बेहतर अनुभव के लिए एप चुनें।
INSTALL APP

7489 छात्र, 5405 छात्राआें को दूरस्थ शिक्षा या विवि का करना पड़ेगा रुख

Amar Ujala Bureau अमर उजाला ब्यूरो
Updated Sat, 07 Aug 2021 02:03 AM IST
विज्ञापन
ख़बर सुनें
करनाल। उच्चतर शिक्षा विभाग के संभावित शेड्यूल के अनुसार 12 अगस्त से कालेजों में दाखिला प्रक्रिया शुरू हो रही है लेकिन इस बार जिले में 7489 लड़के और 5405 लड़कियां कालेजों में दाखिले से वंचित रह सकती हैं। ऐसे में इन्हें या तो दूरस्थ शिक्षा या फिर विश्वविद्यालय और अन्य जिलों में पढ़ाई के लिए रुख करना पड़ेगा। जिले के सभी सरकारी और एडेड 14 कालेजों में कुल 8710 सीटें हैं। जहां दाखिले की दौड़ में कुल 21604 विद्यार्थी होंगे यानी सीटों से ढाई गुना ज्यादा विद्यार्थी।
विज्ञापन

12वीं पास करने वालों में 10495 बेटियां हैं, लेकिन इनके लिए सभी कालेजों में 5090 सीटें हैं। जबकि लड़कों की सीटों की स्थिति और खराब है, क्योंकि 11109 लड़के आवेदन करेंगे। लेकिन सभी कालेजों में करीब 3620 सीटों पर ही दाखिला मिल पाएगा, क्योंकि कन्या महाविद्यालयों के अतिरिक्त अन्य कालेजों में आधी सीटों पर बेटियों का ही कब्जा हर साल होता है। इस बार हरियाणा बोर्ड के 100 प्रतिशत और सीबीएसई के 99.5 प्रतिशत विद्यार्थी 12वीं में पास हुए हैं। ज्यादातर विद्यार्थियों के 80 प्रतिशत से अधिक अंक हैं, ऐसे में मेरिट में जगह बनाना भी चुनौतीपूर्ण होगा।

प्रदेश भर में पास हुए सभी विद्यार्थी
12वीं की परीक्षाओं में प्रदेश भर के विद्यार्थी अच्छे अंकों से और लगभग सभी पास हुए हैं। ऐसे में हर जिले के कालेजों में मारामारी होगी। राजकीय पीजी कालेज के दाखिला इंचार्ज डॉ. सुभाष ने बताया कि ज्यादा विद्यार्थी होने के कारण इस बार प्रत्येक बच्चे को मनचाहा विषय मिलने में भी दिक्कत होगी, क्योंकि मेरिट के आधार पर दाखिले होने की जानकारी है।
इग्नू और कुवि की दूरस्थ शिक्षा का विकल्प
कालेजों की सीटें भरने के बाद शेष विद्यार्थियों के पास इग्नू और कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय की दूरस्थ शिक्षा का ही विकल्प होगा। इग्नू के सहायक निदेशक डॉ. धर्मपाल ने बताया कि इग्नू में दाखिलों के लिए सीटों की संख्या सीमित नहीं है, जो विद्यार्थी कालेज में प्रवेश से रह जाएं, वे यहां दाखिला ले सकते हैं। बड़ी संख्या में विद्यार्थी इग्नू से पढ़ाई करते हैं।
मनचाहा कालेज मिलना मुश्किल
राजकीय पीजी कालेज में दाखिलों की जानकारी लेने पहुंचीं सलोनी, आईशा, श्रुति और प्रियंका ने बताया कि इस बार मेरिट में ज्यादा विद्यार्थी होने के कारण मनचाहा कालेज में दाखिला मिलना मुश्किल है। हालांकि वे अपनी पसंद के कालेज के अतिरिक्त अन्य कालेजों में भी दाखिलों के लिए आवेदन करेंगी। चारों छात्राओं के 12वीं की परीक्षाओं में अंक 85 प्रतिशत से अधिक हैं।
सीटों की यह है स्थिति-
कालेज सीट
राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय सेक्टर-14 1630
राजकीय महिला महाविद्यालय रेलवे रोड 960
राजकीय महाविद्यालय घरौंडा 460
एसयूएस राजकीय महाविद्यालय मटक माजरी 640
बाबा फतेह सिंह जी राजकीय महाविद्यालय असंध 240
राजकीय महिला महाविद्यालय तरावड़ी 240
राजकीय महिला महाविद्यालय जुंडला 260
राजकीय महिला महाविद्यालय पाढ़ा 240
राजकीय महिला महाविद्यालय बस्तली 240
राजकीय महिला महाविद्यालय बसताड़ा 350
डीएवी पीजी कालेज 790
गुरुनानक खालसा कालेज 700
दयाल सिंह कालेज 1160
केवीए डीएवी कन्या कालेज 800

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन
  • Downloads

Follow Us

X

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00
X