अरुण ने ताइक्वांडो में जीता गोल्ड

Karnal Updated Sun, 19 Aug 2012 12:00 PM IST
तरावड़ी। प्रताप पब्लिक स्कूल तरावड़ी के छात्रों ने पीडीपी मालाबार हिल्स मुंबई में 10 अगस्त से 12 अगस्त तक चले नेशनल ओपन ताइक्वांडो टूर्नामेंट में बेहतर प्रदर्शन किया। इसमें स्कूल के छात्र अरुण राणा ने स्वर्ण पदक, लव प्रताप राणा ने रजत पदक, योगेश शर्मा व अगम दावेसर ने कांस्य पदक जीतकर विद्यालय व अपने परिजनों का नाम रोशन किया। सभी प्रतिभागियों को वर्ल्ड ताइक्वांडो हेडक्वार्टर कोकिवोन कोरिया से आए मास्टर द्वारा प्रशिक्षण प्राप्त हुआ। विद्यालय के चेयरपर्सन हन्नी चौधरी, प्रीति चौधरी एवं प्रधानाचार्य गुरविंदर चावला ने विजेता छात्रों एवं उनके कोच महेश सिंह को बधाई दी और इसी तरह आगे बढ़ते रहने के लिए प्रोत्साहित किया।



पहले दिन ही ट्रैफिक प्लान फेल
पहले की तरह मनमानी करते रहे वाहन चालक, बेफिक्र बैठी रही पुलिस
नहीं बदला कोई रूट, ज्यों का त्यों रहा सिस्टम
कहीं नजर नहीं आए ट्रैफिक पुलिस के जवान
ऐसे कैसे सुधरेगी शहर की यातायात व्यवस्था

अमर उजाला ब्यूरो
करनाल। शहर में पहले दिन ही पुलिस का बदला ट्रैफिक प्लान फेल हो गया। नए ट्रैफिक प्लान के मुताबिक पुलिस तमाम व्यवस्थाएं कर चुकी थी। इसके बावजूद नए ट्रैफिक प्लान के अनुसार पुलिस कुछ नहीं कर पाई। जहां-जहां रूट बदले गए वहां कोई ट्रैफिक पुलिस का सिपाही तक नहीं था। हां कुछ स्थानों पर बेरिकेट्स जरूर लगे थे। अन्य दिनों की अपेक्षा शनिवार को भी पूरा दिन रांग साइड ट्रैफिक चलता रहा।
इस कारण कई स्थानों पर जाम के हालात बनते रहे, वहीं लोगों को बड़ी परेशानी झेलनी पड़ी। पुलिस ने शहरी क्षेत्र में भीड़ को पाटने और जाम के हालात नहीं बनने देने के लिहाज से नया ट्रैफिक प्लान तैयार किया था। निश्चित तौर पर जनता के पक्ष में है, लेकिन पुलिस की कमजोर कार्यप्रणाली के चलते शनिवार को पहले दिन ही यह प्लान लोगों पर कोई असर नहीं छोड़ सका। पुराना शहर व मेन बाजार में ट्रैफिक का रूट प्लान बदला गया था।

यहां-यहां बदला गया था रूट
जिला भर के लोगों को सब्जी मंडी चौक, कर्णगेट, गुड़मंडी चौक, कमेटी चौक, नावल्टी मोड़, रेलवे रोड समेत कई स्थानों पर पहुंचने के लिए दिक्कत उठानी पड़ती थी। ऐसे सभी स्थानों को चिह्नित करने के बाद पुलिस ने नया प्लान बना कर घोषित किया था। शनिवार को अखबार पढ़ने वाले काफी लोगों को लगा कि संभवता अब लोगोें को भले ही थोड़ा चक्कर काटना पड़े, लेकिन वह जाम में नहीं उलझेंगे। शनिवार को लोग अपने वाहनों से शहर के नए ट्रैफिक प्लान रूटों पर पहुंचे तो व्यवस्था टांय-टांय फिस थी। वहां मौके पर कोई इंतजाम लोगों को नजर नहीं आया। बदले गए नए ट्रैफिक प्लान के अनुसार रूटों पर कोई पुलिस कर्मी तक तैनात नजर नहीं आया।

शॉटकट लगाने वालों पर रखनी थी नजर
पुलिस शॉटकट लगा कर वापस लौटने वालों पर भी नजर रखने के दावे कर रही थी, लेकिन मौके पर सब कुछ विपरीत मिला। लोगों का कहना है कि नया ट्रैफिक रूट प्लान तो बने लेकिन लोगोें की सुविधा को ध्यान में रख कर बनाया जाना चाहिए। वह केवल पुलिस की मर्जी से नहीं बनना चाहिए। इसके लिए शहर के बुद्धिजीवी लोगों और कई जनहित में काम करने वाले संगठनों के पदाधिकारियों की राय भी जान लेनी चाहिए। अन्यथा शहर में अस्पताल चौक और जिला सचिवालय के पास सेक्टर 12-13 को जोड़ने वाले रास्ते को वन वे करने के लिए बनाए गए यू टर्न लोगों के लिए सिरदर्द बने हैं। ऐसी प्लानिंग से जाम कम नहीं होते बल्कि जाम लंबे समय लगते हैं और दुर्घटना अधिक होने की संभावना बनी रहती है।

पहला दिन था, धीरे-धीरे सुधार लेंगे
नए ट्रैफिक प्लान का शनिवार को पहला दिन है। कई स्थानों पर बेरिकेट्स लगाए गए हैं। पुलिस लोगों के साथ मैत्री तौर पर संबंध रखना चाहती है। रौब के कारण कुछ नहीं किया जा सकता। लोगों के भले के लिए यह काम किया जाना है। अब धीरे-धीरे नियमों का अनुपालन नहीं करने वाले वाहन चालकों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा। लोगों के हित का काम है। उनके भले के लिए ही सब कुछ होगा। पहले दिन पुलिस कर्मियों की कमी भी थोड़ा परेशान कर गई।
नसीब सिंह, उपनिरीक्षक
ट्रैफिक पुलिस, करनाल

Spotlight

Most Read

Bihar

चारा घोटाला: लालू और जगन्नाथ मिश्रा को 5 साल की सजा, कोर्ट ने 5 लाख का लगाया जुर्माना

पूर्व रेल मंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के खिलाफ सीबीआई की विशेष अदालत ने बड़ा फैसला सुनाया है।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हरियाणा में इस नौकरी के लिए उमड़ा बेरोजगारों का हुजूम

हरियाणा में बेरोजगारी का क्या आलम है, ये देखने को मिला करनाल में। दरअसल मंगलवार को करनाल में ईएसआई हेल्थ केयर में चपरासी के 70 पदों के लिए प्रदेश भर से हजारों युवाओं की भीड़ उमड़ पड़ी।

17 जनवरी 2018

आज का मुद्दा
View more polls