वार्ड बंदी : पूर्व कांग्रेसी पार्षदों ने विधायक के सामने रोया दुखड़ा

Panchkula Updated Mon, 03 Dec 2012 05:30 AM IST
पंचकूला। करीब 15 दिन से वार्ड बंदी पर चल रहा घमासान आखिरकार रविवार को सामने आ ही गया। वार्ड बंदी की प्रपोजल और अन्य जरूरी दस्तावेजों को मीडिया से दूर रखने की प्रशासन की स्ट्रैटेजी पर पानी फिरता नजर आया। सत्ता पक्ष से जुड़े कांग्रेस के पूर्व पार्षदों का एक दल नगर परिषद के पूर्व प्रधान रविंदर रावल के नेतृत्व में विधायक डीके बंसल के आवास पर उनसे मिला और अपना दुखड़ा रोया। पूर्व पार्षदों ने आरोप लगाया कि प्रशासन मनमर्जी मुताबिक वार्ड बंदी करना चाहता है। इससे सेक्टरों की भौगोलिक स्थिति बिगड़ रही है। जो प्रतिनिधि कई सालों से जनता के बीच काम कर रहे थे, उनके वार्ड को एक में मिलाकर उनके साथ अन्याय किया जा रहा है। पूर्व पार्षदों ने विधायक से गुजारिश की कि वे इस मामले में हस्तक्षेप करें, ताकि सभी को न्याय मिल सके।
प्रशासन के पहले प्रपोजल के लीक होने के बाद एक नया प्रस्ताव तैयार किया गया था। ूबीते दिन शनिवार को सेक्टर एक स्थित डीसी दफ्तर में एहडॉक कमेटी के सदस्यों और प्रशासन के अधिकारियों के बीच हुई मीटिंग में नए प्रस्ताव पर चरचा की गई। मीटिंग में नगर निगम के अधिकारी भी थे। नए प्रस्ताव की रूपरेखा देखते ही एडहॉक कमेटी के सदस्य और कांग्रेस की ओर से अगुवाई कर रहे रविंदर रावल उखड़ गए और उन्होंने विरोध जताना शुरू कर दिया। उनका कहना है कि नए प्रस्ताव के मुताबिक किसी भी सेक्टर की कनेक्टिविटी नहीं जुड़ रही है। जो सेक्टर आसपास है, उन्हें उसके साथ न जोड़कर दूसरे के साथ जोड़ा जा रहा है। इससे सबसे ज्यादा प्रभावित कांग्रेस समर्थित पूर्व पार्षद हो रहे हैं। इस मौके पर पूर्व पार्षद पवन मित्तल, भावना गुप्ता, जलमेघा दहिया, अनीता तिवारी, शमशेर सिंह सहित कई अन्य मौजूद रहे।
यहां उठा रहा है विवाद
प्रशासन की नई प्रपोजल के मुताबिक सेक्टर नौ, 16 व 17 को मिलाकर एक वार्ड बनाया जा रहा है। सेक्टर 16 से कांग्रेस समर्थित पूर्व पार्षद भावना गुप्ता हैं, जबकि सेक्टर नौ में रहने वाली जलमेघा दहिया भी कांग्रेस समर्थित पूर्व पार्षद हैं। इसी तरह सेक्टर 14, 12, व 12ए को मिलाकर एक वार्ड बनाया जा रहा है। सेक्टर 14 से अनीता तिवारी पूर्व पार्षद हैं तो सेक्टर 12 से कांग्रेस समर्थित लिली बावा पूर्व पार्षद हैं। यदि एक वार्ड बनता है तो कांग्रेसी उम्मीदवार आमने-सामने होंगे। कुछ इसी तरह बीड़ घग्गर व खड़ग मंगोली को आपस में जोड़ दिया गया है। इस बीच में केन्टोनमेंट एरिया भी आता है।
आरोप, विपक्ष के दबाव में बदली प्रपोजल
कांग्रेस से जुड़े पूर्व पार्षदों ने आरोप लगाया कि प्रशासन ने विपक्ष के दबाव में आकर अपनी प्रपोजल बदल दी है और उन्हीं के मुताबिक वार्ड का बंटवारा किया गया है। कांग्रेसियों के नाराज होने से पहले भारतीय जनता पार्टी के सदस्य लगातार प्रशासन से जनसंख्या का डाटा सार्वजनिक करने की मांग पर अड़े थे। उनकी जिद की वजह से अब तक एडहॉक कमेटी के बीच सहमति नहीं बन पा रही थी, लेकिन अब वे नई प्रपोजल से तैयार हो गए तो कांग्रेसी बिफर गए।
कोट
नगर निगम की वार्ड बंदी सभी के सहमति से होनी चाहिए। यदि जनता के प्रतिनिधि के मुताबिक वार्ड बंदी न हो तो विरोध लाजिमी है। कांग्रेस से जुड़े पार्षदों के मुद्दे पर प्रशासन से जल्द से जल्द बात की जाएगी। यदि जरूरत पड़ी तो इस मुद्दे को खुद मैं सीएम के पास लेकर जाऊंगा।
डीके बंसल, विधायक पंचकूला

Spotlight

Most Read

National

पुरुष के वेश में करती थी लूटपाट, गिरफ्तारी के बाद सुलझे नौ मामले

महिला लड़कों के ड्रेस में लूटपाट को अंजाम देती थी। अपने चेहरे को ढंकने के लिए वह मुंह पर कपड़ा बांधती थी और फिर गॉगल्स लगा लेती थी।

20 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हरियाणा में प्यार करने की सजा देख रूह कांप उठेगी

हरियाणा के मेवात से एक वीडियो सामने आया है जिसमें एक युवक को भरी पंचायत में जूतों से पीटा जा रहा है। युवक का जुर्म दूसरे गांव की लड़की से प्यार करना बताया जा रहा है। पंचायत ने युवक पर 80 हजार रुपये का दंड और पांच जूतों का फरमान सुना था।

18 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper