झाड़ू लेकर गली की सफाई करने निकले सीएम गंदगी पर नहीं दे पाए सफाई

Rohtak Bureau Updated Mon, 05 Jun 2017 11:53 PM IST
ख़बर सुनें
झाड़ू लेकर गली की सफाई करने निकले सीएम गंदगी पर नहीं दे पाए सफाई
स्वच्छता अभियान के तहत सीएम ने गलियां में जाकर लगाया झाड़ू
30 टिप्पर वाहनों को हरी झंडी दिखा ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन व नीले और हरे रंग के डस्टबिन बांटने का शुभारंभ
अमर उजाला ब्यूरो
करनाल। पर्यावरण दिवस को स्वच्छता दिवस में मनाने के लिए झाड़ू लेकर शहर की गलियों में सफाई के लिए निकले सीएम मनोहर लाल खट्टर को अपने लोगों ने ही सवालों के घेर में खड़ा कर दिया। प्रशासनिक टीम के साथ हाथ में झाड़ू लेकर हांसी रोड की गलियों की सफाई करने पहुंचे सीएम ने जब घर के बाहर खड़ी एक महिला से सफाई के बारे में पूछा तो उस महिला का जवाब सुन खुद सीएम मनोहर लाल खट्टर भी एकबारगी सकपका गए। सीएम हाथ में झाडू लेकर पहले से साफ पड़ी गली की सफाई कर रहे थे, तभी उनका सामना अपने घर के बाहर खड़ी इस रस्म अदायगी को देख रही एक महिला से हुआ। सीएम महिला को देखते ही उसके पास पहुंचे और हालचाल पूछने के साथ जानना चाहा कि क्या यहां सफाई होती है? सीएम का सवाल सुनने के बाद महिला ने तंज भरे लहजे में कहा कि, सीएम साहब आज आपको इस गली में आना था, इसलिए सुबह यहां सफाई हो गई, नहीं तो यहां सफाई तो दूर कई-कई दिन तक गलियों में पड़ा कूड़ा भी यहां से नहीं उठता। महिला का जवाब सुन सीएम ने नगर निगम आयुक्त डॉ. आदित्य दहिया से इसका कारण जानना चाहा, लेकिन वे इसका सही जवाब नहीं दे सके। इसके बाद सीएम फिर से झाडू उठाया और आगे बढ़ गए और अन्य किसी शहरवासी से बिना कोई प्रश्र किए अपनी गाड़ी में आकर बैठ गए।
30 वाहनों की दी हरी झंडी
इससे पहले, सीएम ने हांसी चौक पर नगर निगम द्वारा आयोजित स्वच्छता अभियान कार्यक्रम के तहत 30 टिप्पर वाहनों को झंडी दिखाकर रवाना किया और ठोस एवं तरल कचरा प्रबंधन के दृष्टिगत लोगों को नीले और हरे रंग के डस्टबिन बांटने के कार्यक्रम का भी शुभारंभ किया। इस दौरान सभा को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि प्रदेश के सभी गांव को खुले में शौचमुक्त करने का अभियान पूरे जोरों पर है। इसके तहत ही करनाल अर्बन में 1. 85 लाख हाउसहोल्ड को हरे व नीले रंग के डस्टबीन पेयर वितरित किए जाएंगे। निगम द्वारा गली मोहल्लों से ठोस व तरल अलग-अलग कचरा उठाने के लिए 20 नई ऑटो टिप्पर गाड़ियां खरीदी गई हैं, जबकि निगम के पास पहले से ही 30 टिप्पर वाहन उपलब्ध हैं। इस प्रकार ऐसे वाहनों की संख्या 50 हो गई है। प्रत्येक वार्ड में हरी और नीली ऑटो टिप्पर वाहन कूड़ा उठाने के लिए लगाए गए हैं। इन पर करीब सवा दो करोड़ रुपये की राशि खर्च की गई है।
23 जून तक ग्रामीण क्षेत्र होगा खुले में शौच मुक्त
सीएम ने कहा कि प्रदेश के अधिक्तर ग्रामीण क्षेत्र खुले में शौचमुक्त घोषित हो चुके है। आगामी 23 जून तक हरियाणा के शेष बचे ग्रामीण क्षेत्र पूर्ण रूप से खुले में शौचमुक्त घोषित हो जाएंगे। इसी प्रकार, 25 सितम्बर तक प्रदेश के सभी शहरी क्षेत्रों को भी खुले में शौच से मुक्त करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। उन्होने बताया कि प्रदेश में जल निकासी की 1329 योजनाएं चल रही हैं। सोर्स सैग्रीगेशन के तहत तरल व ठोस कचरे के प्रबंधन के लिए भी उचित उपाय किए जा रहे हैं। विश्व पर्यावरण दिवस के महत्व पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि इस वर्ष के पर्यावरण दिवस का थीम प्रकृति से जुड़ने की है। इसके तहत हमें धरती पर अधिक से अधिक पेड़ लगाकर उनका संरक्षण करना चाहिए। उन्होंने बताया कि पुराने जमाने से ही हरियाणा के लोगों का प्रकृति से जुड़ाव रहा है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कार्यक्रम स्थल पर ही स्वच्छ भारत मिशन हरियाणा के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चन्द्र के मार्गदर्शन में स्वच्छता अभियान से जुड़े 15 नव-युवकों के दल को प्रदेश के सभी जिलों में जाने के लिए शुभकामनाएं दी। इस दल के सदस्य प्रदेश के सभी जिलों में जाकर लोगों को स्वच्छता के प्रति नुक्कड़ नाटक व रैली के माध्यम से जागरूक करेंगे। टीम के सदस्य चंड़ीगढ़ से अपने अभियान की शुरूआत कर 22 दनि बाद वापिस करनाल लौटेंगें।
वार्ड नंबर 4 चुना गया बेस्ट वार्ड
मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर स्वच्छता के लिहाज से बेस्ट वार्ड चुने जाने पर वार्ड नम्बर-4 की पार्षद सुजाता अरोड़ा को 2 लाख रूपये का अवार्ड, शील्ड व प्रशस्ति पत्र प्रदान किए। इसी प्रकार संक्टर-9 रेजीडेन्ट वेलफेयर एसोसिएशन को बेस्ट आरडब्ल्यूए चुने जाने पर 50 हजार रुपये का अवार्ड, शील्ड व प्रशस्ति पत्र दिया। बेस्ट स्वच्छागृही का पुरस्कार सीमा को दिया गया, जबकि सीजीसी के चेयनमैन संदीप लाठर, उप चेयनमैन जेआर कालड़ा, आरएन चानना, एसके शर्मा, एपीएस अरोड़ा, संजय बत्तरा, प्रेम हांडा व उनकी टीम को भी मुख्यमंत्री ने सम्मानित किया। इस दौरान मेयर रेनू बाला गुप्ता, पूर्व केन्द्रीय गृह राज्यमंत्री आईडी स्वामी, पूर्व उद्योग मंत्री शशिपाल मेहता, प्रदेश महामंत्री एडवोकेट वेदपाल, मुख्यमंत्री के ओएसडी अमरेन्द्र सिंह, बाल कल्याण परिषद हरियाणा की मानद सचिव संतोष अत्रेजा, जिलाध्यक्ष जगमोहन आनंद, शुगर फैड के चेयरमैन चंद्र प्रकाश कथूरिया, स्वच्छ भारत मिशन हरियाणा के कार्यकारी उपाध्यक्ष सुभाष चंद्र, सीनियर डिप्टी मेयर कृष्ण गर्ग, जयपाल शर्मा आदि मौजूद रहे।
अटल पार्क के ओपन एयर जिम का किया उद्घाटन
मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम स्थल से ही अटल पार्क में बने दो ओपन एयर जिम का उद्घाटन किया। इसका निर्माण करीब 62 लाख रूपये की लागत से हुआ है, इसमें 28-28 मशीनों के सेट लगे है। इस प्रकार जिला में कुल 29 ओपन एयर जिम खोले जाने के दृष्टिगत 24 जिम खुल चुके हैं। सीएम ने कहा कि लोगों को शारीरिक रूप से स्वस्थ रखने के लिए शहरों में ओपन एयर जिम व ग्रामीण क्षेत्रों में व्यायामशालाएं खोली गई हैं। करनाल में नगर निगम द्वारा अब तक 24 ओपन एयर जिम खोले जा चुके हैं, जबकि 5 पर कार्य प्रगति पर चल रहा है। इन पर 3 करोड़ 48 लाख रूपये की राशि खर्च की गई है। ओपन एयर जिम के साथ-साथ 25 पार्कों में फ्री वाई-फाई सुविधा भी उपलब्ध करवाई गई है।

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

Spotlight

Most Read

Agra

अगले 48 घंटे रहें सावधान, फिर तबाही मचा सकता है तूफान

मौसम विभाग ने फिरोजाबाद जिले में आगामी 48 घंटों के अंदर आंधी-तूफान आने का अनुमान जताया है। इसके मद्देनजर जिला प्रशासन ने लोगों से सतर्क रहने की हिदायत दी है।

24 मई 2018

Related Videos

VIDEO: करनाल में दर्दनाक सड़क हादसा, ट्रक और कार की टक्कर में चार की मौत

हरियाणा के करनाल से एक दर्दनाक खबर है।

6 मार्च 2018

आज का मुद्दा
View more polls

अमर उजाला ऐप चुनें

सबसे तेज अनुभव के लिए

क्लिक करें Add to Home Screen