सड़क से फिसली, खड्ड में अटकी

Karnal Updated Sun, 16 Sep 2012 12:00 PM IST
कुरुक्षेत्र। स्कूली बच्चों को लेकर शनिवार सुबह जा रही एक बस के अनियंत्रित होकर खेत में गिरने से जहां 18 विद्यार्थी बाल बाल बच गए, वहीं बस की चपेट में आने से तीन बच्चे जख्मी हो गए। हादसे की सूचना मिलते ही पुलिस अधिकारी, स्कूल प्रबंधन और अभिभावक मौके पर पहुंचे। स्थानीय लोगों ने बस चालक पर ओवर स्पीड और लापरवाही से बस चलाने का आरोप लगाया है, जबकि स्कूल प्रबंधन का कहना है कि चालक की सूझबूझ से बड़ा हादसा टल गया।
जानकारी के अनुसार सलारपुर रोड पर स्थित बीआर इंटरनेशल स्कूल की एक बस 18 विद्यार्थियों को लेकर जा रही थी। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक अमरगढ़ मझाड़ा मोड़ पर चालक ने बस को ब्रेक लगाई। इसके बाद बस का संतुलन बिगड़ गया और बस खेत में जा गिरी। बेकाबू बस ने गांव खेड़ी मारकंडा वासी छात्र कृष्ण कुमार पुत्र गुरमीत सिंह, महेश और उसके छोटे भाई सचिन पुत्र रामकिशन को चपेट में ले लिया।
हादसे के शिकार छात्र कृष्ण और महेश ने बताया कि वे सुबह सवा आठ बजे गांव से प्रतापगढ़ राजकीय विद्यालय जा रहे थे, इसी बीच गांव अमरगढ़ मजाड़ा के मोड़ पर सामने से आ रही बीआर इंटरनेशनल स्कूल की बस ने उनको टक्कर मार दी। इसमें महेश का छोटा भाई सचिन घायल हो गया। गांव प्रतापगढ़ वासी सुरेश कुमार, जगदीश कुमार ने बताया कि ड्राइवर उनके गांव से जब गुजरा तो ओवर स्पीड में था। इस बस में काफी संख्या में विद्यार्थी सवार थे।

बस की चपेट में आने से बचे अन्य
ग्रामीणों के मुताबिक बस ओवर स्पीड होने के कारण उनके गांव के पास मोड़ पर कई लोग चपेट में आने से बाल-बाल बच गए। थोड़ी ही दूरी पर जाकर उक्त स्कूल बस बेकाबू होकर सड़क से करीब छह फुट नीचे खेत में जा गिरी। उधर घायल छात्र सचिन के पिता रामकिशन गुप्ता ने भी बस चालक पर आरोप लगाए हैं। राम किशन ने प्रशासन से अपील की है कि स्कूल बस ड्राइवर के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए। सूचना मिलते ही स्कूल के शिक्षक और अन्य स्टाफ के साथ स्कूल के चेयरमैन के भाई कुलदीप चोपड़ा और पिपली थाना प्रभारी प्रीतम सिंह पुलिसकर्मियों के साथ मौके पर पहुंचे और घायल सचिन को सरकारी अस्पताल में भेजा और क्रेन की मदद से बस को बाहर निकाला। मौके पर जिला यातायात पुलिस अधिकारी राजबीर सिंह, थाना सदर के एसएचओ प्रीतमपाल, अभिभावक और स्कूल प्रबंधन समिति के सदस्य मौके रहे।
बाक्स
घटना के एक घंटे बाद क्रेन पहुंची मौके पर
अमरगढ़ मजाड़ा वासी तेजपाल ने बताया कि बस पलटने की सूचना पुलिस और ग्रामीणों ने क्रेन को दी थी, लेकिन एक घंटे बीतने के बाद क्रेन मौके पर पहुंची। यदि कोई बड़ा हादसा हुआ होता तो क्रेन के मौके पर नहीं पहुंचने पर से बड़ी अनहोनी हो सकती थी।

बाक्स
बच्चों को बचाने के लिए नीचे उतारी बस
बस ड्राइवर मंजीत सिंह पुत्र जरनैल सिंह का कहना है कि उसकी चौकसी की बदौलत स्कूल के 18 बच्चों समेत साइकिल सवार तीन बच्चों की भी जान बची है। बस चालक के अनुसार 27 वर्षों से बस चला रहे हैं, करीब पांच साल से बीआर इंटरनेशनल स्कूल में सेवाएं दे रहे हैं। उसका कहना है कि प्रतिदिन इस रोड से गांव कड़ामी, प्रतापगढ़, मथाना और बीड़ मथाना से विद्यार्थी उसकी बस में आवाजाही करते हैं। उसके मुताबिक घटना के दौरान सामने से साइकिल पर बच्चे आ रहे थे, तभी एक स्कूटी चालक महिला ने बच्चों को ओवरटेक किया। इसके बाद बच्चों को बचाना आवश्यक हो गया, इस कारण उसने तुरंत ब्रेक लगा दिए परंतु कीचड़ होने के कारण बस स्लिप कर गई और सड़क किनारे खेत में एक तरफ झुक गई। ड्राइवर के अनुसार बस में सवार सभी बच्चे सुरक्षित हैं।

बाक्स
ड्राइवर की नहीं है कोई गलती : प्रिंसिपल
बीआर इंटरनेशनल स्कूल की प्रिंसिपल विनीता बाला का कहना है कि बस ड्राइवर की कोई गलती नहीं है। सड़क पर कीचड़ होने के कारण बस स्लिप हुई है। इतना ही नहीं बस ड्राइवर ने अपनी सूझबूझ से साइकिल सवार तीनों बच्चों को बचाया है। साथ ही बस में सवार 18 बच्चों को भी खरोंच तक नहीं लगने दी है। प्रिंसिपल के अनुसार पिपली सदर थाना के एसएचओ और ट्रैफिक पुलिस ने भी घटना का मुआयना करने के बाद ड्राइवर को क्लीन चिट दी है।

बाक्स
किसी ने नहीं दी ड्राइवर के खिलाफ शिकायत
पिपली सदर थाना प्रभारी प्रीतमपाल ने बताया कि सुबह बस दुर्घटना की किसी ने उनको शिकायत नहीं दी है। ट्रैफिक प्रभारी राजबीर सिंह का कहना है कि जांच के दौरान बस और ड्राइवर की कोई खामी नहीं मिली है।

बाक्स
समझदारी नहीं भगवान ने बचाया
ग्रामीणों का कहना है कि हादसे में ड्राइवर की समझदारी नहीं, बल्कि भगवान की कृपा से एक बड़ा हादसा टल गया। उन्होंने बताया कि इस सड़क से एक नहीं हजारों वाहन प्रतिदिन गुजरते हैं। बस ओवर स्पीड न होती तो इस तरह सड़क से नीचे जाकर खेत में नहीं गिरती। गौरतलब है कि इससे पहले भी ऐसी घटनाएं कई बार हो चुकी हैं, लेकिन हर बार स्कूल बस चालक की गलती न मिलने की वजह से केस दर्ज नहीं किए गए।

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाले के तीसरे केस में लालू यादव दोषी करार, दोपहर 2 बजे बाद होगा सजा का ऐलान

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हरियाणा में इस नौकरी के लिए उमड़ा बेरोजगारों का हुजूम

हरियाणा में बेरोजगारी का क्या आलम है, ये देखने को मिला करनाल में। दरअसल मंगलवार को करनाल में ईएसआई हेल्थ केयर में चपरासी के 70 पदों के लिए प्रदेश भर से हजारों युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

17 जनवरी 2018