आयकर विभाग के इंस्पेक्टर को एक साल की सजा

Panchkula Updated Sun, 02 Dec 2012 05:30 AM IST
पंचकूला। फरीदाबाद में तैनात आयकर विभाग के एक इंस्पेक्टर को टीडीएस के लाखों रुपये गबन करने के मामले में सीबीआई की अदालत ने एक साल की कैद और 10 हजार रुपये जुर्माने की सजा सुनाई। आरोप था कि इंस्पेक्टर राजीव कुमार भटनागर ने कई फर्जी नामों पर बैंक खाते खुलवाकर टीडीएस के लाखों रुपये हड़प लिया। इतना ही नहीं, भटनागर ने फर्जी नामों पर इनकम टैक्स के रिफंड बाउंचर भी जारी किए थे। चार्जशीट के मुताबिक भटनागर ने फर्जी नामों से बैंक आफ बड़ौदा और सिंडिकेट बैंक की फरीदाबाद ब्रांच में आरएस सैणी, सतीश चंद्र और नरेश मेहता के नाम से खाते खुलवाए। उसके बाद लाखों रुपये के 42 रिफंड वाउचर कैश करवाए। मामले का खुलासा होने के बाद इसकी जांच सीबीआई को सौंप दी गई। सीबीआई ने जांच में पाया गया कि भटनागर ने धोखाधड़ी कर लाखों रुपये का गबन किया है। इस धोखाधड़ी में उनके साथ एक महिला भी शामिल थी, लेकिन वह बाद में सरकारी गवाह बन गई।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: हरियाणा में प्यार करने की सजा देख रूह कांप उठेगी

हरियाणा के मेवात से एक वीडियो सामने आया है जिसमें एक युवक को भरी पंचायत में जूतों से पीटा जा रहा है। युवक का जुर्म दूसरे गांव की लड़की से प्यार करना बताया जा रहा है। पंचायत ने युवक पर 80 हजार रुपये का दंड और पांच जूतों का फरमान सुना था।

18 जनवरी 2018