काले हिरण बचाने को पकड़े जाएंगे शिकारी कुत्ते

Hisar Updated Sat, 22 Dec 2012 05:31 AM IST
फतेहाबाद। काले हिरणों व अन्य वन्य प्राणियों को शिकारी कुत्तों के हमलों से बचाने के लिए पीपल्स फॉर एनीमल के चिकित्सकाें के एक दल ने शुक्रवार को गांव बड़ोपल व अन्य क्षेत्रों का दौरा किया तथा आवारा कुत्तों को पकड़ने के लिए योजना बनाई।
पीएफए के निदेशक डा. अमित चौधरी ने अंतर राष्ट्रीय ह्यूमन सोसायटी के डा. सर्वजीत सिंह, डा. पीयूश पटेल, डा. सोहम मुखर्जी, डा. बोनी भट्टाचार्य, पशु चिकित्सक डॉ. नरेन्द्र ठकराल, डा. रचना ने संयुक्त रूप से शिकारी कुत्तों की बहुतायत वाले गांवों का दौरा कर कुत्तों को पकड़ने की रणनीति के बारे में विचार-विमर्श किया। डॉ. चौधरी ने कहा कि यह अभियान पीपल फॉर एनिमल व अंतर राष्ट्रीय ह्यूमन सोसायटी जिला प्रशासन के सहयोग से चलाएगा। उन्होंने बताया कि जिला के लगभग 26 गांवों में काले हिरणों व अन्य वन्य प्राणियों की संख्या काफी अधिक है। देखने में आया है कि इन इलाको में शिकारी कुत्तों की संख्या भी बढ़ गई है और इन कुत्ते ने काले हिरणों सहित अन्य वन्य प्राणियों को अपना शिकार बनाना शुरू कर दिया है। अनेक हमलों में काले हिरण मौत का शिकार हो चुके हैं। काले हिरणों व वन्य प्राणियों को बचाने के लिए आवारा कुत्तो को पकड़ने का विशेष अभियान चलाया जा रहा है। कुत्ताें की जनसंख्या पर अकुंश लगाने के लिए उनका बंदीकरण किया जाएगा। इसके लिए गांव बड़ोपल व भोड़िया के पशु अस्पताल में कुत्ताशाला बनाई जाएगी। कुत्तों को पकड़ने के लिए विशेषज्ञो की टीम बुलाई गई है। विशेष पिंजरो व जाल के माध्यम से कुत्तों को पकड़ा जाएगा और उन्हें बड़ोपल व भोडिया के पशु अस्पतालो में लाकर बंदीकरण किया जाएगा। इससे कुत्तों के भागने की क्षमता में कमी आएगी और इस प्रकार वन्य प्राणियों को कुत्तों के हमलों से बचाया जा सकेगा। उन्होंने बताया कि प्रथम चरण में एक हजार से दो हजार तक कुत्तों का बंदीकरण किया जाएगा।

Spotlight

Most Read

Lucknow

यूपी दिवस: प्रदेश को 25 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात, योगी बोले- आज का दिन गौरवशाली

यूपी दिवस के मौके पर प्रदेश को सरकार ने 25 हजार करोड़ करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। मुख्यमंत्री योगी ने आज के दिन को गौरवशाली बताया।

24 जनवरी 2018

Related Videos

हिमाचल चुनाव में सबसे अमीर उम्मीदवार ने डेब्यू चुनाव में ही दर्ज की बड़ी जीत

हिमाचल प्रदेश में बीजेपी ने पूर्ण बहुमत से सत्ता में वापसी की। वहीं कांग्रेस को प्रदेश में बुरी पराजय मिली है। बीजेपी और नरेंद्र मोदी की लहर में भी वीरभद्र सिंह के बेटे विक्रमादित्य ने बड़ी जीत हासिल की है।

18 दिसंबर 2017