देश के मानचित्र पर चमकेगी शाहाबाद शुगर मिल

Karnal Updated Wed, 28 Nov 2012 12:00 PM IST
शाहाबाद। विधायक अनिल धंतौड़ी ने कहा कि किसानों, कर्मचारियों की मेहनत से शाहाबाद शुगर मिल का नाम देश के मानचित्र पर चमकेगा। यह शुगर मिल सत्र 2012-13 में 66 लाख क्विंटल गन्ने की पिराई, 9.5 प्रतिशत रिकवरी व 5 करोड़ यूनिट बिजली निर्यात करने से 25 फीसदी अधिक अपने लक्ष्य को हासिल करेगी। वे मंगलवार को शाहाबाद सहकारी चीनी मिल के 29वें गन्ना पिराई सत्र का शुभारंभ करने के बाद बोल रहे थे। इससे पूर्व विधायक अनिल धंतौड़ी, शाहाबाद सहकारी चीनी मिल बोर्ड आफ डायरेक्टर के चेयरमैन और उपायुक्त मनदीप सिंह बराड़, एसडीएम सुशील कुमार व शुगर मिल के एमडी कैप्टन शक्ति सिंह के साथ-साथ शुगर मिल बोर्ड के सभी निदेशकों व कर्मचारियों ने मंत्रोच्चारण के साथ हवन यज्ञ कर आहुति डाली और निर्धारित लक्ष्य को पूरा करने की मनोकामना भी की। इसके साथ ही विधिवत रूप से बटन दबाकर व मिल में गन्ना डालकर और नारियल तोड़कर पिराई सत्र शुरू किया गया। धंतौड़ी ने कहा कि हरियाणा व आसपास के राज्यों में शुगर मिल के नाम से ही शाहाबाद को जाना जाता है। किसान उन्नत किस्म के बीज लगाकर गन्ने की फसल को चीनी मिल में ला रहे हैं। अगेती किस्म के गन्ने की फसल का मूल्य 251 रुपये प्रति क्विंटल, मध्यम का 240 रुपये व पछेती का 236 रुपये रेट दे रही है। किसानों के लिए सत्र 2013-14 में 940.18 करोड़ की एक भावी गन्ना विकास योजना के तहत 42 हजार 500 एकड़ रकबा गन्ने के अधीन लाने के लिए तैयार की जा रही है, जिसमें से किसानों का ब्याज मुक्त गन्ना बीज ऋण व गन्ने के प्रयोग होने वाली दवाइयों पर देने का प्रावधान है। उपायुक्त मनदीप सिंह बराड़ ने कहा कि यह शुगर मिल पूरे प्रदेश में अपना नाम कमा चुकी है। किसानों व कर्मचारियों की मेहनत के कारण 19 बार राष्ट्रीय स्तर पर तकनीकी कार्यकुशलता, गन्ना विकास एवं वित्तीय प्रबंधन के क्षेत्र में अवार्ड हासिल कर चुकी है। इस मिल को वर्ष 2003-04 में देश की ओवरआल सर्वोत्तम चीनी मिल के बसंत दादा पाटिल पुरस्कार भी मिल चुका है। यह शुगर मिल भविष्य में भी नए आयामों को छुएगी। एमडी कैप्टन शक्ति सिंह ने कहा कि 1985 में 1250 टन गन्ना प्रतिदिन पिराई क्षमता के साथ शुरू हुई इस शूगर मिल ने प्रदेश में ही नहीं बल्कि देश में जिले का नाम रोशन किया है। मिल में किसानों के लिए तमाम सुविधाओं के अलावा खेतों की मिट्टी केे सैंपल जांचने की सुविधा भी मुहैया करवाई गई है। कार्यक्रम के अंत में सबसे पहले गन्ने का ट्रक लाने वाले किसान जस्सा सिंह कुरड़ी, ट्रैक्टर-ट्राली लाने वाले किसान धर्मपाल खरींडवा व श्यामलाल यारा को प्रतीक चिह्न देकर सम्मानित किया गया। इसके अलावा मिल की तरफ से विधायक अनिल धंतौड़ी व उपायुक्त मनदीप सिंह बराड़ को कैप्टन शक्ति सिंह ने शाल भेंट कर सम्मानित किया। इस मौके पर वरिष्ठ वैज्ञानिक डा. कुलदीप ढींढसा, मिल के निदेशक ईसर सिंह, जयपाल, बलदेव सिंह एडवोकेट, हरिदास, जसवंत सिंह, बृजभान, संजय भगवान, नरेंद्र, केन मैनेजर जसविंदर सिंह ढींढसा, सुदर्शन कक्कड़, बलदेव राज चावला, रणधीर चडूनी, लखविंदर सिंह, त्रिलोचन सिंह मौजूद थे।

Spotlight

Most Read

Kanpur

बाइकवालाें काे भी देना हाेगा टोल टैक्स, सरकार वसूलेगी 285 रुपये

अगर अाप बाइक पर बैठकर आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर फर्राटा भरने की साेच रहे हैं ताे सरकार ने अापकी जेब काे भारी चपत लगाने की तैयारी कर ली है। आगरा - लखनऊ एक्सप्रेस वे पर चलने के लिए सभी वाहनों को टोल टैक्स अदा करना होगा।

17 जनवरी 2018

Related Videos

हरियाणा में इस नौकरी के लिए उमड़ा बेरोजगारों का हुजूम

हरियाणा में बेरोजगारी का क्या आलम है, ये देखने को मिला करनाल में। दरअसल मंगलवार को करनाल में ईएसआई हेल्थ केयर में चपरासी के 70 पदों के लिए प्रदेश भर से हजारों युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

17 जनवरी 2018

  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper