लोकप्रिय और ट्रेंडिंग टॉपिक्स

Hindi News ›   Haryana ›   Hisar ›   Hurt by being humiliated in the panchayat, the young man hanged himself to death

हिसार: पंचायत में अपमानित होने से आहत युवक ने फंदे पर लटककर जान दी, सुसाइड नोट में लिखी ये बात

संवाद न्यूज एजेंसी, हिसार (हरियाणा) Published by: भूपेंद्र सिंह Updated Wed, 05 Oct 2022 11:50 PM IST
सार

29 सितंबर की रात को गांव के शीतला माता मंदिर में पानी की मोटर चोरी हुई थी। अगले दिन गांव में पूर्व सरपंच प्रतिनिधि प्रमिंदर सिंह व गांव के अन्य लोगों ने पंचायत बुलाई थी।

मृतक का फाइन फोटो, लिखा गया सुसाइड नोट।
मृतक का फाइन फोटो, लिखा गया सुसाइड नोट। - फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी
विज्ञापन
ख़बर सुनें

विस्तार

हरियाणा के हिसार जिले में पंचायत में हुए अपमान से आहत होकर मंगलवार रात को घर के कमरे में फंदा लगाकर फिरोज खान  (26) ने आत्महत्या कर ली। मृतक के पास से एक सुसाइड नोट मिला है। इस नोट में दो लोगों के नाम लिखे हैं, जिनको अपनी मौत के लिए जिम्मेदार ठहराया है। उकलाना पुलिस ने शव का नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम कराया। पुलिस ने मृतक के पिता पाला की शिकायत पर काला, सतपाल मेंबर और अन्य के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है।

 
प्रभुवाला गांव निवासी पाला ने पुलिस को दिए बयान में बताया है कि उनके तीन बेटे हैं। बड़ा बेटा फिरोज प्लंबर था। 29 सितंबर की रात को गांव के शीतला माता मंदिर में पानी की मोटर चोरी हुई थी। अगले दिन गांव में पूर्व सरपंच प्रतिनिधि प्रमिंदर सिंह व गांव के अन्य लोगों ने पंचायत बुलाई। पंचायत में मेरे बेटे फिरोज ने कबूल किया कि पानी की मोटर उसने चोरी नहीं की। चोरी गांव के सुनील और अन्य ने की है। मैंने यह मोटर उनसे 800 रुपये में खरीदी है। 



यह भी पढ़ें : Haryana: यमुनानगर में लोगों पर गिरा रावण का जलता पुतला, फतेहाबाद में दहन से पहले ही बीच से टूटा पुतला

 

बेटे ने पंचायत में कहा कि जब भी चोरी करने वाले युवक मिलेंगे उनको पंचायत में लाकर पेश कर दूंगा। पंचायत में हुए अपमान के बाद उनका बेटा गुमशुम रहने लगा। मंगलवार रात को खाना खाने के बाद कमरे में चला गया। रात करीब 8.45 बजे कमरे में बर्तन गिरने की आवाज आई।

 

इस पर पत्नी बाला के साथ कमरे में गया तो देखा कि बेटे ने पंखे के हुक में चुन्नी के जरिये फंदा लगा रखा था, जिसके कारण उसकी मौत हो गई थी। बेटे की जेब से एक सुसाइड नोट मिला। इस बारे में पुलिस को सूचना दी। बुधवार दोपहर को डीएसपी रोहताश नागरिक अस्पताल पहुंचे और परिजनों से बातचीत की। डीएसपी रोहताश का कहना है कि शिकायत के आधार पर सतपाल, काला और अन्य के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने का केस दर्ज किया है। 

ये लिखा सुसाइड नोट में
मैंने मोटर नहीं खोली। पंचायत में मेरी बात का विश्वास नहीं किया। पंचायत मेंबर सतपाल और काला डेरी वाला और अन्य मेरी मौत के जिम्मेदार है। मां-पापा मुझे माफ करना।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।

खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?
विज्ञापन
विज्ञापन
सबसे विश्वसनीय Hindi News वेबसाइट अमर उजाला पर पढ़ें हर राज्य और शहर से जुड़ी क्राइम समाचार की
ब्रेकिंग अपडेट।
 
रहें हर खबर से अपडेट, डाउनलोड करें अमर उजाला हिंदी न्यूज़ APP अपने मोबाइल पर।
Amar Ujala Android Hindi News APP Amar Ujala iOS Hindi News APP
विज्ञापन
विज्ञापन
Election
एप में पढ़ें
जानिए अपना दैनिक राशिफल बेहतर अनुभव के साथ सिर्फ अमर उजाला एप पर
अभी नहीं

प्रिय पाठक

कृपया अमर उजाला प्लस के अनुभव को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।
डेली पॉडकास्ट सुनने के लिए सब्सक्राइब करें

क्लिप सुनें

00:00
00:00