धर्मांतरण के खिलाफ अभियान चलाएगी विहिप

Karnal Updated Wed, 31 Oct 2012 12:00 PM IST
कुरुक्षेत्र। देश में सेकुलरवाद के नाम पर हिंदू संस्कृति को चौपट किया जा रहा है। सेकुलर के नाम पर शिक्षा विभाग में भारतीय संस्कृति की कोई शिक्षा नहीं दी जा रही, जबकि मुसलमानों के मदरसों जहां इस्लामिक शिक्षा दी जाती है, के लिए सब्सिडी दी जा रही है। विश्व हिंदू परिषद् के केंद्रीय मंत्री एवं धर्मप्रसार विभाग के राष्ट्रीय प्रमुख जुगल किशोर मंगलवार को कुरुक्षेत्र के गीता निकेतन आवासीय विद्यालय में चल रही तीन दिवसीय धर्म प्रसार प्रतिनिधि बैठक के समापन अवसर पर विद्या भारती भवन में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे। इस तीन दिवसीय बैठक में देश के सभी राज्यों के करीब 250 प्रतिनिधियों ने शिरकत की।
किशोर ने कहा कि इस देश में दोहरी शिक्षा प्रणाली चल रही है। इस दोहरी शिक्षा प्रणाली के कारण ही भ्रष्टाचार फैला हुआ है। उन्होंने मांग की कि शिक्षा के पाठ्यक्रम में नैतिकता, भारतीय संस्कृति व नैतिक मूल्यों को शामिल किया जाए। देश के ऋषि मुनियों और शोधकर्ताओं का दर्शन और चिंतन शामिल किया जाए। उन्होंने कहा कि यह सब काम समाज के सहयोग से हो सकता है, क्योंकि यह पूरे राष्ट्र का काम है।
विहिप नेता ने कहा कि असम में बंगलादेशी घुसपैठियों के कारण हिंदुओं पर हमले किए जा रहे हैं। विहिप इन सब मामलों को लेकर जनता के बीच जन जागरण अभियान चलाएगी। समाज को जगाया जाएगा। विश्व हिंदू परिषद् आदिवासी क्षेत्रों में 46 हजार सेवाकार्य चला रही है। विहिप ने 60 लाख लोगों को धर्मांतरण से बचाया और 60 लाख लोगों ने स्वेच्छा से हिंदू धर्म अपनाया है। इस अवसर पर विहिप के प्रदेश मंत्री प्रद्युमन कुमार, हिंदू हेल्प लाइन के प्रदेश संयोजक मदन मोहन छाबड़ा, विहिप के प्रदेश उपाध्यक्ष हरिओम तायल भी उपस्थित थे।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हरियाणा में इस नौकरी के लिए उमड़ा बेरोजगारों का हुजूम

हरियाणा में बेरोजगारी का क्या आलम है, ये देखने को मिला करनाल में। दरअसल मंगलवार को करनाल में ईएसआई हेल्थ केयर में चपरासी के 70 पदों के लिए प्रदेश भर से हजारों युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

17 जनवरी 2018