पाकिस्तान से लौटा भारतीय कानूनविदों का दल

Karnal Updated Sun, 07 Oct 2012 12:00 PM IST
कैथल। भारतीय अधिवक्ताओं के प्रतिनिधिमंडल में शामिल होकर पाकिस्तान गए कैथल जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सुभाष चुघ और अन्य वकील वतन लौट आए हैं। वकीलों ने वहां कई कार्यक्रमों में भाग लिया और स्थिति का जायजा लिया। लौटने पर कोयल कांप्लेक्स में पत्रकारों से बातचीत में जिला बार एसोसिएशन के अध्यक्ष सुभाष चुघ ने बताया कि शिष्टमंडल में कुल 104 वकील शामिल थे। इसमें कैथल से वे स्वयं, बार एसोसिएशन के पूर्व अध्यक्ष रणबीप राशर, नफे सिंह बेरवाल सहित एडवोकेट रविंद्र तंवर, मनोज चौहान, सुरेंद्र कुंडू, चरण सिंह काला, राकेश नैन, प्रदीप ढुल, सुरेश मान, बलराज नौच शामिल हैं। 29 सितंबर को यह दौरा शुरू हुआ था।
उन्होंने बताया कि भारतीय लोगों की तरह ही पाकिस्तानी भी यह चाहते हैं कि सीमा के दोनों ओर अमर और शांति रहे। इस सात दिवसीय दौरे के दौरान पाक सरकार, बार काउंसिल व सामाजिक संगठनों के कार्यक्रमों में भाग लेने के बाद शिष्टमंडल के सदस्यों ने यह महसूस किया कि दोनों देशों के लोगों के दिल एक हैं और वे वीजा पॉलिसी के सरलीकरण के पक्षधर हैं, ताकि खुले तौर पर व्यवसाय करने के लिए एक दूसरे देश में जा सकें। चुघ ने बताया कि वाघा बार्डर पर पहुंचने पर वहां के वकीलों ने भारतीय दल का स्वागत किया। उन्होंने बताया कि पाक दौरे के दौरान 104 वकीलों ने ननकाना साहिब गुरुद्वारा में अरदास की। इस दौरान बार एसोसिएशन ने सभी वकीलों को मानद सदस्यता प्रदान की। इस शिष्टमंडल में 25 के करीब सिख भी थे। अधिवक्ताओं ने कहा कि पाकिस्तान की फेडरल सरकार के गृह मंत्री रहमान मलिक ने सिख समुदाय की पुरानी मांग को स्वीकार कर ऐतिहासिक घोषणा की है। आल इंडिया बार एसोसिएशन के प्रादेशिक अध्यक्ष और दौरे के मुख्य संयोजक प्रताप सिंह एडवोकेट तथा पूरे शिष्टमंडल की पहल पर इस्लामाबाद के निकट हसन अब्दाल नामक शहर को पवित्र शहर घोषित किया है। यही नहीं मलिक ने एक निमंत्रण पंजाब के मुख्यमंत्री प्रकाश सिंह बादल के नाम भी भेजा। इसमें आग्रह किया गया है। इस ऐतिहासिक घोषणा का कार्य रूप देने के लिए वे इसी माह में पाक आए, ताकि बड़ा आयोजन किया जा सके। जिला बार एसोसिएशन के उपाध्यक्ष रविंद्र तंवर, सचिव सुरेंद्र कुंडू तथा सहसचिव प्रदीप ढुल ने बताया कि लाहौर के वकीलों ने जो आत्मीयता दिखाई उसका सहज अनुमान लगाना मुश्किल है। अधिवक्ता फरियाद चौधरी, मियां परवेज हुसैन, मलिक गुलाम मुस्तफा जूनी, मलिक अब्दुल रसीद ने कैथल के वकीलों को विभिन्न ऐतिहासिक स्थलों का दौरा करवाया।

Spotlight

Most Read

Lucknow

1300 भर्तियों के मामले में फंसे आजम खां, एसआईटी ने जारी किया नोटिस

अखिलेश सरकार में जल निगम में हुई 1300 पदों पर हुई भर्ती को लेकर आजम खा के खिलाफ नोटिस जारी किया गया है।

16 जनवरी 2018

Related Videos

इन हुनरबाजों ने जीती इंडिया बेस्ट ऐरोमॉडलिंग ट्रॉफी तो ऐसे हुआ स्वागत

ऑल इंडिया बेस्ट ऐरोमॉडलिंग पर कब्जा जमाकर जोधपुर से करनाल पहुंचे NCC कैडेट्स का शानदार स्वागत किया गया।

9 नवंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls
  • Downloads

Follow Us

Read the latest and breaking Hindi news on amarujala.com. Get live Hindi news about India and the World from politics, sports, bollywood, business, cities, lifestyle, astrology, spirituality, jobs and much more. Register with amarujala.com to get all the latest Hindi news updates as they happen.

E-Paper