विज्ञापन

पुलिस चौकी को आग के हवाले किया

Palwal Updated Tue, 26 Mar 2013 05:30 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
मेवात। ट्रक चालक की मौत की अफवाह से गुस्साए छह गांवों के लोगों ने एकजुट होकर शनिवार रात को इंदाना पुलिस चौकी में आग लगा दी, जिससे परिसर में खड़े आधा दर्जन से अधिक वाहन क्षतिग्रस्त हो गए। आक्रोशित भीड़ ने दो राइफलें और पचास कारतूस भी लूट लिए। भीड़ को देखकर पुलिसकर्मियों ने भाग कर अपनी जान बचाई। चौकी प्रभारी के बयान पर चार सौ लोगों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है।
विज्ञापन
पुलिस के अनुसार, शनिवार की रात होडल-पुन्हाना रोड पर वाहनों की जांच के दौरान पुलिस ने एक ट्रक को रुकने का इशारा किया। चालक ने वाहन रोकने के बजाए इसे और तेज कर दिया। पुलिस टीम ने ट्रक का पीछा किया, इससे घबराए ट्रक सवार नीमका के पास वाहन छोड़कर फरार हो गए। भागने के दौरान एक युवक गिरकर घायल हो गया। इस दौरान गांव में किसी ने अफवाह फैला दी कि पुलिस ने चालक को दौड़ा कर मार डाला।
पुलिस के अनुसार, इससे गुस्साए नीमका, इंदराना समेत आसपास के छह गांवों के लोगों ने रात के समय इंदाना पुलिस चौकी पर धावा बोल दिया। पुलिस ने भीड़ को रोकने के लिए फायरिंग भी की, दूसरी ओर से भी गोलियां चलाई गईं। भीड़ को देखकर चौकी पर तैनात पुलिस कर्मियों ने भाग कर अपनी जान बचाई। गुस्साए लोगों की भीड़ ने चौकी में खड़ी आधा दर्जन कारें, पुलिस पीसीआर, बाइक और चौकी में रखे सामान को आग के हवाले कर दिया। इतना ही नहीं वे दो राइफल और 50 कारतूस भी लूट ले गए। घटना की जानकारी के बाद जिले के सभी थानों के प्रभारी और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुन्हाना पुलिस ने चार सौ से अधिक लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।
फायर ब्रिगेड की गाड़ी को रास्ते में तोड़ा
लोगों का गुस्सा सिर्फ पुलिस चौकी पर ही नहीं उतरा, बल्कि आग को बुझाने आ रही फायर ब्रिगेड की गाड़ी को भी लोगों ने सिंगर गांव के पास ही रोक लिया। भारी संख्या में लोगों ने गाड़ी को नष्ट कर दिया।
किसकी थी तैनाती
इंदाना चौकी प्रभारी एएसआई महेंद्र सिंह, हवलदार कल्याण सिंह, पवन कुमार, सुनील कुमार, जगदीश चंद, राजेंद्र सिंह और बंसी लाल आदि।

आईजी ने चौकी का जायजा लिया
गुड़गांव। रेवाड़ी रेंज के आईजी ने सोमवार की शाम को घटना स्थल का दौरा किया और पुलिस प्रशासन को आदेश दिए कि मामले की जांच कर आरोपियों को गिरफ्तार किया जाए। आईजी ओपी सिंह ने पत्रकारों से कहा कि आरोपियों को बख्शा नहीं जाएगा। वारदात में शामिल लोगों की पहचान की जा रही है। इसके बाद आईजी ने आस-पास के गांवों के लोगों की एक पंचायत भी बुलायी और भाईचारा बनाने की बात कही है। लोगों से बातचीत में उन्होंने कहा कि इस तरह की वारदात से मेवात का नाम बदनाम होता है। तीन साल पहले भी इसी तरह की घटना हुई है। इसके चलते बाहर से लोग यहां उद्योग लगाने से डरते हैं। इस मौके पर पुलिस अधीक्षक मेवात सुखवीर सिंह, पुलिस अधीक्षक पलवल जगत सिंह हुड्डा, डीएसपी जितेंद्र सिंह गहलावत, इकबाल जेलदार, शेर खां सिंगार, टुण्ड़ल पूर्व सरपंच बिछौर, बिछौर के सरपंच वीर सिंह, हनीफ सरपंच सिंगार, गनी नंबरदार नीमका, एसएचओ देवेंद्र सिंह भी मौजूद थे।
राजनीति की बू
गुड़गांव। महापंचायत के दौरान तरह-तरह की बात सामने आने से पुलिस हतप्रभ है। दो बार विधानसभा चुनाव लड़ चुकी एक महिला नेता का नाम इस आगजनी के पीछे बताया जा रहा है। जो घटनास्थल पर घायल ग्रामीणों को उपचार के लिए फरीदाबाद ले गई हैं।
पहले से ही थी सारी प्लानिंग
इंदाना चौकी में हुई आगजनी कहीं पहले से ही प्लान तो नहीं थी। पुलिस टीम किसी का पीछा करती है और वह घायल हो जाता है। यह खबर आधा दर्जन गांव में अचानक कहां से कहां पहुंच जाती है। लोगों ने चौकी में लूटपाट की, उससे भी गुस्सा शांत नहीं हुआ। भीड़ के पास केरोसिन का तेल कहां से आया। पुलिस के लिए यह जांच का विषय है। इसके साथ ही पुन्हाना-होडल रोड पर दो जगह जाम लगाया गया ताकि कोई मदद के लिए पहुंच ही न सके। पुलिस जांच कर रही है कि इन सबके पीछे किसका हाथ है।
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन

Spotlight

विज्ञापन
विज्ञापन
विज्ञापन

Disclaimer

अपनी वेबसाइट पर हम डाटा संग्रह टूल्स, जैसे की कुकीज के माध्यम से आपकी जानकारी एकत्र करते हैं ताकि आपको बेहतर अनुभव प्रदान कर सकें, वेबसाइट के ट्रैफिक का विश्लेषण कर सकें, कॉन्टेंट व्यक्तिगत तरीके से पेश कर सकें और हमारे पार्टनर्स, जैसे की Google, और सोशल मीडिया साइट्स, जैसे की Facebook, के साथ लक्षित विज्ञापन पेश करने के लिए उपयोग कर सकें। साथ ही, अगर आप साइन-अप करते हैं, तो हम आपका ईमेल पता, फोन नंबर और अन्य विवरण पूरी तरह सुरक्षित तरीके से स्टोर करते हैं। आप कुकीज नीति पृष्ठ से अपनी कुकीज हटा सकते है और रजिस्टर्ड यूजर अपने प्रोफाइल पेज से अपना व्यक्तिगत डाटा हटा या एक्सपोर्ट कर सकते हैं। हमारी Cookies Policy, Privacy Policy और Terms & Conditions के बारे में पढ़ें और अपनी सहमति देने के लिए Agree पर क्लिक करें।

Agree
Election
  • Downloads

Follow Us