प्रदर्शनकारियों पर लाठीचार्ज का विरोध

Karnal Updated Mon, 24 Dec 2012 05:31 AM IST
करनाल। दिल्ली में छात्रा से हुए गैंगरेप और उसके बाद सरकार व कानून के ढुलमुल रवैये और प्रदर्शनकारी छात्रों पर पुलिस की दमनकारी नीति से करनाल की सामाजिक संस्थाओं में भारी गुस्सा देखने को मिला। करनाल की विभिन्न सामाजिक संस्थाओं के प्रतिनिधियों ने दुराचारियाें को फांसी देने का कानून बनाने, न्याय की मांग को लेकर मानव सेवा संघ से महात्मा गांधी चौक तक जुलूस निकाला व गांधी चौक पर मोमबत्तियां जलाकर व नारे लगाकर इस हृदय विदारक घटना पर रोष व्यक्त किया।
रोष मार्च से पूर्व मानव सेवा संघ में एक बैठक आयोजित कर विभिन्न सामाजिक संस्थाओें के प्रतिनिधियों ने दुराचार जैसे जघन्य अपराध में कड़े कानून बनाने व गैंगरेप जैसे केसों में फांसी की सजा देने की मांग की। इस घटना की कड़े शब्दों में निंदा करते हुए संस्थाओं ने प्रधानमंत्री से मांग की है कि ऐसे मामलों में अधिक संवेदनशीलता के साथ व तत्पर कार्रवाई करने के लिए पुलिस विभाग को विशेष हिदायत दी जाए। निफा अध्यक्ष प्रितपाल सिंह पन्नु के आह्वान पर मानव सेवा संघ में एकत्रित समाज के प्रबुद्ध नागरिकों ने समाज में दुराचार, औरतों से छेड़खानी व इस प्रकार की अन्य असहनीय घटनाओं को रोकने के लिए आगे आने का संकल्प लिया।

दस-दस व्यक्तियों का होगा ग्रुप
पन्नु के सुझाव पर सभी ने यह निर्णय लिया कि करनाल जिला के हर वार्ड व हर गांव से 10-10 व्यक्तियों को लेकर एक प्रेशर ग्रुप का निर्माण किया जाएगा, जो महिलाओं, बच्चों से संबंधित अपराधों और समाज में घिनौनी हरकतों में पीड़ित के साथ खड़ा होगा व ऐसे मामलों में तुरंत मुकदमा दर्ज कराने से लेकर मामले के कोर्ट में जाने तक यह निगरानी रखेगा कि समाज के प्रभावशाली लोगों के चलते किसी पीड़ित के साथ अन्याय न हो जाए। यह प्रेशर ग्रुप न केवल पीड़ितों को न्याय दिलाने के लिए एकजुट होकर कार्य करेगा। बल्कि समाज में सामाजिक मूल्यों की रक्षा व अपराधों को कम करने के लिए समाज को जागरूक करने का कार्य भी मिलकर करेगा।

यह संस्थाएं रही शामिल
बैठक को नगर व्यापार मंडल के प्रधान कृष्णलाल तनेजा, हरियाणा चैंबर ऑफ कामर्स के उपाध्यक्ष रूपनारायण चानना, पंजाबी महासभा के महासचिव डा. शशिभूषण मदान, योग क्लास सेक्टर-12 के इंचार्ज दिनेश गुलाटी, हरियाणा सिख संगत के प्रधान जत्थेदार सुरजीत सिंह दरड़, समानता मंच के प्रधान बलराज तनेजा, जनसेवा मंडल के प्रधान आरके द्विवेदी, निफा के राष्ट्रीय संयोजक एडवोकेट नरेश बराना व महासचिव हरीश शर्मा ने भी संबोधित किया और करनाल को इस तरह की घटनाओं से मुक्त रखने के लिए एकजुट होकर अभियान चलाने पर जोर दिया।

ये लोग रहे मौजूद
बैठक व प्रदर्शन में शामिल होने वालों में पंजाबी महासभा के प्रधान राकेश मदान, शिव शक्ति सेवा मंच के प्रधान सतपाल मनोचा, गुरुद्वारा मंजीसाहिब के महासचिव सुरेंद्रपाल सिंह रामगढ़िया, निमा के पूर्व प्रधान डा. अश्विनी अरोड़ा, कुमायु विकास परिषद से रमेश, अपना विचार मंच के प्रधान पीडी कपूर, योगाचार्य डा. प्रितपाल सिंह, निफा से भूपेंद्र सिंह, जसविंद्र सिंह बेदी, रमेशचंद, राजेश बजीदा, प्रदीप मैहला, कोशलेश भारद्वाज, नवीन नैन, नौनीत वर्मा, हरिसिंह गोंदर, नरेंद्र सिंह जलमाना, हरिंद्र सिंह दरड़, सेक्टर-7 से पवन शर्मा, योग कक्षा सेक्टर-12 से सुरेंद्र नारंग, जगजीत सिंह, गुरदेव सिंह लाडी, तेजिंद्र सिंह, संजीव नरवाल आदि उपस्थित रहे।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

हरियाणा में इस नौकरी के लिए उमड़ा बेरोजगारों का हुजूम

हरियाणा में बेरोजगारी का क्या आलम है, ये देखने को मिला करनाल में। दरअसल मंगलवार को करनाल में ईएसआई हेल्थ केयर में चपरासी के 70 पदों के लिए प्रदेश भर से हजारों युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper