लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Jhajjar/Bahadurgarh News ›   Speeding car falls from bridge of Yamuna Expressway, driver dies

महंगी पड़ी रफ्तार: 210 की रफ्तार से दौड़ाई BMW, रेलिंग तोड़कर एक्सप्रेस वे से 20 फीट नीचे गिरी, मौत

संवाद न्यूज एजेंसी, बहादुरगढ़/ दनकौर(हरियाणा, उत्तर प्रदेश) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Sun, 04 Sep 2022 12:25 AM IST
सार

मृतक भरत यादव हरियाणा के बहादुरगढ़ के सेक्टर-6 का रहने वाला था। दो महीने पहले पिता की और अब बेटे की मौत से परिवार सदमे में है। अस्पताल में घायल साथी का इलाज चल रहा है।

यमुना एक्सप्रेस वे पर दुर्घटनाग्रस्त हुई कार।
यमुना एक्सप्रेस वे पर दुर्घटनाग्रस्त हुई कार। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन

विस्तार

यमुना एक्सप्रेसवे पर रफ्तार का कहर एक बार फिर जानलेवा साबित हुआ है। शनिवार को नोएडा से आगरा की ओर 210 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से जा रही बीएमडब्ल्यू कार असंतुलित होकर रेलिंग को तोड़ते हुए 20 फीट नीचे जा गिरी। जीरो प्वाइंट से आगरा की ओर 11वें किलोमीटर पर हुए हादसे में कार सवार हरियाणा के बहादुरगढ़ निवासी छात्र भरत यादव (21) की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि उसका साथी गौरव गंभीर रूप से घायल हो गया।



हादसे में कार बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई और दोनों युवक उसमें फंस गए। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने दोनों को कड़ी मशक्कत के बाद कार से बाहर निकाला। घायल को उपचार के लिए नजदीकी अस्पताल ले जाया गया जहां से परिजन उसे रेफर कराकर दिल्ली ले गए। घटना की सूचना मिलते ही मृतक के परिवार में मातम छा गया। दो महीने पहले पिता की और अब बेटे की मौत ने परिवार को पूरी तरह सदमे में ला दिया है।  


दनकौर थाना प्रभारी राधा रमन सिंह ने बताया कि शनिवार की सुबह पुलिस को सूचना मिली कि यमुना एक्सप्रेसवे पर गलगोटिया कॉलेज के पास तेज गति में जा रही एक बीएमडब्ल्यू कार सेफ्टी रेलिंग तोड़कर एक्सप्रेसवे से नीचे गिर गई है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची ने कार में फंसे घायलों को बाहर निकलवाया और कैलाश अस्पताल भेजा।

अस्पताल में चिकित्सकों ने कार चालक सेक्टर-6, बहादुरगढ़ जिला झज्जर निवासी भरत यादव को मृत घोषित कर दिया। जबकि घायल गौरव का इलाज चल रहा है। उसकी हालत भी गंभीर बताई जा रही है। बता दें कि करीब दो महीने पहले मृतक भरत यादव के पिता का भी देहांत हो गया था।

परिवार उस सदमे से उभर भी नहीं पाया था कि परिवार पर दुखों का पहाड़ फिर से टूट पड़ा। भरत यादव गुरुग्राम के सेक्टर-23 में स्थित एक कॉलेज में एमबीए की पढ़ाई कर रहा था। जैसे ही यह खबर बहादुरगढ़ पहुंची तो परिवार में मातम छा गया। शहर का हर कोई वासी उनके घर पहुंचा और परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की।

यह भी पढ़ें : Firing In Rohtak: राज्यपाल के जाने के बाद MDU में चली गोलियां, NSUCI के पूर्व अध्यक्ष सहित चार घायल
विज्ञापन

परिवार में अब भरत की माता और बहन है। माता शहर में स्कूल संचालन करती है। भरत की मौत की सूचना मिलने के बाद से ही उनकी माता अनुराधा अपने आंसू नहीं रोक पा रहीं। जबकि अन्य परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल है।घटना की सूचना मिलते ही मृतक के परिवार में मातम छा गया। दो महीने पहले पिता की और अब बेटे की मौत ने परिवार को पूरी तरह सदमे में ला दिया है। 

दनकौर थाना प्रभारी राधा रमन सिंह ने बताया कि शनिवार की सुबह पुलिस को सूचना मिली कि यमुना एक्सप्रेसवे पर गलगोटिया कॉलेज के पास तेज गति में जा रही एक बीएमडब्ल्यू कार सेफ्टी रेलिंग तोड़कर एक्सप्रेसवे से नीचे गिर गई है। सूचना पाकर मौके पर पहुंची ने कार में फंसे घायलों को बाहर निकलवाया और कैलाश अस्पताल भेजा।

अस्पताल में चिकित्सकों ने कार चालक सेक्टर-6, बहादुरगढ़ जिला झज्जर निवासी भरत यादव को मृत घोषित कर दिया। जबकि घायल गौरव का इलाज चल रहा है। उसकी हालत भी गंभीर बताई जा रही है। बता दें कि करीब दो महीने पहले मृतक भरत यादव के पिता का भी देहांत हो गया था।

यह भी पढ़ें : Sonali Phogat: गोवा पुलिस ने सुधीर सांगवान के बैंक खाते खंगाले, प्रॉपर्टी के कारण हत्या के एंगल पर जांच जारी

परिवार उस सदमे से उभर भी नहीं पाया था कि परिवार पर दुखों का पहाड़ फिर से टूट पड़ा। भरत यादव गुरुग्राम के सेक्टर-23 में स्थित एक कॉलेज में एमबीए की पढ़ाई कर रहा था। जैसे ही यह खबर बहादुरगढ़ पहुंची तो परिवार में मातम छा गया। शहर का हर कोई वासी उनके घर पहुंचा और परिवार के प्रति संवेदना प्रकट की।

परिवार में अब भरत की माता और बहन है। माता शहर में स्कूल संचालन करती है। भरत की मौत की सूचना मिलने के बाद से ही उनकी माता अनुराधा अपने आंसू नहीं रोक पा रहीं। जबकि अन्य परिजनों का भी रो-रोकर बुरा हाल है। 

छह एयरबैग भी नहीं बचा सके छात्र की जान
बीएमडब्ल्यूए कार में छह एयरबैग थे। हादसे के वक्त कार के सभी एयरबेग खुल गए थे। छह एयरबैग भी दोनों को सुरक्षित नहीं रख सके। इसकी वजह कार की तेज रफ्तार बताई जा रही है। 

 कार की रफ्तार तेज होने के कारण संतुलन बिगड़ने से हादसा हुआ है। हादसे में बहादुरगढ़ निवासी छात्र भारत की मौत हो गई है। परिजन से लिखित शिकायत मिलने पर जांच कर कार्रवाई की जाएगी। -अभिषेक वर्मा, डीसीपी 

विज्ञापन
विज्ञापन

रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें Android Hindi News App, iOS Hindi News App और Amarujala Hindi News APP अपने मोबाइल पे|
Get all India News in Hindi related to live update of politics, sports, entertainment, technology and education etc. Stay updated with us for all breaking news from India News and more news in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

एड फ्री अनुभव के लिए अमर उजाला प्रीमियम सब्सक्राइब करें

एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00