मेहमान नवाजी के कायल हुए शिल्पकार

Karnal Updated Wed, 31 Oct 2012 12:00 PM IST
कैथल। हरियाणा प्रदेश की माटी से बने लाफिंग बुद्ध समेत अन्य उत्पाद ने सरस मेले आने वाले सभी लोगों का ध्यान अपनी ओर खींचा है। प्रदेश की काली और लाल मिट्टी को सुंदर और आकर्षित रूप देने का काम कर रहे हैं शिल्पकार सतपाल और कन्हैया लाल। इन शिल्पियों के हाथों को मजबूत करने का काम हरियाणा सरकार ने किया है। इन दोनों कलाकारों के स्टॉल पर बिक्री के लिए रखे खिलौनों में मुख्यतौर पर फ्लावर पॉट, तुलसी गमला, तबला और सारंगी बजाते हरियाणवीं लोग तथा हारमोनियम बजाती महिलाएं, राजस्थानी नृत्यांगनाएं, राधा-कृष्ण, घोड़ बग्धी, हाथी सवारी तथा फ्लोटिंग कैंडल सरस मेले में आने वाले खासो-आम को अपनी ओर खींच रहें हैं। सरकार की योजनाओं से आम शिल्पकार को मिली ताकत का नमूना सरस मेले में देखने को मिला। शिल्पकार सतपाल का कहना है कि इस उत्सव के लिए देश विदेश के पर्यटकों का खास ध्यान रखते हुए 100 से अधिक तरह के मिट्टी के खिलौने तैयार किए हैं। इन खिलौनों को मेले में आने वाला आम व्यक्ति आसानी से खरीद सकता है। इसलिए इन खिलौनों की कीमत महज पांच रुपये से लेकर 900 रुपये तक की रखी गई है।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हरियाणा में इस नौकरी के लिए उमड़ा बेरोजगारों का हुजूम

हरियाणा में बेरोजगारी का क्या आलम है, ये देखने को मिला करनाल में। दरअसल मंगलवार को करनाल में ईएसआई हेल्थ केयर में चपरासी के 70 पदों के लिए प्रदेश भर से हजारों युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

17 जनवरी 2018