शीतकालीन गन्ने की बिजाई का उचित समय अब

Palwal Updated Tue, 18 Sep 2012 12:00 PM IST
पलवल। सितंबर और अक्तूबर माह शीतकालीन गन्ने की बिजाई के लिए उचित समय है। गन्ने की फसल के साथ किसान लहसुन, बाकला, चना व सरसों की बिजाई भी कर सकते हैं।
पलवल शुगर मिल के गन्ना विकास अधिकारी चरण सिंह ने गांव मितरोल में हुई किसान गोष्ठी में कहा कि इन दोनों महीनों में बिजाई करके किसान हजारों रुपये प्रति एकड़ ज्यादा कमा सकते हैं, समय पर बिजाई होने से पैदावार अधिक होने की उम्मीद बढ़ती है। उन्होंने बताया कि प्रति एकड़ क्षेत्र में पांच सौ क्विंटल पैदावार मिल सकती है। इससे एक लाख 60 हजार से एक लाख 80 हजार रुपये की आय होती है।
उन्होंने कहा कि गन्ने की बिजाई से पहले भूमि की अच्छी तरह से जुताई करें और इसके बाद देशी और बायो खाद का प्रयोग भी करें। बिजाई से पहले किसान गन्ने के बीज का उपचार अवश्य करें। उन्होंने बताया कि शीतकालीन गन्ने की बिजाई के लिए शुगर मिल की तरफ से किसानों को बिना ब्याज के बीज उपलब्ध करवाया जा रहा है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

VIDEO: रास्ते में जो मिला उसे ही उतार दिया मौत के घाट, दो घंटों में किए छह कत्ल

हरियाणा के पलवल में एक जनवरी की रात में छह कत्ल करने वाले एक शख्स को गुरफ्तार कर लिया गया है। बताया जा रहा है कि आरोपी को रात में जो भी मिला वो उसे मारते हुए आगे निकल गया।

2 जनवरी 2018