरकार ने मोटर वाहन नियम-1993 में संशोधन किया है। अब इन्हें मोटर वाहन नियम, 2022 कहे जाएंगे। पहले पसंदीदा नंबरों में 100 अक्षर शामिल किए थे, जिनकी संख्या अब बढ़ा दी गई है। साथ ही 0001, 00020 0003 और अन्य नंबरों का आरक्षित मूल्य भी तय कर दिया गया है। नीलामी में जितनी बोली जाएगी, अंतिम बोलीदाता को उतनी राशि ही जमा करानी होगी। ई-नीलामी में हिस्सा लेने के लिए पंजीकरण कराना होगा। 50 हजार या अधिक आरक्षित मूल्य वाले नंबर के लिए पंजीकरण शुल्क एक हजार रुपये और अन्य नंबर के लिए 500 रुपये रहेगा। बोली आयोजित न होने या रद्द किए जाने पर राशि लौटा दी जाएगी। साथ ही आरक्षित मूल्य का 20 प्रतिशत सुरक्षा राशि के रूप में जमा कराना होगा।

निजी वाहनों के लिए नंबरों की कम से कम कीमत
नंबर आरक्षित मूल्य
- 0002,0007, 0009 का 1.50 लाख
- 0003, 0004, 0005, 0006, 0008 का एक लाख
- 0010, 0011, 0022, 0033, 0044, 0055, 0066, 0077, 0088, 0099,0100, 0786 का 75 हजार
- इन नंबरों को छोड़कर 0012 से 0098 और अन्य 61 पसंदीदा नंबरों का आरक्षित मूल्य पचास हजार रुपये रखा
परिवहन वाहनों के लिए वीवीआईपी नंबर का आरक्षित मूल्य
-0001 का एक लाख
-0002, 0021, 0022, 0033, 0044, 0055, 0066, 0077, 0088, 099 1, 0786 का 30 हजार
-0100, 0111, 0222, 0333, 0444, 0555, 0666, 0777, 0888, 0999, 1111, 2222, 3333, 4444, 5555, 6666, 7777, 8888, 9999 का 20 हजार
-अन्य किसी नंबर के लिए दस हजार रुपये।
45 हजार दोपहिया-तिपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों का होगा मुफ्त पंजीकरण
हरियाणा सरकार ने इलेक्ट्रिक वाहनों को बढ़ावा देने के लिए बड़ा निर्णय लिया है। 45 हजार दोपहिया और तिपहिया इलेक्ट्रिक वाहनों का परिवहन विभाग मुफ्त पंजीकरण करेगा। 10 जुलाई या इसके बाद खरीदे गए पहले 45 हजार वाहन मालिकों को यह लाभ मिलेगा, इसमें 30 हजार दोपहिया व 15 हजार तिपहिया वाहन शामिल किए जाएंगे। परिवहन विभाग के प्रधान सचिव नवदीप सिंह विर्क ने इस संबंध में अधिसूचना जारी कर दी है। इलेक्ट्रिक फोर व्हीलर, हाइड्रोजन इंधन आधारित पहले 10 हजार वाहनों को पंजीकरण शुल्क में 75 फीसदी की छूट दी जाएगी। पहले 2500 हाइब्रिड इलेक्ट्रिक फोर व्हीकल को पंजीकरण फीस में 25 फीसदी छूट मिलेगी। पहली हजार इलेक्ट्रिक बसों को पंजीकरण शुल्क में 75 प्रतिशत छूट दी जाएगी।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00