सेक्टर सात के घर में चोरी का प्रयास

Karnal Updated Tue, 20 Nov 2012 12:00 PM IST
करनाल। सेक्टर सात के एक घर में चोरी करने के इरादे से घुसे तीन चोर मालिक को देखते ही तमंचा व हथियाराें सहित अपने बैग को छोड़ कर भागने में सफल हो गए। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने बैग व हथियारों को अपने कब्जे में ले लिया। घटना स्थल पर पहुंची एफएसएल व पुलिस की टीम ने मौका मुआयना करने के बाद चोरों की छानबीन शुरू कर दी है।
सेक्टर सात के 477 नंबर में रहने वाले बंसी लाल वधवा घर सोमवार सुबह तीन चोरों ने चोरी करने के इरादे से चाकुओं सहित प्रवेश किया, लेकिन मालिकाें को भनक लगते ही चोर अपना सामान छोड़ कर भागने में सफल हो गए। बंसी लाल ने बताया कि सुबह करीब सवा सात बजे वह जैसे ही अपने घर से निकलकर जाने लगे, तो छत पर बने मंदिर के बाहर लगे पाइप से पानी टपक कर नीचे गिर रहा था। बंसी लाल ने बताया कि जैसे ही उसकी पत्नी पूनम टपकते हुए पानी को देखने के लिए छत पर बने मंदिर के भीतर गई।

पत्नी के साथ की धक्कामुक्की
मंदिर के भीतर बैठे मुंह पर कपड़ा लपेटे तीनों चोर दीवार के साथ सट कर खड़े हो गए। पूनम ने चोराें को देखते ही शोर मचाने का प्रयास किया, लेकिन चोरो ने पूनम को मंदिर के भीतर खींच लिया और पूनम का मुंह दबोच लिया। पूनम से धक्कामुक्की के दौरान चोराें ने पूनम के मुंह व हाथ पर ब्लेड मार कर घाव कर दिए। इसी बीच दो चोर गेट के रास्ते व दूसरा चोर छत से भागने में सफल हो गया। बंसी ने बताया कि जब तक वह छत पर पहुंचे चोर भाग चुके थे। बंसी ने बताया कि चोर जाते समय अपने बैग मंदिर में ही छोड़ गए। जिस में 315 बोर का तमंचा, दो बड़े बडे़ चाकू, दो रस्सी, मुंह बंद करने के लिए टेप, तीन जोड़ी जूते, दो प्लास, पेचकस चोराें के बैग से बरामद हुए हैं।

मंदिर में छिपकर बैठे थे
बंसी के मुताबिक घटना की सूचना पुलिस को दी। सूचना मिलते ही डीएसपी सुरेंद्र सिंह भोरिया, एसएचओ सिविल लाइन गुरविंद्र सिंह व एफएससल की टीम ने मौका का मुआयना करने के बाद जांच शुरु कर दी है। बंसी ने बताया कि चोरो ने करीब सुबह तीन चार बजे अंधेरे में ऊपर के रास्ते मंदिर की खिड़की की जाली काट कर खिड़की की चिटकनी खोलकर मंदिर में प्रवेश किया।

Spotlight

Most Read

Jharkhand

चारा घोटाला: चाईबासा कोषागार मामले में कोर्ट ने सुनाया फैसला, तीसरे केस में लालू दोषी करार

रांची स्थित विशेष सीबीआई अदालत ने चारा घोटाले के तीसरे मामले में बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को दोषी करार दिया है। साथ ही पूर्व सीएम जगन्नाथ मिश्रा को भी दोषी ठहराया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हरियाणा में इस नौकरी के लिए उमड़ा बेरोजगारों का हुजूम

हरियाणा में बेरोजगारी का क्या आलम है, ये देखने को मिला करनाल में। दरअसल मंगलवार को करनाल में ईएसआई हेल्थ केयर में चपरासी के 70 पदों के लिए प्रदेश भर से हजारों युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls