16 मर्डर के बाद दोनों गैंगस्टर पहुंचे सलाखों के पीछे, अब गैंगवार पर लगेगा ब्रेक

Rohtak Bureau Updated Wed, 15 Nov 2017 01:50 AM IST
अमर उजाला ब्यूरो
झज्जर।
जिला पुलिस की अपराध जांच शाखा द्वारा गिरफ्तार किए गए हिसार और करनाल के मोस्ट वांटेड एवं सात लाख के इनामी बदमाश विनोद पानू और उनके साथी अगर नहीं पकड़े जाते तो प्रदेश में जल्द ही कई बड़ी वारदात को अंजाम दे सकते थे। इन बदमाशों के अपराधों और उनके कब्जे से पकड़े गए हथियारों की फेहरिस्त बहुत लंबी है।
प्रेसवार्ता में एसएसपी बी सतीश बालन ने बताया कि विशेष रूप से आपराधिक गतिविधियों की रोकथाम और अपराधियों की धरपकड़ के लिए गठित सीआईए झज्जर की टीमों ने मंगलवार सुबह आठ बदमाशों को काबू किया है। सभी के कब्जे से कई अवैध हथियार और गाड़ियां बरामद की हैं। पकड़े गए बदमाश विनोद उर्फ पानू उर्फ काना ने प्राथमिक पूछताछ में बताया कि उनकी मंजीत महाल व नंदू गिरोह के बदमाशों की पुलिस हिरासत में हत्या करने की योजना थी।
पुलिस को मिली गुप्त सूचना
सीआईए प्रभारी की टीम को सूचना मिली थी कि हथियारों से लैस जिला हिसार के गांव थुराना का निवासी विनोद पानू उर्फ भाना व जिला झज्जर के गांव रेढूवास का निवासी बदमाश धीरपाल अपने 5/6 साथियों के साथ किसी वारदात को अंजाम देने की फिराक में भिंडावास झील पर गांव कन्हवा की तरफ फॉर्च्यूनर, इकोस्पोर्ट व आई-20 गाड़ियों सहित है। इस आधार पर बदमाशों को पकड़ने के लिए सीआईए झज्जर की तीन अलग-अलग टीमों का गठन किया गया।

भिंडावास झील के पास हुई मुठभेड़
सीआईए झज्जर की तीनों टीमें पूरी मुस्तैदी के साथ बेरी थाना क्षेत्र में भिंडावास झील के पास गांव कन्हवा रोड पर पहुंची। यहां अलग-अलग गाड़ियों में सवार बदमाशों ने पुलिस की टीमों पर जान से मारने की मंशा से फायर करने शुरू कर दिए। पुलिस ने अपना बचाव करने के साथ-साथ बदमाशों को पकड़ने के लक्ष्य को लेकर मुस्तैदी से मुकाबला किया और आठ बदमाशों को काबू कर लिया।

कार्बाइन सहित कई खतरनाक हथियार
पकड़े गए बदमाशों के कब्जे से दो रिवाल्वर, एक कार्बाइन, दो 12 बोर की बंदूक, तीन पिस्टल और सात जिंदा कारतूस व पांच खाली खोल रिवाल्वर के, सात जिंदा कारतूस कार्बाइन के, 27 जिंदा कारतूस व दो खाली खोल बंदूकों के, 21 जिंदा कारतूस वह चार खाली खोल पिस्टल के बरामद किए। एक फॉर्च्यूनर गाड़ी, एक ईको स्पोर्ट गाड़ी और टेंपरेरी नंबर की एक आई-20 गाड़ी बरामद की गई।

मुठभेड़ में ये बदमाश पकड़े
पूछताछ में बदमाशों की पहचान जिला हिसार के गांव थुराना निवासी विनोद उर्फ पानू उर्फ काणा, जिला झज्जर के गांव रेढूवास के निवासी धीरपाल उर्फ दीपक हाल नजफगढ़ दिल्ली, जिला हिसार के गांव राजली के अमित, जिला हिसार के गांव बालसमंद के आशीष, निवासी फिलहाल दिल्ली के नजफगढ़ में रह रहे मिर्जापुर (बिहार) के हरिओम, जिला झज्जर के गांव खरहर निवासी कृष्ण व संजय और गोपाल नगर (नानक प्याऊ) नजफगढ़ के ईश्वर और संजय निवासी गांव खरहर जिला झज्जर आदि के तौर पर की गई।

पानू ने किया 25 वारदातों का खुलासा
पकड़े गए बदमाशों के खिलाफ सरकारी कार्य में बाधा डालकर जान से मारने की नियत से पुलिस पर फायर करने और शस्त्र अधिनियम के तहत कार्रवाई करते हुए थाना झज्जर में मामला दर्ज किया गया है। पूछताछ में पकड़े गए बदमाश विनोद उर्फ पानू ने करीब 25 वारदातों का खुलासा किया है। इनमें 14 हत्या की वारदात, तीन जानलेवा हमले की और आठ फिरौती व धमकी की वारदात शामिल हैं।

धीरपाल ने की थी 20 से ज्यादा वारदात
पैरोल जंपर एवं मकोका में वांछित अपराधी धीरपाल ने प्राथमिक पूछताछ में लूट, डकैती व हत्या की 20 वारदात का खुलासा किया। आशीष उर्फ बिल्ला ने हत्या की चार, जानलेवा हमले की दो और फिरौती की एक वारदात का खुलासा किया, दोषी अमित निवासी राजली ने हत्या की चार, जानलेवा हमले की दो, लूट की तीन व फिरौती की दो वारदात करने का खुलासा किया। पकड़े गए दोषी ईश्वर निवासी नजफगढ़ ने हत्या व फिरौती की तीन वारदातों का खुलासा किया। दोषी संजय पुत्र रघुवीर निवासी खरहर ने पूछताछ में हत्या की एक, लड़ाई-झगड़ा और चोरी के तीन मामलों का खुलासा किया।

इन पुलिस कर्मियों ने पकड़े बदमाश
पानू और उसके साथियों को पकड़ने वाली सीआईए की अलग-अलग टीमों में सहायक उप निरीक्षक जय भगवान, सहायक उप निरीक्षक अनिल कुमार, मुख्य सिपाही बलजीत, कुलदीप, वीरेंद्र सिंह, सुनील कुमार, रामवीर सिंह व मनोज कुमार, सिपाही प्रदीप, राजेश, अमरजीत, बलराज, आशीष, राजकरण, अजमेर सिंह व चालक सिपाही सुनील कुमार शामिल थे।

क्या कहते हैं पुलिस अधिकारी
पानू, धीरपाल व उनके साथियों को काबू करने के लिए हमने निरीक्षक सुरेंद्र कुमार के नेतृत्व में सीआईए झज्जर की अलग-अलग टीमों का गठन किया था। इन टीमों ने मंगलवार की अलसुबह बदमाशों को घेरा तो मुठभेड़ हो गई। कड़ी मशक्कत के बीच जान जोखिम में डालते हुएपुलिस कर्मियों ने मोस्ट वांटेड इनामी बदमाशों सहित आठ बदमाशों को अवैध हथियारों के साथ काबू करने में कामयाबी हासिल की। बुधवार को सभी को अदालत में पेश किया जाएगा।
- बी सतीश बालन, एसएसपी झज्जर

पकड़े गए मोस्ट वांटेड इनामी बदमाश विनोद उर्फ पानू द्वारा की गई वारदात
1. 2011 में गांव थुराना निवासी राजा मास्टर की हत्या।
2. 2011 में हिसार में विनोद को साथियों के साथ लूट की योजना बनाते पकड़ा।
3. 2012 में सेंट्रल जेल हिसार में एक व्यक्ति पर किया जानलेवा हमला।
4. 2014 में करनाल निवासी एक व्यक्ति की हत्या।
5. 2014 में पुष्पा कांप्लेक्स हिसार में बिट्टू पंडित की हत्या।
6. 2014 में हिसार में जिले के निवासी आशु की हत्या।
7. 2015 में नीरज पूनिया के साथ मिलकर करनाल के गांव फूसगढ़ के नीरज की हत्या।
8. 2015 में हिसार के बरवाला में बस अड्डे के पास दुकानदार की गोली मारकर हत्या।
9. 2015 में संदीप उर्फ बच्ची निवासी गांव पेटवाड़ की हिसार अदालत में हत्या।
10. 2016 में संदीप निवासी गांव सोरखी की गांव मुंढाल जिला भिवानी में हत्या।
11. 2016 में टिंकू निवासी पेटवाड़ की उसके गांव में हत्या।
12. 2016 में रामचंद्र निवासी बरवाला की पेट्रोल पंप पर हत्या।
13. 2017 में गांव मदनहेड़ी जिला हिसार में बिट्टू निवासी थुराना व संदीप निवासी मदनहेड़ी की हत्या।
14. 2015 में संदीप निवासी बालसमंद जिला हिसार की उसी के गांव में हत्या।
15. 2016 में सोनीपत के नजदीक सतीश उर्फ काला के कहने पर ईश्वर नामक व्यक्ति की हत्या।
16. 2016 में राजू सेठी निवासी गुरुग्राम की गुरुग्राम पेट्रोल पंप पर हत्या।
17. 2015 में सुरेंद्र फौजी निवासी गांव लाडपुर जिला झज्जर के कहने पर उसके गांव के एक व्यक्ति पर कातिलाना हमला।
18. 2016 में ललित निवासी हिसार को जान से मारने की धमकी दी।
19. 2016 में राजा निवासी हिसार को जान से मारने की धमकी।
20. 2016 में सुचेंद्र निवासी राखीगढ़ी को जान से मारने की धमकी।
21. 2016 में हिसार में स्थित हाईवे होटल के संचालक को जान से मारने की धमकी दी।
22. 2016 में बद्री निवासी बालसमंद को जान से मारने की धमकी दी।
23. 2016 में दिनेश शाह निवासी बालसमंद को जान से मारने की धमकी।
24. 2017 में रवि निवासी बालसमंद के पेट्रोल पंप पर एक करोड़ की रंगदारी मांगने के लिए उसके पेट्रोल पंप पर फायरिंग की।


पकड़े गए मकोका से फरार धीरपाल रेढूवास ने फरारी के दौरान की ये वारदात
1. जुलाई 2017 में अजय निवासी गांव बहू को धमकी देकर 20 लाख की रंगदारी मांगी।
2. तीन-चार महीने पहले गांव भागवी जिला चरखी दादरी के पास से एक आई-20 गाड़ी छीनी।
3. चार महीने पहले बहादुरगढ़ में एक इंजीनियरिंग कॉलेज के नजदीक से एक स्विफ्ट डिजायर गाड़ी छीनी।
4. दो महीने पहले दिल्ली के द्वारका सेक्टर-6 के नजदीक एक वरना गाड़ी छीनी।
5. 25 दिन पहले हेली मंडी जिला गुरुग्राम के पास से एक ईको स्पोर्ट गाड़ी छीनी।
7. दो महीने पहले दिल्ली के गांव भरथल के पास एक स्विफ्ट गाड़ी छीनी।
8. 20 दिन पहले रोहतक में जींद बाईपास के निकट युवक नवीन पर कातिलाना हमला।


दोषी अमित निवासी राजली ने किया इन वारदात का खुलासा
1. 2011 में राजा निवासी थुराना जिला हिसार की गोली मारकर हत्या।
2. 2011 में हिसार जिला पुलिस ने लूट की योजना बनाते काबू किया।
3. 2016 में जिला हिसार में बरवाला के नजदीक एसएक्स-4 गाड़ी छीनी।
4. 2017 में हिसार जिले के गांव पेटवाड़ निवासी टिंकू की हत्या।
5. 2017 में रामचंद्र निवासी बरवाला की हत्या।
6. 2017 में बिट्टू निवासी गांव थुराना जिला हिसार व संदीप निवासी मदनहेड़ी जिला हिसार की हत्या।
7. 2017 में बालसमंद हिसार के पेट्रोल पंप पर एक करोड़ की रंगदारी मांगने के लिए चलाई गोली।
8. 2017 में गांव राजली, जिला हिसार में शराब के ठेके पर हत्या के लिए फायरिंग।
9. 20 दिन पूर्व हेली मंडी जिला गुरुग्राम से एक इको स्पोर्ट गाड़ी छीनी।
10. 20 दिन पूर्व नवीन निवासी रोहतक पर जींद बाईपास रोहतक पर जान से मारने के लिए चलाई गोली।
11. चार महीने पूर्व सतवीर फौजी निवासी हिसार से 25 लाख की रंगदारी मांगी।


आशीष उर्फ बिल्ला ने स्वीकारी ये वारदात
1. 2015 में संदीप निवासी बालसमंद की हत्या।
2. 2016 में मुंढाल जिला भिवानी में संदीप निवासी सोरखी की हत्या।
3. 2017 में रामचंद्र निवासी बरवाला जिला हिसार की हत्या।
4. 2017 में गांव राजली जिला हिसार में ठेका शराब पर फायरिंग।
5. 2017 में गांव बालसमंद जिला हिसार में रवि निवासी बालसमंद के पेट्रोल पंप पर एक करोड़ की रंगदारी मांगने के लिए फायर।
6. 2017 में गांव मदन हेड़ी जिला हिसार निवासी बिट्टू व गांव मदन हेड़ी निवासी संदीप की हत्या।
7. करीब 25 दिन पूर्व हेली मंडी जिला गुरुग्राम से इको स्पोर्ट गाड़ी छीनने की वारदात को अंजाम दिया था।

Spotlight

Most Read

Kanpur

शामतक शादी करने की मोहलत मांग युवती काे ले गया घर, फिर इस हाल में मिली..

यूपी के बांदा में पड़ोसी युवती को अपने घर लिवा ले जाने के बाद शादी से इनकार करने पर क्षुब्ध युवती ने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने आरोपी युवक के विरुद्ध आईपीसी की धारा 306 की रिपोर्ट दर्ज कर ली है। 

20 फरवरी 2018

Related Videos

डॉक्टर साहब गए आराम फरमाने, गार्ड ने ऐसे किया इलाज

हरियाणा के सिरसा में एक डॉक्टर की संवेदनहीनता देखने को मिली। यहां पर डॉक्टर साहब घायल शख्स का इलाज करने के बजाय आराम फरमाने चले गए। जिसके बाद मौके पर मौजूद एक सफाईकर्मी ने घायल शख्स को टांके लगाए।

19 सितंबर 2017

आज का मुद्दा
View more polls

Switch to Amarujala.com App

Get Lightning Fast Experience

Click On Add to Home Screen