ज्योति की हत्या के वक्त मौजूद थे विधायक चौधरी!

Panchkula Updated Thu, 27 Dec 2012 05:30 AM IST
पंचकूला। ज्योति की हत्या के समय विधायक राम कुमार चौधरी मौके पर मौजूद थे। यह खुलासा बुधवार को पुलिस की ओर से अदालत को सौंपी गई जांच रिपोर्ट में हुआ है। पुलिस के अनुसार राम कुमार चौधरी के पास तीन मोबाइल नंबर थे, जिनमें से दो नंबर उनके पर्सनल थे, जबकि एक नंबर फेक आईडी पर लिया गया है।

हत्या तक का साथ
21 नवंबर को ज्योति की हत्या वाली रात करीब 8:16 बजे चौधरी के सभी मोबाइल नंबरों और ज्योति के मोबाइल नंबर 9915259514 की लोकेशन चंडीगढ़ सेक्टर 21 में पाई गई। इसके बाद चौधरी के पर्सनल नंबर 9814044340 और फर्जी आईडी वाले नंबर की लोकेशन उसी रात करीब 12:45 बजे पंचकूला सेक्टर 21 में मिली। पंचकूला के सेक्टर-21 में ही ज्योति की लाश पायी गई थी। ज्योति चंडीगढ़ सेक्टर 21 में पीजी रहती थी, जबकि पंचकूला सेक्टर 21 में उसकी लाश मिली थी। ऐसे में पुलिस की जांच दर्शाती है कि जहां से ज्योति की लाश मिली, वहीं पर विधायक चौधरी भी मौजूद थे।

बातचीत फर्जी नंबर से
जांच में यह भी पता चला है कि ज्योति से बात करने के लिए विधायक चौधरी फर्जी आईडी वाले नंबर 9816464060 का इस्तेमाल करते थे। यह नंबर साई रोड बद्दी स्थित बबलू कम्युनिकेशन से लिया गया था। 21 नवंबर की रात को इस नंबर से चौधरी और ज्योति के बीच कई बार बात हुई।

पर्स से मिला था चौधरी का कार्ड
पुलिस ने अदालत को बताया कि ज्योति की लाश के पास मिले बैग से चौधरी का विजिटिंग कार्ड मिला था। इस पर रामकुमार चौधरी जनरल सेक्रेटरी प्रदेश कांग्रेस कमेटी हिमाचल प्रदेश और पूर्व चेयरमैन जिला परिषद सोलन हिमाचल प्रदेश लिखा था। इस कार्ड पर मोबाइल नंबर 9816044340 और रेजीडेंस नंबर 01795246355 लिखा था।

खाते में किसने जमा कराए लाखों
पुलिस ने अदालत को बताया कि ज्योति के आईसीआईसीआई बैंक सेक्टर 11 पंचकूला के खाता नंबर 004301535745 की स्टेटमेंट प्राप्त की गई है। इसके अनुसार आईसीआईसीआई बैंक बद्दी से इस खाते में लाखों रुपये जमा कराए गए। यह रकम किसने जमा कराई थी इसकी जांच करना बाकी है। बैंक अधिकारियों ने इस खाते के वाउचर मुंबई से मंगवाए हैं।

पुलिस को चौधरी से इन बिंदुओं पर करनी है पूछताछ
1. अगस्त 2012 में ज्योति गर्भवती हुई थी। पुलिस को पता करना है कि उसका गर्भपात कराने में किसका हाथ है?
2. पुलिस को ज्योति के मोबाइल फोन बरामद करने हैं।
3. चौधरी का फेक आईडी वाला मोबाइल फोन भी बरामद करना है।
4. अब तक हत्या का मकसद पता नहीं चल पाया है।
5. उस वाहन को भी बरामद करना है, जिसके टायर के निशान लाश के पास मिले थे।
6. हत्या के दौरान और कौन-कौन से लोग शामिल थे।

पासपोर्ट की डिटेल निकलवाने की तैयारी
चौधरी और उनके साथियों की तलाश में लगातार छापामारी की जा रही है। चौधरी के पासपोर्ट की डिटेल निकलवाने की तैयारी की जा रही है, ताकि उनके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी किया जा सके।
- वीरेंद्र सांगवान, एसीपी

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी में नौकरियों का रास्ता खुला, अधीनस्‍थ सेवा चयन आयोग का हुआ गठन

सीएम योगी की मंजूरी के बाद सोमवार को मुख्यसचिव राजीव कुमार ने अधीनस्‍थ सेवा चयन बोर्ड का गठन कर दिया।

22 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हरियाणा में प्यार करने की सजा देख रूह कांप उठेगी

हरियाणा के मेवात से एक वीडियो सामने आया है जिसमें एक युवक को भरी पंचायत में जूतों से पीटा जा रहा है। युवक का जुर्म दूसरे गांव की लड़की से प्यार करना बताया जा रहा है। पंचायत ने युवक पर 80 हजार रुपये का दंड और पांच जूतों का फरमान सुना था।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper